Rivers cryptocurrency casino news

  1. Competir Com Outros Jogadores No Jogo Burning Classics?: Each Microgaming slot is unique, but some are just better.
  2. Πώς Μπορώ Να Κρατήσω Τα Κέρδη Στο Παιχνίδι Magic Spins; - Looking for a little more classical and old school casino games like Roulette, Casino Hold Em or maybe Live Blackjack.
  3. Welche Nachrichtenquellen Gibt Es Zum John Hunter And The Book Of Tut-Spiel: At Australian Poker, its all about the poker hands.

Play bingo online free

40 Chilli Fruits Flaming Edition Oyunu Ücretsiz Mi Oynanabilir
However, these reload bonuses are changed frequently.
¿La Historia Detrás Del Blue Wizard
These internet bookies might not be licensed and regulated in Switzerland but Swiss sports gamblers can rely on them to operate to the highest industry standards.
They also need to have alot more no deposit bonuses throughout the year.

Crypto Casino gambling internet online result search

Jaká Jsou Videa O Hře Joker Boom Plus
Now that you know a little bit about what Simbat software has to offer, we bet that you are keen to try out the games for yourself.
Jaké Jsou Věkové Limity Pro Hraní Hunter's Dream 2
Newbie, Bronze, Silver, Gold, Platinum, and Elite.
Frutz Peut-Il Être Joué Sur Un Appareil Mobile?

Connect with us

क्राइम

शादी की सालगिरह पर दंपति ने बनाया ‘मौत’ का खौफनाक प्लान, जानें फिर क्या हुआ?

avatar

Published

on

डूंगरपुर. गुजरात के ट्रेवल व्यापारी ने डूंगरपुर जिले के बिछीवाड़ा थाना इलाके में एक होटल में शादी की सालगिरह पर पत्नी के साथ सुसाइड करने प्लान बनाया. इसके बाद पहले पत्नी ने फंदे पर लटककर सुसाइड का प्रयास किया.

लेकिन सफल नहीं हुई तो पति ने गला दबाकर मार डाला. फिर पति ने भी दोनों हाथों की नसें काटकर जान देने की कोशिश की. इसके बाद वह डर गया और लहूलुहान पति बिछीवाड़ा थाने पहुंच गया. वहां उसने घटना को लेकर पूरा वाकया पुलिस को बताया. फिलहाल पुलिस घटना की जांच कर रही है. यह पूरी वारदात कर्ज की वजह हुई बताई जा रही है.

बिछीवाड़ा थाना पुलिस के अनुसार की मंगलवार को सुबह गुजरात के वडोदरा निवासी 32 वर्षीय अक्षय भाई सिखलीघर थाने पर पहुंचा. उसके दोनों हाथों की नसें कटी हुई होने के कारण वह लहूलुहान हालत में था. पुलिस उसकी हालत देखकर उसे बिछीवाड़ा अस्पताल लेकर गई. इसके बाद पुलिस ने उससे पूछताछ की. अक्षय भाई ने बताया की उसकी पत्नी ज्योति बेन सिकलीगर की लाश रतनपुर बॉर्डर के पास स्थित होटल रॉयल सैल्यूट के कमरा नंबर 702 में पड़ी है.

यह भी पढ़ें   Bilaspur: जुआ पर अंकुश लगाने तोरवा पुलिस ने चलाया अभियान जुआ खेलने वाले 03 आरोपी गिरफतार

इस पर पुलिस ने एक टीम को होटल के लिए रवाना किया गया. पुलिस पूछताछ में अक्षय ने बताया कि वह गुजरात में एक ट्रेवल एजेंसी चलाता है. लेकिन घाटे की वजह से परिवार परेशान था. 5 फरवरी को उसकी शादी की सालगिरह थी. इस पर दोनों पति पत्नी ने मिलकर सुसाइड का प्लान किया. इसके लिए दोनों रतनपुर बॉर्डर पर होटल में ठहरे. रात को होटल के कमरे में ही खाना मंगवाकर खा लिया. वही दोनों ने शादी की सालगिरह मनाने के बाद सुसाइड करने का प्रयास किया.

