Am I eligible to receive crypto casino bonuses

  1. Hoe Krijg Je Winnende Combinaties In Het Minesweeper-Spel?: Any numbers that are researched are likely to be superseded almost immediately.
  2. Hogyan Lehet Pénzt Nyerni Az Gates Of Olympus Játékokban - Markets normally open on the Monday afternoon prior to the race weekend and the race weekend begins on Friday with two very informative practice sessions.
  3. Cosa Significa Il Termine "Fruit Shop" Nel Gioco Fruit Shop?: These blackjack casinos Australia has to offer all feature 21 games for real money.

Blackjack pinoy

Jouez À Lucky 7 Avec Un Jackpot Progressif Pouvant Atteindre Des Dizaines De Milliers D'euros
You can play pokies, blackjack, roulette, baccarat, craps, video poker, keno, and live casino games.
Recenze Kasin Nabízejících Joker 27
Most likely, you have a AU bank account and that's all you need to get started.
World Poker Tour is an annual event that is held at Solaire Resort and Casino and consist of a 13-day poker tournament.

Crypto Casino internet promotion

Comment Éviter Les Tricheurs Et Les Arnaques En Jouant Au Jeu Temujin Treasures?
The wild symbols appear on any position of the reel during both the main and the re-spin mode.
Wie Vermeide Ich Es Bei Midas Golden Touch Online Zu Verlieren
Keep Melbourne to find out more about the latest Hard Rock Online Casino Promo Code.
Hvad Er Den Mest Profitable Indsatsmulighed I Christmas Big Bass Bonanza-Spillet

Connect with us

छत्तीसगढ़

मस्तूरी में भंवर गणेश मंदिर में स्थापित गरुड़ भगवान की मूर्ति एक बार फिर चोरी हो गई

avatar

Published

on

मस्तूरी में भंवर गणेश मंदिर में स्थापित गरुड़ भगवान की मूर्ति एक बार फिर चोरी हो गई । पांचवीं बार मूर्ति चोरी होने के पीछे इस मूर्ति के बेशकीमती होने की अफवाह है, हालांकि प्रतिमा खंडित होने के बाद इसकी कीमत बहुत कम हो चुकी है।

मल्हार के पास इटवा पाली गांव स्थित भंवर गणेश मंदिर में स्थापित भगवान गरुड़ की प्रतिमा एक बार फिर से चोरी हो गई है । कुछ समय पहले चोर सब्बल से मूर्ति को उखाड़ कर ले गए थे , जिस कारण से प्रतिमा खंडित हो गई थी। बाद में पुलिस ने मूर्ति चोरों को पकड़ते हुए प्रतिमा को बरामद किया था। एक बार फिर सोमवार तड़के करीब 5:30 बजे जब मंदिर में सेवक महेश केवट पहुंचे तो पाया कि मंदिर के दरवाजे का ताला टूटा हुआ है और गर्भ गृह में स्थापित भगवान गरुड़ की मूर्ति गायब है। तुरंत इसकी सूचना सरपंच और पुलिस को दी गई।

यह भी पढ़ें   भाजपा प्रदेश व्यापार प्रकोष्ठ द्वारा जनसम्पर्क कर भूपेश सरकार की ढाई वर्ष की नाकामियों को जनता के बीच रखा

दरअसल यहां प्राचीन प्रतिमा स्थापित होने के बावजूद सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम नहीं है। मल्हार और आसपास कई प्राचीन मंदिर है, जहां बेशकीमती प्रतिमाएं हैं, जिसमें से भंवर गणेश मंदिर में ग्रेनाइट से बना गरुड़ भगवान की मूर्ति भी है, लेकिन इसकी सुरक्षा पर्याप्त न होने से मूर्ति पांचवीं बार चोरी हो गई। आम लोगों में धारना है कि इस मूर्ति की कीमत करोड़ों रुपए में है। यही कारण है कि चोर बार-बार यहां से इस मूर्ति को चोरी का प्रयास करते हैं।

पहली बार 2004 में यह प्रतिमा चोरी चली गई। चोर इसे जिले से बाहर भी नहीं ले जा पाए और पुलिस ने प्रतिमा बरामद कर लिया। फिर अप्रैल 2006 में भी एक बार फिर से यह प्रतिमा चोरी हो गई। उस वक्त चोर गांव के पास ही प्रतिमा को छोड़कर भाग गए थे। 2007 में मूर्ति की एक बार और चोरी हुई ।

यह भी पढ़ें   Bilaspur: रामलला प्राण प्रतिष्ठा रामोत्सव आयोजित होंगे भव्य सांस्कृतिक कलेक्टर ने टीएल की बैठक में की लंबित मामलों की समीक्षा

