Online real money card games

  1. Dağılımlı 3 Coins Egypt Kumarhanesi: Not a lover of all traditional casino games.
  2. Hvordan Bestemmes Resultatet I Avalon Gold - The Eagles Wings is an online slot with a fantastic appearance that can attract many slot lovers.
  3. Machines À Sous Aloha King Elvis En Asie: It's a part of who I am and there's no denying it.

Crypto gambling app

Bedste Onlinekasinoer Til At Spille Sweet Bonanza
This will also include a limit for both the maximum and the minimum a player has to deposit to claim a bonus.
Melyek A Különböző Fogadási Rendszerek Az Big Bass Splash Játékhoz?
The casino supports payments in currencies such as AUD, NZD, EUR, and AUD.
Under rules from the AU Gambling Commission, anyone who registers at a new online casino must verify their account.

Blackjack basic strategy 888

Gold Digger Online Casino Oyunları Indir
There are various options for cash out, such as.
Dépôt Maximum Du Casino Blue Wizard
In a nutshell, to find an Irish Champion Hurdle winner based on trends, you're looking for a Leopardstown winner, who is also a Grade 1 winner, has been around the block, and can stay beyond 2m up to 2m5f.
Milyen Bónuszok Érhetők El Az Monopoly Big Baller Online Játékhoz?

Connect with us

छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ से पूरी तरह खत्म होगा नक्सलवाद? गृह मंत्री अमित शाह ने तय की डेडलाइन

avatar

Published

on

इस बैठक में राज्य के मुख्यमंत्री, उपमुख्यमंत्रियों और केंद्रीय गृह सचिव, इंटेलिजेंस ब्यूरो के निदेशक, छत्तीसगढ़ के मुख्य सचिव, केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के महानिदेशक और छत्तीसगढ़ के पुलिस महानिदेशक सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी शामिल हुए. गृह मंत्री ने माना कि जम्मू-कश्मीर, उत्तर पूर्व और नक्सलवाद से
प्रभावित क्षेत्रों में सुरक्षा स्थिति में सुधार हुआ है.

केंद्रीय गृह मंत्री ने रविवार को छत्तीसगढ़ में वामपंथी उग्रवाद (एलडब्ल्यूई) की स्थिति की समीक्षा के लिए एक बैठक की अध्यक्षता की. यह बैठक रायपुर में हुई और इसमें राज्य के प्रमुख अधिकारी शामिल हुए. इस दौरान बताया गया कि राज्य में वामपंथी उग्रवाद से प्रभावित क्षेत्रों और हिंसा में बड़ी कमी आई है, जिससे विभिन्न क्षेत्रों में आंतरिक सुरक्षा स्थितियों में 75% की कमी आई है. इसके साथ ही अगले तीन वर्षों में के भीतर नक्सलवाद को खत्म करने की डेडलाइन तय की है.

इस बैठक में राज्य के मुख्यमंत्री, उपमुख्यमंत्रियों और केंद्रीय गृह सचिव, इंटेलिजेंस ब्यूरो के निदेशक, छत्तीसगढ़ के मुख्य सचिव, केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के महानिदेशक और छत्तीसगढ़ के पुलिस महानिदेशक सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी शामिल हुए. गृह मंत्री ने माना कि जम्मू-कश्मीर, उत्तर पूर्व और नक्सलवाद से प्रभावित क्षेत्रों में सुरक्षा स्थिति में सुधार हुआ है.

यह भी पढ़ें   बलौदाबाजार: कार ने बाइक को मारी टक्कर, दो की मौत

अमित शाह ने कहा कि मोदी सरकार अगले तीन साल के भीतर नक्सलवाद को खत्म करने के लिए प्रतिबद्ध है. उन्होंने कहा कि सशस्त्र बल विशेष अधिकार अधिनियम अब उत्तर पूर्व के लगभग 80% क्षेत्रों से हटा लिया गया है. केंद्रीय गृह मंत्री ने सुरक्षा बलों और केंद्रीय और राज्य, एजेंसियों के संयुक्त प्रयासों की सराहना की, जिससे मुख्य रूप से छत्तीसगढ़ के कुछ इलाकों में नक्सलवाद की समस्या को कम करने में , मदद मिली. उन्होंने अगले तीन वर्षों के भीतर नक्सलवाद गतिविधि को खत्म करने की आवश्यकता पर जोर दिया और राज्य पुलिस को व्यापक जांच सुनिश्चित करने, अभियोजन की बारीकी से निगरानी करने और खुफिया नेतृत्व वाले अभियान जारी रखने का निर्देश दिया.

यह भी पढ़ें   रायपुर-विशाखापट्टनम इकोनॉमिक कॉरिडोर के तहत 6-लेन रोड के लिए 1307 करोड़ 16 लाख मंजूर

उन्होंने मल्टी-एजेंसी सेंटर के माध्यम से साझा किए गए सभी इनपुट की समीक्षा के महत्व पर भी जोर दिया. केंद्रीय गृह मंत्री ने इन पहलों से स्थानीय आबादी को लाभ सुनिश्चित करने के लिए नक्सलवाद प्रभावित जिलों को केंद्र और राज्य सरकार की योजनाओं से संतृप्त करने की आवश्यकता पर प्रकाश डाला.

