Crypto Casinos beat the odds

  1. Novos Jogos No Casino Nitropolis 4: Devils Lust payout percentage is 95%.
  2. Como Funcionam Os Jogos De Cassino Como O Liars Dice - Whether that be its inviting graphics, the fulfilling gameplay, the enjoyable animations or the inbuilt special features or perhaps the combination of all of these is more likely youre in for some complete entertainment with it.
  3. Neptune Rising Kumar Oyunu Için En Güvenilir Siteler Hangileridir: Hands of medium strength include J-10, Q-10, and K-10, as well as medium pairs such as 7-7, 8-8 and 9-9.

New law on slot machines 2023

Do I Have To Pay Taxes On Slingo Da Vinci Diamonds Winnings
A round arrow key launches standard spins.
Spin Spin Sugar Casino Minimumsudbetaling
In terms of customer service support, you can either contact them either through live chat or email.
Right from the get-go, users receive ten free spins merely for registering.

What does check call and raise mean in poker

Recenze Kasin Nabízejících Joker 27
Blackjack is a casino game with already fairly low house edge.
Πόσο Συχνά Συμβαίνουν Νίκες Στο Speakeasy;
If youre a casual bettor, chances are youll find what youre looking for at BetRivers.
Co Mám Dělat Když Se Nemohu Přihlásit Ke Svému Účtu Big Show Online

Connect with us

क्राइम

Mahadev Satta App Case: दम्मानी ब्रदर्स की जमानत याचिका पर कोर्ट ने सुरक्षित रखा फैसला

avatar

Published

on

Mahadev Satta App Case: बिलासपुर। महादेव ऐप मामले पर बुधवार को बिलासपुर हाईकोर्ट में सुनवाई हुई। हाई कोर्ट में हवाला कारोबारी सुनील और अनिल दम्मानी की जमानत याचिका पर सुनवाई हुई। हाईकोर्ट ने दोनों की जमानत याचिका पर सुनवाई पूरी कर फैसला सुरक्षित रखा है।

आपको बता दें कि इससे पहले महादेव सट्टा ऐप मामले में दोनों भाईयों को ईडी ने गिरफ्तार किया था। रायपुर की ईडी के स्पेशल कोर्ट से जमानत याचिका हुई खारिज थी, जिसके बाद हाई कोर्ट के जस्टिस एनके चंद्रवंशी की कोर्ट में जमानत पर सुनवाई हुई थी।

 

Chhattisgarh Keshri : Chhattisgarh News, Madhya Pradesh News, Chhattisgarh News Live , Madhya Pradesh News Live, Chhattisgarh News In Hindi, Madhya Pradesh In Hindi

यह भी पढ़ें   CG: इस जिले के पूर्व विधायक का निधन, रह चुके हैं BJP के प्रदेश उपाध्यक्ष
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

क्राइम

हिन्दू देवी-देवताओं पर आपत्तिजनक टिप्पणी कर रील बनाने वाला अभियुक्त गिरफ्तार

avatar

Published

on

फिरोजाबाद, 23 फरवरी (हि.स.)। थाना रजावली पुलिस टीम ने शुक्रवार को सोशल मीडिया पर हिन्दू देवी-देवताओं के बारे में आपत्तिजनक पोस्ट करने वाले अभियुक्त को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने उसे जेल भेजा है।

सीओ टूंडला अनिमेश कुमार ने शुक्रवार को बताया कि वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सौरभ दीक्षित द्वारा जनपद में सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट, टिप्पणी करने वालों के विरुद्ध चलाये अभियान चलाया जा रहा है। इसी क्रम में वरिष्ठ उपनिरीक्षक थाना रजावली विकल सिंह ढाका पुलिस टीम के साथ क्षेत्र में गश्त पर थे तभी उन्होंने सूचना पर सोशल मीडिया प्लेटफार्म (इन्स्टाग्राम) पर हिन्दू देवी देवताओं के ऊपर आपत्तिजनक टिप्पणी करते हुए रील वायरल करने वाले अभियुक्त अंकित जाटव पुत्र मलखान सिंह निवासी ग्राम गोथुआ थाना रजावली को गिरफ्तार कर लिया।

