Justice department opinion could threaten online gambling

  1. Pourquoi Choisir Wolf Gold Plutôt Que D'autres Jeux De Casino?: If its your lucky day, you could end up winning that coveted progressive jackpot prize.
  2. Hvordan Kan Jeg Finde De Bedste Mental Casino Spil, Der Er Tilgængelige I Øjeblikket - A player shall have only one interactive gaming account for each interactive gaming certificate holder or interactive gaming operator licensee.
  3. Jaká Je Maximální Výplata Za Hry Hell Mania: The more CP you accumulate, the higher up the rewards levels you climb.

Rakeback poker online

¿Hay Alguna Forma De Jugar A Nft Megaways Sin Conexión?
We also collect, use and share Aggregated Data such as statistical or demographic data.
Histoire Et Contexte Du Jeu De Casino Viva Las Vegas
The company's struggles continue as the operator stock value has dropped to a record low.
If you have any concerns about playing online or making transactions, the All pokies site will be able to keep you safe.

Crypto Casino dealer tips

Big Bass Bonanza Casino Aankooplimiet
These are the most excellent slot game available online.
Quels Sont Les Avantages D'être Un Gros Joueur Dans Le Jeu Luxor Gold Hold And Win Au Casino?
When I arrived at Jackpot Village Casino, I found myself looking out from quite a height over a sparkling modern city.
Quelles Sont Les Méthodes De Retrait Du Casino Spaceman?

Connect with us

क्राइम

Weekly Leave To Policemen: छत्तीसगढ़ में पुलिसकर्मियों को मिलेगा वीकली ऑफ, पुलिस का नाम सुनते ही अब थर्राएंगे अपराधी, मुख्यमंत्री का निर्देश

avatar

Published

on

Weekly Leave To Policemen

रायपुर। Weekly Leave To Policemen छत्तीसगढ़ सरकार ने प्रदेश के पुलिसकर्मियों को बड़ी खुशखबरी दी है. गृह मंत्री विजय शर्मा ने पुलिसकर्मियों को साप्ताहिक अवकाश देने का निर्णय लिया है.

छत्तीसगढ़ में बढ़ते अपराध को देखते हुए डिप्टी सीएम विजय शर्मा ने पुलिस विभाग की पहली बैठक ली। उन्होंने इस बैठक में प्रदेश में बढ़ रहे अपराध को रोकने के सख्त निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि पुलिस ऐसे कार्य करें जिसमें जनता में विश्वास और पुलिस का नाम सुनते ही अपराधी थर्राए।

उप मुख्यमंत्री एवं गृह मंत्री विजय शर्मा ने पुलिस मुख्यालय,नवा रायपुर में वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों की समीक्षा बैठक ली। उन्होंने विभाग के प्रशासन शाखा, योजना, प्रबंध शाखा और अपराध शाखा सहित अन्य विभागीय कार्यों की समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने कहा कि शासन की ओर से बनाए गए कानून व्यवस्था का अच्छे तरीके से पालन करते हुए आमजनों को समय पर न्याय दिलाना सुनिश्चित करें। प्रदेश में तेजी से बढ़ते साइबर क्राइम के लिए पुलिस आधुनिकीकरण के लिए अन्य राज्यों के सफल मॉडल का अध्ययन कर कार्य योजना बनाने कहा गया है।

यह भी पढ़ें   सेहत: Vitamin B12 की कमी होने पर नजर आते हैं ये लक्षण, इसकी कमी दूर करने के लिए डाइट में शामिल करें ये फूड्स

बैठक में पुलिस महानिदेशक अशोक जुनेजा और अन्य वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने विभिन्न शाखाओं से संबंधित अद्यतन जानकारी से गृह मंत्री को अवगत कराया। डिप्टी सीएम शर्मा ने समीक्षा के दौरान नशीले पदार्थों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए विशेष सेल बनाने की बात कही है। पुलिस, ड्रग कंट्रोलर एवं नॉरकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के मध्य उच्च स्तरीय समन्वय स्थापित कर नशीले पदार्थों के खिलाफ कार्रवाई किए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने आधारभूत पुलिसिंग को मजबूत करने कहा।