पत्नी ज्योति बेन ने पहले सुसाइड करने के लिए कहा. उसने फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या का प्रयास किया. लेकिन सफल नहीं हुई. इस पर अक्षय ने गला दबाकर पहले उसे मार दिया. इसके बाद उसने चाकू से खुद के दोनों हाथों की नसें काट ली. इससे खून बहने लगा. इसके बाद वह लहूलुहान हालत में ही थाने पर पहुंच गया. पुलिस जब होटल के कमरे में पहुंची ज्योति बेन की लाश पलंग पर पड़ी हुई मिली.

यह भी पढ़ें   मछली को तंग करने पर एक बिल्ली ने दूसरी को मारा तमाचा, 1 मिलियन से ज्यादा बार देखा गया ये मजेदार वीडियो

इसके बाद होटल से दोनों के आईडी कार्ड लिए गए. फिलहाल पुलिस ने होटल के कमरे को सील कर दिया है. घटना की सूचना पर डीएसपी तपेंद्र मीणा भी मौके पर पहुंचे. बांसवाड़ा से एफएसएल की टीम को बुलाया गया है. जांच के बाद ही मौत के वास्तविक कारणों का पता चल सकेगा.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

क्राइम

हिन्दू देवी-देवताओं पर आपत्तिजनक टिप्पणी कर रील बनाने वाला अभियुक्त गिरफ्तार

avatar

Published

on

फिरोजाबाद, 23 फरवरी (हि.स.)। थाना रजावली पुलिस टीम ने शुक्रवार को सोशल मीडिया पर हिन्दू देवी-देवताओं के बारे में आपत्तिजनक पोस्ट करने वाले अभियुक्त को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने उसे जेल भेजा है।

सीओ टूंडला अनिमेश कुमार ने शुक्रवार को बताया कि वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सौरभ दीक्षित द्वारा जनपद में सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट, टिप्पणी करने वालों के विरुद्ध चलाये अभियान चलाया जा रहा है। इसी क्रम में वरिष्ठ उपनिरीक्षक थाना रजावली विकल सिंह ढाका पुलिस टीम के साथ क्षेत्र में गश्त पर थे तभी उन्होंने सूचना पर सोशल मीडिया प्लेटफार्म (इन्स्टाग्राम) पर हिन्दू देवी देवताओं के ऊपर आपत्तिजनक टिप्पणी करते हुए रील वायरल करने वाले अभियुक्त अंकित जाटव पुत्र मलखान सिंह निवासी ग्राम गोथुआ थाना रजावली को गिरफ्तार कर लिया।

यह भी पढ़ें   Funny: लड़के ने गोलगप्पे खाने के लिए की ऐसी हरकत, वीडियो देख बन जाएगा आपका दिन

सीओ ने बताया कि गिरफ्तार अभियुक्त द्वारा अपने इंस्टाग्राम अकाउन्ट पर हिन्दू देवी-देवताओं के बारे में टिप्पणी करते हुये सोशल मीडिया पर वायरल किया गया था। जिसके सम्बन्ध में थाना रजावली पर मुकदमा पंजीकृत हुआ था आज अभियुक्त को गिरफ्तार कर आवश्यक विधिक कार्यवाही की गई है।

Continue Reading

क्राइम

गोवा मर्डर केस: जेल में बंद सूचना सेठ के बारे में आया नया अपडेट, वकील ने पुलिस की रिपोर्ट पर किया ये दावा

avatar

Published

on

गोवा (Goa) में सूचना सेठ नाम की एक महिला ने होटल के अंदर अपने ही चार साल के मासूम बेटे का बेरहमी से कत्ल कर दिया था. मामले में गिरफ्तारी होने के बाद से ही आरोपी और उसके घरवाले अदालत में ये साबित करने की कोशिश कर रहे हैं कि उसकी दिमागी हालत ठीक नहीं थी.

बता दें कि 15 फरवरी को गोवा पुलिस ने अदालत के समक्ष आरोपी की मेंटल असेसमेंट रिपोर्ट सौंपी थी, जिसमें कहा गया कि उसे कोई भी दिमागी बीमारी नहीं है. लेकिन अब सूचना सेठ के वकील, अरुण ब्रास डे सा (Arun Bras De Sa) ने कोर्ट के समक्ष दावा किया है कि सूचना सेठ मानसिक रूप से बीमार हैं और गोवा पुलिस द्वारा प्रस्तुत की गई उनकी मानसिक फिटनेस रिपोर्ट गलत है.