26 अगस्त 2022 को चोरों ने सेवादार को देसी तमंचा दिखाकर बंधक बना लिया और फिर मूर्ति को सब्बल की मदद से उखाड़ कर ले गए। इस दौरान यह प्रतिमा खंडित भी हो गई। ऐतिहासिक और धार्मिक महत्व की इस प्रतिमा की ऊंचाई करीब 3 फीट और वजन 65 किलो है। पिछली बार इस प्रतिभा को उखाड़ कर ले जाने की कोशिश में प्रतिमा खंडित हो गई थी। इसी कारण से मूर्ति चोरों को मुंह मांगी कीमत नहीं मिल पाई और वे पुलिस के हत्थे चढ़ गए। इस बार भी प्रतिमा चोरी होने के बाद पुलिस के लिए मूर्ति चोरों को ढूंढना बड़ी चुनौती है ।

छत्तीसगढ़

उप मुख्यमंत्री श्री अरुण साव लोक निर्माण विभाग के अभियंताओं के प्रशिक्षण में हुए शामिल

avatar

Published

on

सीएसआईआर-सीआरआरआई द्वारा सहायक अभियंताओं, अनुविभागीय अधिकारियों और उप अभियंताओं के लिए तीन दिवसीय प्रशिक्षण का आयोजन

रोड सेफ्टी ऑडिट और सड़क सुरक्षा से संबंधित विषयों पर दिया जा रहा प्रशिक्षण

बिलासपुर. 27 फरवरी 2024. उप मुख्यमंत्री अरुण साव आज सवेरे लोक निर्माण विभाग के अभियंताओं के प्रशिक्षण में शामिल हुए। रायपुर के सिविल लाइन स्थित नवीन विश्राम भवन में सीएसआईआर-सीआरआरआई द्वारा लोक निर्माण विभाग के सहायक अभियंताओं, अनुविभागीय अधिकारियों और उप अभियंताओं के लिए तीन दिवसीय प्रशिक्षण का आयोजन किया गया है। विभागीय अभियंताओं को रोड सेफ्टी ऑडिट और सड़क सुरक्षा से संबंधित विषयों पर प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

उप मुख्यमंत्री तथा लोक निर्माण मंत्री अरुण साव ने तीन दिवसीय प्रशिक्षण के शुभारंभ सत्र को संबोधित करते हुए कहा कि सड़कें गुणवत्तापूर्ण होने के साथ ही सुरक्षित भी होने चाहिए। सड़कों के निर्माण के दौरान सुरक्षा संबंधी सभी उपायों और प्रावधानों का कड़ाई से पालन सुनिश्चित किया जाना चाहिए।

यह भी पढ़ें   महिलाओं के सशक्तिकरण में छत्तीसगढ़ है आगे...

उन्होंने उम्मीद जताई कि विभाग के अभियंताओं के लिए यह प्रशिक्षण काफी उपयोगी होगा और वे रोड सेफ्टी ऑडिट तथा सड़क सुरक्षा की बारीकियों एवं व्यावहारिक व्यवस्थाओं को और ज्यादा बेहतर तरीके से जान-समझ पाएंगे। प्रमुख अभियंता के.के. पिपरी और वरिष्ठ विभागीय अधिकारी भी प्रशिक्षण के शुभारंभ सत्र में मौजूद थे।

उल्लेखनीय है कि देश में बढ़ती दुर्घटनाओं और उनमें मरने वालों की अत्यधिक संख्या को देखते हुए सर्वोच्च न्यायालय ने रोड कमेटी ऑन रोड सेफ्टी का गठन किया है। सड़क दुर्घटनाओं के अन्य कारणों के साथ सड़क निर्माण में होने वाली त्रुटियां भी महत्वपूर्ण कारण हैं। सर्वोच्च न्यायालय ने दुघर्टनाओं में कमी लाने के लिए सड़कों के निर्माण व संधारण के लिए जिम्मेदार एजेंसियों को उचित प्रशिक्षण के निर्देश दिए हैं।

यह भी पढ़ें   Bilaspur: थाना सिरगिटटी पुलिस द्वारा अवैध शराब पर की गई वैधानिक कार्यवाही

इसके परिपालन में लोक निर्माण विभाग के सहायक अभियंताओं, अनुविभागीय अधिकारियों एवं उप अभियंताओं के लिए सी.आर.आर.आई., नई दिल्ली के माध्यम से यह प्रशिक्षण आयोजित किया गया है। विभाग के 55 सहायक अभियंताओं/अनुविभागीय अधिकारियों और 95 उप अभियंताओं को इसमें प्रशिक्षित किया जाएगा। प्रशिक्षु अभियंताओं को फील्ड विजिट भी कराया जाएगा।