उन्होंने प्रदेश की कानून व्यवस्था की भी समीक्षा की और प्रो-एक्टिव पुलिसिंग करने साथ ही छोटी सी छोटी घटनाओं एवं अपराधों में कम से कम समय में कार्रवाई पूरा करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि पुलिस विभाग में भर्ती की प्रक्रिया की पूरी समय सारिणी तय कर समय-सीमा में नियुक्ति करने कहा। शर्मा ने पुलिस विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों को जल्द से जल्द विभाग के कर्मचारियों के आवास एवं अधोसंरचना के संबंध में कार्य योजना तैयार कर प्रस्तुत करने के भी निर्देश दिए गए।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

क्राइम

हिन्दू देवी-देवताओं पर आपत्तिजनक टिप्पणी कर रील बनाने वाला अभियुक्त गिरफ्तार

avatar

Published

on

फिरोजाबाद, 23 फरवरी (हि.स.)। थाना रजावली पुलिस टीम ने शुक्रवार को सोशल मीडिया पर हिन्दू देवी-देवताओं के बारे में आपत्तिजनक पोस्ट करने वाले अभियुक्त को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने उसे जेल भेजा है।

सीओ टूंडला अनिमेश कुमार ने शुक्रवार को बताया कि वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सौरभ दीक्षित द्वारा जनपद में सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट, टिप्पणी करने वालों के विरुद्ध चलाये अभियान चलाया जा रहा है। इसी क्रम में वरिष्ठ उपनिरीक्षक थाना रजावली विकल सिंह ढाका पुलिस टीम के साथ क्षेत्र में गश्त पर थे तभी उन्होंने सूचना पर सोशल मीडिया प्लेटफार्म (इन्स्टाग्राम) पर हिन्दू देवी देवताओं के ऊपर आपत्तिजनक टिप्पणी करते हुए रील वायरल करने वाले अभियुक्त अंकित जाटव पुत्र मलखान सिंह निवासी ग्राम गोथुआ थाना रजावली को गिरफ्तार कर लिया।

यह भी पढ़ें   CG: नक्सल के कोर एरिया करीगुंडम में चला सर्चिंग ऑपरेशन

सीओ ने बताया कि गिरफ्तार अभियुक्त द्वारा अपने इंस्टाग्राम अकाउन्ट पर हिन्दू देवी-देवताओं के बारे में टिप्पणी करते हुये सोशल मीडिया पर वायरल किया गया था। जिसके सम्बन्ध में थाना रजावली पर मुकदमा पंजीकृत हुआ था आज अभियुक्त को गिरफ्तार कर आवश्यक विधिक कार्यवाही की गई है।

Continue Reading

क्राइम

गोवा मर्डर केस: जेल में बंद सूचना सेठ के बारे में आया नया अपडेट, वकील ने पुलिस की रिपोर्ट पर किया ये दावा

avatar

Published

on

गोवा (Goa) में सूचना सेठ नाम की एक महिला ने होटल के अंदर अपने ही चार साल के मासूम बेटे का बेरहमी से कत्ल कर दिया था. मामले में गिरफ्तारी होने के बाद से ही आरोपी और उसके घरवाले अदालत में ये साबित करने की कोशिश कर रहे हैं कि उसकी दिमागी हालत ठीक नहीं थी.

बता दें कि 15 फरवरी को गोवा पुलिस ने अदालत के समक्ष आरोपी की मेंटल असेसमेंट रिपोर्ट सौंपी थी, जिसमें कहा गया कि उसे कोई भी दिमागी बीमारी नहीं है. लेकिन अब सूचना सेठ के वकील, अरुण ब्रास डे सा (Arun Bras De Sa) ने कोर्ट के समक्ष दावा किया है कि सूचना सेठ मानसिक रूप से बीमार हैं और गोवा पुलिस द्वारा प्रस्तुत की गई उनकी मानसिक फिटनेस रिपोर्ट गलत है.