उन्होंने नक्सलवाद से प्रभावित जिलों में फंड के आवंटन और उपयोग में लचीलापन दिखाने की गृह मंत्रालय की आवश्यकता बताई. उन्होंने अधिकारों के संबंध में सभी स्थानीय शिकायतों को सावधानीपूर्वक और विचारशील तरीके से निपटाने की आवश्यकता को रेखांकित किया.

केंद्रीय गृह मंत्री के निर्देश के बाद केंद्रीय गृह सचिव ने अत्यधिक नक्सलवाद प्रभावित जिलों के कलेक्टरों और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों के साथ विस्तृत चर्चा की. इन प्रयासों के माध्यम से सरकार का लक्ष्य इन क्षेत्रों में शांति बहाल करना और विकास को बढ़ावा देना है.

छत्तीसगढ़

उप मुख्यमंत्री श्री अरुण साव लोक निर्माण विभाग के अभियंताओं के प्रशिक्षण में हुए शामिल

avatar

Published

on

सीएसआईआर-सीआरआरआई द्वारा सहायक अभियंताओं, अनुविभागीय अधिकारियों और उप अभियंताओं के लिए तीन दिवसीय प्रशिक्षण का आयोजन

रोड सेफ्टी ऑडिट और सड़क सुरक्षा से संबंधित विषयों पर दिया जा रहा प्रशिक्षण

बिलासपुर. 27 फरवरी 2024. उप मुख्यमंत्री अरुण साव आज सवेरे लोक निर्माण विभाग के अभियंताओं के प्रशिक्षण में शामिल हुए। रायपुर के सिविल लाइन स्थित नवीन विश्राम भवन में सीएसआईआर-सीआरआरआई द्वारा लोक निर्माण विभाग के सहायक अभियंताओं, अनुविभागीय अधिकारियों और उप अभियंताओं के लिए तीन दिवसीय प्रशिक्षण का आयोजन किया गया है। विभागीय अभियंताओं को रोड सेफ्टी ऑडिट और सड़क सुरक्षा से संबंधित विषयों पर प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

उप मुख्यमंत्री तथा लोक निर्माण मंत्री अरुण साव ने तीन दिवसीय प्रशिक्षण के शुभारंभ सत्र को संबोधित करते हुए कहा कि सड़कें गुणवत्तापूर्ण होने के साथ ही सुरक्षित भी होने चाहिए। सड़कों के निर्माण के दौरान सुरक्षा संबंधी सभी उपायों और प्रावधानों का कड़ाई से पालन सुनिश्चित किया जाना चाहिए।

यह भी पढ़ें   चिकित्सा के क्षेत्र में शिक्षा और शोध को प्रोत्साहित करें विशेषज्ञ - राज्यपाल विश्वभूषण हरिचंदन

उन्होंने उम्मीद जताई कि विभाग के अभियंताओं के लिए यह प्रशिक्षण काफी उपयोगी होगा और वे रोड सेफ्टी ऑडिट तथा सड़क सुरक्षा की बारीकियों एवं व्यावहारिक व्यवस्थाओं को और ज्यादा बेहतर तरीके से जान-समझ पाएंगे। प्रमुख अभियंता के.के. पिपरी और वरिष्ठ विभागीय अधिकारी भी प्रशिक्षण के शुभारंभ सत्र में मौजूद थे।

उल्लेखनीय है कि देश में बढ़ती दुर्घटनाओं और उनमें मरने वालों की अत्यधिक संख्या को देखते हुए सर्वोच्च न्यायालय ने रोड कमेटी ऑन रोड सेफ्टी का गठन किया है। सड़क दुर्घटनाओं के अन्य कारणों के साथ सड़क निर्माण में होने वाली त्रुटियां भी महत्वपूर्ण कारण हैं। सर्वोच्च न्यायालय ने दुघर्टनाओं में कमी लाने के लिए सड़कों के निर्माण व संधारण के लिए जिम्मेदार एजेंसियों को उचित प्रशिक्षण के निर्देश दिए हैं।

यह भी पढ़ें   मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों को जन्माष्टमी की दी बधाई

इसके परिपालन में लोक निर्माण विभाग के सहायक अभियंताओं, अनुविभागीय अधिकारियों एवं उप अभियंताओं के लिए सी.आर.आर.आई., नई दिल्ली के माध्यम से यह प्रशिक्षण आयोजित किया गया है। विभाग के 55 सहायक अभियंताओं/अनुविभागीय अधिकारियों और 95 उप अभियंताओं को इसमें प्रशिक्षित किया जाएगा। प्रशिक्षु अभियंताओं को फील्ड विजिट भी कराया जाएगा।