Continue Reading

छत्तीसगढ़

ईवीएम मशीनों के प्रदर्शन को मिल रहा अच्छा response रिस्‍पॉन्‍स्‌

avatar

Published

on

प्रतिदिन सैकड़ों लोग समझ रहे कार्य प्रणाली

बिलासपुर, 27 फरवरी/भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार आगामी लोकसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए जिला निर्वाचन कार्यालय सहित सभी तहसील कार्यालयों में ईवीएम मशीन का प्रदर्शन किया जा रहा है। प्रतिदिन बड़ी संख्या में लोग इसका अवलोकन का इसकी कार्य प्रणाली से अवगत हो रहे हैं। जिला निर्वाचन कार्यालय में इसके लिए दो कर्मचारियों की तैनाती की गई है।

प्रतिदिन सैकड़ों लोग मशीन को देखकर दिलचस्पी के साथ इसकी जानकारी ले रहे हैं। संपूर्ण मशीन का सेट इस प्रकार जमाया गया है कि जिस प्रकार मतदान के दौरान ईवीएम मशीन का उपयोग किया जाता है। मशीन के सेट में कंट्रोल यूनिट, बैलट यूनिट और वीपी पेट मशीन लगा हुआ है।

यह भी पढ़ें   CG: बच्चों का अश्लील वीडियो सोशल मीडिया में अपलोड करने के मामले में हुई गिरफ्तारी

लोगों को पूरी प्रक्रिया की जानकारी इन कर्मचारियों द्वारा दी जाती है । लोकसभा चुनाव के मद्देनजर इन मशीनों का प्रदर्शन किया जा रहा है ताकि लोग मशीनों की जानकारी हासिल कर बेझिझक अपने मताधिकार का उपयोग कर सकें। कोई भी व्यक्ति कार्यालयीन समय में आकर मशीनों का अवलोकन कर प्रक्रिया समझ सकते हैं।

Continue Reading

छत्तीसगढ़

सुने मकान का ताला तोड़कर चोरी करने वाले आरोपी चोर को रतनपुर पुलिस द्वारा चंद घंटो में किया गया गिरफतार

avatar

Published

on

सोने- चाँदी के जेवर, टी.व्ही., रिसीवर, आधार कार्ड, भूमि संबंधी दस्तावेज, आयुष्मान कार्ड, बैंक पासबुक, नगदी रकम 21900 रूपये कुल कीमती 67900 रूपये।
गिरफ्तार आरोपी- विश्राम प्रसाद धीवर पिता गेंदराम धीवर उम्र 38 वर्ष निवासी मोहतराई थाना रतनपुर

मामले का संक्षिप्त विवरण इस प्रकार है कि दिनाँक 25/02/2024 को प्रार्थी रामचन्द्र धीवर निवासी मोहतराई का थाना उपस्थित आकर रिपोर्ट दर्ज कराया कि दिनाँक 15/02/2024 को प्रार्थी अपने घर में ताला लगाकर रिश्तेदार के घर में शादी कार्यक्रम में ग्राम पोंड़ी थाना सीपत चला गया था। दिनाँक 25/02/2024 को प्रार्थी का लड़का जो अलग रहता है, वह प्रार्थी को फोन कर बताया कि घर का ताला टुटा पड़ा है।

यह भी पढ़ें   Bilaspur: थाना कोनी पुलिस टीम द्वारा निजात अभियान के तहत आबकारी एक्ट की कार्यवाही

तब प्रार्थी अपने घर वापस आकर देखा तो घर के अंदर रखे टीना के पेटी में रखे सोने- चाँदी के जेवर, टी.व्ही., रिसीवर, आधार कार्ड, भूमि संबंधी दस्तावेज, आयुष्मान कार्ड, बैंक पासबुक, व नगदी रकम 26500 रूपये को कोई अज्ञात व्यक्ति चोरी कर ले गया है। कि रिपोर्ट पर थाना रतनपुर में अपराध पंजीबद्ध कर त्वरित कार्यवाही करते हुये थाना प्रभारी रतनपुर के दिशा निर्देशन पर टीम गठित कर दिनाँक 26/02/2024 को संदेही विश्राम प्रसाद धीवर को अभिरक्षा में लेकर हिकमत अमली एवं कड़ाई से पुछताछ करने पर उक्त मशरूका को चोरी करना स्वीकार किया तथा चोरी गये नगदी रकम मे से कुछ रकम खर्च करना बताने से आरोपी को गिरफ्तार किया गया है।

यह भी पढ़ें   गौरेला-पेंड्रा-मरवाही: जिला अध्यक्ष के खिलाफ FIR दर्ज, इस मामले में नगर पंचायत CMO ने लगाए गंभीर आरोप

उक्त कार्यवाही में थाना प्रभारी रतनपुर देवेश सिंह राठौर, सउनि चन्द्रकांत डहरिया, प्र.आर. सत्यप्रकाश यादव आर. अजय भारद्वाज, कीर्ति पैकरा, आशीष राठौर, रूपचंद धलेन्द्र की विशेष भूमिका रही।

Continue Reading
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

Trending