कोर्ट के सामने रखी ये मांग
सूचना सेठ के वकील ने कोर्ट से मांग की है कि उसके मानसिक स्वास्थ्य स्थिति की जांच करने के लिए मनोचिकित्सकों का एक मेडिकल बोर्ड गठित किया जाना चाहिए. इस बीच सरकारी वकील ने उनके बयान पर आपत्ति जताते हुए कहा कि मानसिक तौर पर सेठ पूरी तरह से स्वस्थ हैं.

यह भी पढ़ें   जगदलपुर : चिटफण्ड कंपनियों में निवेश करने वाले निवेशकों के धन वापसी कार्य हेतु 06 अगस्त तक कर सकते है आवेदन

सूचना सेठ ने कैसे की थी बेटे की हत्या

सूचना सेठ अपने चार साल के बेटे के साथ तीन दिन के लिए गोवा घूमने गई थी. उसने बेंगलुरु से फ्लाइट पकड़ी थी. तीन दिन अलग-अलग जगह घूमने के बाद उसने एक होटल के कमरे में अपने बेटे की हत्या कर दी. गिरफ्तार होने के बाद सूचना ने पुलिस को यह भी बताया कि वह अपना हाथ काटकर आत्महत्या करना चाहती थी, लेकिन फिर मन बदल गया. हत्या करने के बाद उसने रात एक बजे 30 हजार रुपये में कैब करके होटल से बेंगलुरू के लिए निकल गई. अगली सुबह कमरे में खून मिलने पर मैनेजर ने कलिंगुट थाने की पुलिस को सूचना दी.
पुलिस ने सूचना को लेकर गए कैब के ड्राइवर को फोन करके कार को नजदीकी थाने में ले जाने को कहा. इसके बाद ड्राइवर ने कर्नाटक के चित्रदुर्ग इलाके के आईमंगला पुलिस स्टेशन में गाड़ी रोककर वहां के पुलिसकर्मियों की गोवा पुलिस से बात कराई. गोवा पुलिस ने महिला के सामान की तलाशी लेने को कहा और इनोवा कार में रखे बैग की तलाशी के दौरान उसमें बच्चे की लाश मिली. इसके बाद पुलिस ने सूचना सेठ को गिरफ्तार कर लिया.

यह भी पढ़ें   CG: नक्सल के कोर एरिया करीगुंडम में चला सर्चिंग ऑपरेशन

सूचना सेठ कौन है?

गोवा के एक होटल में अपने ही मासूम बेटे की हत्या करने वाली सूचना सेठ आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एथिक्स एक्सपर्ट, डेटा साइंटिस्ट और स्टार्टअप कंपनी माइंडफुल एआई लैब की फाउंडर और सीईओ है. दूसरी तरफ सूचना के पति के वकील का दावा है कि उसका स्टार्टअप अस्तित्व में ही नहीं है.

Continue Reading

क्राइम

Surat: प्रेम जाल में मकान मालिक को फंसाया. प्रेमी के साथ मिलकर चुराए 96 लाख रुपये, बंटी-बबली गिरफ्तार

avatar

Published

on

सूरत शहर के चौक बाजार पुलिस थाना क्षेत्र अंतर्गत रहने वाले दिलीप उकानी को किराएदार महिला से प्यार करना भारी पड़ गया था. किराएदार दो बच्चों की मां ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर दिलीप उकानी के घर से करीब 96 लाख रुपए लेकर रफू चक्कर हो गई थी.

इस मामले में चौक बाजार पुलिस ने केस दर्ज किया था. मामले की जांच के बाद पुलिस ने लाखों रुपए चुराने वाले बंटी और बबली को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने उनके पास से चोरी की गई रकम में से 70 लाख 50 हजार रुपये बरामद भी कर लिए हैं.

सूरत की चौक बाजार थाना पुलिस ने बताया कि 31 जनवरी 2023 को थाना क्षेत्र के तहत आने वाले सिद्धिविनायक अपार्टमेंट से 96 लाख 44 हजार रुपयों से भरे दो बैग चोरी होने की शिकायत मिली थी. मामले की जांच के बाद पुलिस ने जयश्री बेन भगत और उसके प्रेमी शुभम मिशाल को गिरफ्तार किया है.