कोर्ट के सामने रखी ये मांग
सूचना सेठ के वकील ने कोर्ट से मांग की है कि उसके मानसिक स्वास्थ्य स्थिति की जांच करने के लिए मनोचिकित्सकों का एक मेडिकल बोर्ड गठित किया जाना चाहिए. इस बीच सरकारी वकील ने उनके बयान पर आपत्ति जताते हुए कहा कि मानसिक तौर पर सेठ पूरी तरह से स्वस्थ हैं.

यह भी पढ़ें   मेघालय-नागालैंड में आज नई सरकार का शपथ, PM मोदी समेत कई दिग्गज रहेंगे मौजूद

सूचना सेठ ने कैसे की थी बेटे की हत्या

सूचना सेठ अपने चार साल के बेटे के साथ तीन दिन के लिए गोवा घूमने गई थी. उसने बेंगलुरु से फ्लाइट पकड़ी थी. तीन दिन अलग-अलग जगह घूमने के बाद उसने एक होटल के कमरे में अपने बेटे की हत्या कर दी. गिरफ्तार होने के बाद सूचना ने पुलिस को यह भी बताया कि वह अपना हाथ काटकर आत्महत्या करना चाहती थी, लेकिन फिर मन बदल गया. हत्या करने के बाद उसने रात एक बजे 30 हजार रुपये में कैब करके होटल से बेंगलुरू के लिए निकल गई. अगली सुबह कमरे में खून मिलने पर मैनेजर ने कलिंगुट थाने की पुलिस को सूचना दी.
पुलिस ने सूचना को लेकर गए कैब के ड्राइवर को फोन करके कार को नजदीकी थाने में ले जाने को कहा. इसके बाद ड्राइवर ने कर्नाटक के चित्रदुर्ग इलाके के आईमंगला पुलिस स्टेशन में गाड़ी रोककर वहां के पुलिसकर्मियों की गोवा पुलिस से बात कराई. गोवा पुलिस ने महिला के सामान की तलाशी लेने को कहा और इनोवा कार में रखे बैग की तलाशी के दौरान उसमें बच्चे की लाश मिली. इसके बाद पुलिस ने सूचना सेठ को गिरफ्तार कर लिया.

यह भी पढ़ें   मिड डे मील में मीट-भात, बिरयानी… इस स्कूल में खूब परोसा जाता पौष्टिक भोजन

सूचना सेठ कौन है?

गोवा के एक होटल में अपने ही मासूम बेटे की हत्या करने वाली सूचना सेठ आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एथिक्स एक्सपर्ट, डेटा साइंटिस्ट और स्टार्टअप कंपनी माइंडफुल एआई लैब की फाउंडर और सीईओ है. दूसरी तरफ सूचना के पति के वकील का दावा है कि उसका स्टार्टअप अस्तित्व में ही नहीं है.

Continue Reading

क्राइम

Surat: प्रेम जाल में मकान मालिक को फंसाया. प्रेमी के साथ मिलकर चुराए 96 लाख रुपये, बंटी-बबली गिरफ्तार

avatar

Published

on

सूरत शहर के चौक बाजार पुलिस थाना क्षेत्र अंतर्गत रहने वाले दिलीप उकानी को किराएदार महिला से प्यार करना भारी पड़ गया था. किराएदार दो बच्चों की मां ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर दिलीप उकानी के घर से करीब 96 लाख रुपए लेकर रफू चक्कर हो गई थी.

इस मामले में चौक बाजार पुलिस ने केस दर्ज किया था. मामले की जांच के बाद पुलिस ने लाखों रुपए चुराने वाले बंटी और बबली को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने उनके पास से चोरी की गई रकम में से 70 लाख 50 हजार रुपये बरामद भी कर लिए हैं.

सूरत की चौक बाजार थाना पुलिस ने बताया कि 31 जनवरी 2023 को थाना क्षेत्र के तहत आने वाले सिद्धिविनायक अपार्टमेंट से 96 लाख 44 हजार रुपयों से भरे दो बैग चोरी होने की शिकायत मिली थी. मामले की जांच के बाद पुलिस ने जयश्री बेन भगत और उसके प्रेमी शुभम मिशाल को गिरफ्तार किया है.