Continue Reading

छत्तीसगढ़

ईवीएम मशीनों के प्रदर्शन को मिल रहा अच्छा response रिस्‍पॉन्‍स्‌

avatar

Published

on

प्रतिदिन सैकड़ों लोग समझ रहे कार्य प्रणाली

बिलासपुर, 27 फरवरी/भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार आगामी लोकसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए जिला निर्वाचन कार्यालय सहित सभी तहसील कार्यालयों में ईवीएम मशीन का प्रदर्शन किया जा रहा है। प्रतिदिन बड़ी संख्या में लोग इसका अवलोकन का इसकी कार्य प्रणाली से अवगत हो रहे हैं। जिला निर्वाचन कार्यालय में इसके लिए दो कर्मचारियों की तैनाती की गई है।

प्रतिदिन सैकड़ों लोग मशीन को देखकर दिलचस्पी के साथ इसकी जानकारी ले रहे हैं। संपूर्ण मशीन का सेट इस प्रकार जमाया गया है कि जिस प्रकार मतदान के दौरान ईवीएम मशीन का उपयोग किया जाता है। मशीन के सेट में कंट्रोल यूनिट, बैलट यूनिट और वीपी पेट मशीन लगा हुआ है।

यह भी पढ़ें   छत्तीसगढ़ : पिता ने 12 साल की बेटी ने को जलाया जिंदा..

लोगों को पूरी प्रक्रिया की जानकारी इन कर्मचारियों द्वारा दी जाती है । लोकसभा चुनाव के मद्देनजर इन मशीनों का प्रदर्शन किया जा रहा है ताकि लोग मशीनों की जानकारी हासिल कर बेझिझक अपने मताधिकार का उपयोग कर सकें। कोई भी व्यक्ति कार्यालयीन समय में आकर मशीनों का अवलोकन कर प्रक्रिया समझ सकते हैं।

Continue Reading

छत्तीसगढ़

सुने मकान का ताला तोड़कर चोरी करने वाले आरोपी चोर को रतनपुर पुलिस द्वारा चंद घंटो में किया गया गिरफतार

avatar

Published

on

सोने- चाँदी के जेवर, टी.व्ही., रिसीवर, आधार कार्ड, भूमि संबंधी दस्तावेज, आयुष्मान कार्ड, बैंक पासबुक, नगदी रकम 21900 रूपये कुल कीमती 67900 रूपये।
गिरफ्तार आरोपी- विश्राम प्रसाद धीवर पिता गेंदराम धीवर उम्र 38 वर्ष निवासी मोहतराई थाना रतनपुर

मामले का संक्षिप्त विवरण इस प्रकार है कि दिनाँक 25/02/2024 को प्रार्थी रामचन्द्र धीवर निवासी मोहतराई का थाना उपस्थित आकर रिपोर्ट दर्ज कराया कि दिनाँक 15/02/2024 को प्रार्थी अपने घर में ताला लगाकर रिश्तेदार के घर में शादी कार्यक्रम में ग्राम पोंड़ी थाना सीपत चला गया था। दिनाँक 25/02/2024 को प्रार्थी का लड़का जो अलग रहता है, वह प्रार्थी को फोन कर बताया कि घर का ताला टुटा पड़ा है।

यह भी पढ़ें   रायपुर-विशाखापट्टनम इकोनॉमिक कॉरिडोर के तहत 6-लेन रोड के लिए 1307 करोड़ 16 लाख मंजूर

तब प्रार्थी अपने घर वापस आकर देखा तो घर के अंदर रखे टीना के पेटी में रखे सोने- चाँदी के जेवर, टी.व्ही., रिसीवर, आधार कार्ड, भूमि संबंधी दस्तावेज, आयुष्मान कार्ड, बैंक पासबुक, व नगदी रकम 26500 रूपये को कोई अज्ञात व्यक्ति चोरी कर ले गया है। कि रिपोर्ट पर थाना रतनपुर में अपराध पंजीबद्ध कर त्वरित कार्यवाही करते हुये थाना प्रभारी रतनपुर के दिशा निर्देशन पर टीम गठित कर दिनाँक 26/02/2024 को संदेही विश्राम प्रसाद धीवर को अभिरक्षा में लेकर हिकमत अमली एवं कड़ाई से पुछताछ करने पर उक्त मशरूका को चोरी करना स्वीकार किया तथा चोरी गये नगदी रकम मे से कुछ रकम खर्च करना बताने से आरोपी को गिरफ्तार किया गया है।

यह भी पढ़ें   मुख्यमंत्री बघेल ने चीफ जस्टिस प्रशांत कुमार मिश्रा की माता के निधन पर गहरा दुख प्रकट किया

उक्त कार्यवाही में थाना प्रभारी रतनपुर देवेश सिंह राठौर, सउनि चन्द्रकांत डहरिया, प्र.आर. सत्यप्रकाश यादव आर. अजय भारद्वाज, कीर्ति पैकरा, आशीष राठौर, रूपचंद धलेन्द्र की विशेष भूमिका रही।

Continue Reading
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

Trending