पहले से जयश्री को थी प्लॉट बिकने की जानकारी

दोनों ने मिलकर दिलीप उकानी के घर से चोरी की थी. उसके घर के नीचे ही ग्राउंड फ्लोर ये लोग किराए से रहते थे. दिलीप फर्स्ट फ्लोर पर अकेला रहता था. मकान के ऊपर-नीचे रहने वाले दिलीप और जयश्री भगत के बीच जान पहचान थी. लिहाजा, जयश्री बेन भगत को पता था कि दिलीप उकानी का लाखों रुपए की कीमत का एक प्लॉट बिकने वाला है.

यह भी पढ़ें   CG: नक्सल के कोर एरिया करीगुंडम में चला सर्चिंग ऑपरेशन

जयश्री बेन भगत ने दिलीप के साथ नजदीकियां बढ़ा लीं. उसने दिलीप से कहा था कि पति के साथ उसकी नहीं बनती है. वह दिलीप के साथ शादी कर उसके साथ रहने के लिए तैयार है. जयश्री बेन भगत की चिकनी चुपड़ी बातों में दिलीप आ गया था और फिर दोनों साथ-साथ रहने लगे थे. इस बीच कभी-कभी जयश्री भगत का प्रेमी शुभम भी उससे मिलने-जुलने आया करता था. इस बात को लेकर दिलीप ने जयश्री भगत के साथ नाराजगी भी जाहिर की थी.

घर में कैश की जानकारी प्रेमी को देकर बनाया प्लान

23 जनवरी 2023 को दिलीप के प्लॉट का सौदा हो गया था. प्लॉट बिकने के बाद दिलीप को मिले 96 लाख 44 हजार रुपए दो बैग में भरकर रख दिए थे. इन पैसों को हड़प करने के लिए 31 जनवरी को जयश्री बेन भगत ने अपने प्रेमी शुभम मिशाल के साथ प्लान बनाया.

जयश्री भगत ने दिलीप उकानी से कहा कि उसके पति के साथ उसकी नही बनती है, तो अपने दोनों बच्चो को उसके पास छोड़ कर आते हैं. जयश्री बेन भगत की बात पर दिलीप राजी हो गया. इसके बाद दोनों बच्चों को उसके पति के पास छोड़ने के लिए ऑटो में सवार होकर दिलीप और जयश्री निकल गए थे.

घर पहुंचकर दिलीप को चोरी का लगा पता

यह भी पढ़ें   Gadar 2 Box Office Day 7: ‘गदर 2’ सात दिनों में बॉक्स ऑफिस पर लाई भूचाल, अब 300 करोड़ क्लब में करेगी एंट्री

इसी बीच प्लान के मुताबिक, जयश्री भगत ने इस बीच अपने प्रेमी शुभम को दिलीप के घर से नोटों से भरे बैग चुरा ले जाने के लिए कहा था. उधर, जब दिलीप जयश्री के दोनों बच्चों को उनके पिता के पास छोड़कर वापस लौटा, तो जयश्री वहां नहीं मिली. जब उसने जयश्री को फोन लगाया, तो उसने दिलीप का फोन भी नहीं उठाया. दिलीप को लगा कि कुछ गड़बड़ है. वह दौड़ते हुए अपने घर पहुंचा, जहां नोटों से भरे बैग रखे थे. वहां जाकर उसे पता चला कि घर से नोटों के बैग गायब हैं.

सीसीटीवी में नोटों का बैग ले जाते दिखा प्रेमी शुभम

दिलीप ने आस-पास के सीसीटीवी खंगाले, तो टोपी पहने एक शख्स शुभम का नोटों से भरा बैग ले जाता हुआ नजर आया. इसके बाद 31 जनवरी को दिलीप ने चौक बाजार पुलिस थाने में यह मामला दर्ज करवाया था. पुलिस की टीम ने बंटी-बबली की तफ्तीश शुरू कर दी. डीसीपी भगीरथ गढ़वी ने बताया कि इस बीच पुलिस को जानकारी मिली कि दोनों आरोपी सूरत आ रहे हैं. इस जानकारी के आधार पर इन दोनों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. दोनों के पास से चोरी किए गए 96 लाख 44 हजार रुपयों में से 70 लाख 50 हजार रुपये बरामद भी कर लिए गए हैं.

Continue Reading
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

Trending