पहले से जयश्री को थी प्लॉट बिकने की जानकारी

दोनों ने मिलकर दिलीप उकानी के घर से चोरी की थी. उसके घर के नीचे ही ग्राउंड फ्लोर ये लोग किराए से रहते थे. दिलीप फर्स्ट फ्लोर पर अकेला रहता था. मकान के ऊपर-नीचे रहने वाले दिलीप और जयश्री भगत के बीच जान पहचान थी. लिहाजा, जयश्री बेन भगत को पता था कि दिलीप उकानी का लाखों रुपए की कीमत का एक प्लॉट बिकने वाला है.

यह भी पढ़ें   कोरोना वैक्सीन लगवाएं 10 लाख रुपए पाएं! जानिए इस बंपर ऑफर के बारे में

जयश्री बेन भगत ने दिलीप के साथ नजदीकियां बढ़ा लीं. उसने दिलीप से कहा था कि पति के साथ उसकी नहीं बनती है. वह दिलीप के साथ शादी कर उसके साथ रहने के लिए तैयार है. जयश्री बेन भगत की चिकनी चुपड़ी बातों में दिलीप आ गया था और फिर दोनों साथ-साथ रहने लगे थे. इस बीच कभी-कभी जयश्री भगत का प्रेमी शुभम भी उससे मिलने-जुलने आया करता था. इस बात को लेकर दिलीप ने जयश्री भगत के साथ नाराजगी भी जाहिर की थी.

घर में कैश की जानकारी प्रेमी को देकर बनाया प्लान

23 जनवरी 2023 को दिलीप के प्लॉट का सौदा हो गया था. प्लॉट बिकने के बाद दिलीप को मिले 96 लाख 44 हजार रुपए दो बैग में भरकर रख दिए थे. इन पैसों को हड़प करने के लिए 31 जनवरी को जयश्री बेन भगत ने अपने प्रेमी शुभम मिशाल के साथ प्लान बनाया.

जयश्री भगत ने दिलीप उकानी से कहा कि उसके पति के साथ उसकी नही बनती है, तो अपने दोनों बच्चो को उसके पास छोड़ कर आते हैं. जयश्री बेन भगत की बात पर दिलीप राजी हो गया. इसके बाद दोनों बच्चों को उसके पति के पास छोड़ने के लिए ऑटो में सवार होकर दिलीप और जयश्री निकल गए थे.

घर पहुंचकर दिलीप को चोरी का लगा पता

यह भी पढ़ें   बिलासपुर: महिला थाना द्वारा दहेज प्रताड़ना के आरोपीयों को किया गया गिरफ़्तार

इसी बीच प्लान के मुताबिक, जयश्री भगत ने इस बीच अपने प्रेमी शुभम को दिलीप के घर से नोटों से भरे बैग चुरा ले जाने के लिए कहा था. उधर, जब दिलीप जयश्री के दोनों बच्चों को उनके पिता के पास छोड़कर वापस लौटा, तो जयश्री वहां नहीं मिली. जब उसने जयश्री को फोन लगाया, तो उसने दिलीप का फोन भी नहीं उठाया. दिलीप को लगा कि कुछ गड़बड़ है. वह दौड़ते हुए अपने घर पहुंचा, जहां नोटों से भरे बैग रखे थे. वहां जाकर उसे पता चला कि घर से नोटों के बैग गायब हैं.

सीसीटीवी में नोटों का बैग ले जाते दिखा प्रेमी शुभम

दिलीप ने आस-पास के सीसीटीवी खंगाले, तो टोपी पहने एक शख्स शुभम का नोटों से भरा बैग ले जाता हुआ नजर आया. इसके बाद 31 जनवरी को दिलीप ने चौक बाजार पुलिस थाने में यह मामला दर्ज करवाया था. पुलिस की टीम ने बंटी-बबली की तफ्तीश शुरू कर दी. डीसीपी भगीरथ गढ़वी ने बताया कि इस बीच पुलिस को जानकारी मिली कि दोनों आरोपी सूरत आ रहे हैं. इस जानकारी के आधार पर इन दोनों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. दोनों के पास से चोरी किए गए 96 लाख 44 हजार रुपयों में से 70 लाख 50 हजार रुपये बरामद भी कर लिए गए हैं.

Continue Reading
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

Trending