यह भी पढ़ें   सुप्रीम कोर्ट से केंद्र सरकार को बड़ा झटका, इस मामले में कोर्ट ने अवैध करार दिया

सीओ ने बताया कि गिरफ्तार अभियुक्त द्वारा अपने इंस्टाग्राम अकाउन्ट पर हिन्दू देवी-देवताओं के बारे में टिप्पणी करते हुये सोशल मीडिया पर वायरल किया गया था। जिसके सम्बन्ध में थाना रजावली पर मुकदमा पंजीकृत हुआ था आज अभियुक्त को गिरफ्तार कर आवश्यक विधिक कार्यवाही की गई है।

Continue Reading

क्राइम

गोवा मर्डर केस: जेल में बंद सूचना सेठ के बारे में आया नया अपडेट, वकील ने पुलिस की रिपोर्ट पर किया ये दावा

avatar

Published

on

गोवा (Goa) में सूचना सेठ नाम की एक महिला ने होटल के अंदर अपने ही चार साल के मासूम बेटे का बेरहमी से कत्ल कर दिया था. मामले में गिरफ्तारी होने के बाद से ही आरोपी और उसके घरवाले अदालत में ये साबित करने की कोशिश कर रहे हैं कि उसकी दिमागी हालत ठीक नहीं थी.

बता दें कि 15 फरवरी को गोवा पुलिस ने अदालत के समक्ष आरोपी की मेंटल असेसमेंट रिपोर्ट सौंपी थी, जिसमें कहा गया कि उसे कोई भी दिमागी बीमारी नहीं है. लेकिन अब सूचना सेठ के वकील, अरुण ब्रास डे सा (Arun Bras De Sa) ने कोर्ट के समक्ष दावा किया है कि सूचना सेठ मानसिक रूप से बीमार हैं और गोवा पुलिस द्वारा प्रस्तुत की गई उनकी मानसिक फिटनेस रिपोर्ट गलत है.

कोर्ट के सामने रखी ये मांग
सूचना सेठ के वकील ने कोर्ट से मांग की है कि उसके मानसिक स्वास्थ्य स्थिति की जांच करने के लिए मनोचिकित्सकों का एक मेडिकल बोर्ड गठित किया जाना चाहिए. इस बीच सरकारी वकील ने उनके बयान पर आपत्ति जताते हुए कहा कि मानसिक तौर पर सेठ पूरी तरह से स्वस्थ हैं.

यह भी पढ़ें   छत्तीसगढ़: कांग्रेस नेता और उसकी पत्नी की हत्या का मामला, आरोपियों का DNA टेस्ट कराएगी पुलिस

सूचना सेठ ने कैसे की थी बेटे की हत्या

सूचना सेठ अपने चार साल के बेटे के साथ तीन दिन के लिए गोवा घूमने गई थी. उसने बेंगलुरु से फ्लाइट पकड़ी थी. तीन दिन अलग-अलग जगह घूमने के बाद उसने एक होटल के कमरे में अपने बेटे की हत्या कर दी. गिरफ्तार होने के बाद सूचना ने पुलिस को यह भी बताया कि वह अपना हाथ काटकर आत्महत्या करना चाहती थी, लेकिन फिर मन बदल गया. हत्या करने के बाद उसने रात एक बजे 30 हजार रुपये में कैब करके होटल से बेंगलुरू के लिए निकल गई. अगली सुबह कमरे में खून मिलने पर मैनेजर ने कलिंगुट थाने की पुलिस को सूचना दी.
पुलिस ने सूचना को लेकर गए कैब के ड्राइवर को फोन करके कार को नजदीकी थाने में ले जाने को कहा. इसके बाद ड्राइवर ने कर्नाटक के चित्रदुर्ग इलाके के आईमंगला पुलिस स्टेशन में गाड़ी रोककर वहां के पुलिसकर्मियों की गोवा पुलिस से बात कराई. गोवा पुलिस ने महिला के सामान की तलाशी लेने को कहा और इनोवा कार में रखे बैग की तलाशी के दौरान उसमें बच्चे की लाश मिली. इसके बाद पुलिस ने सूचना सेठ को गिरफ्तार कर लिया.

यह भी पढ़ें   Bilaspur: क्षेत्र में अशांति फैलाने वालों के विरुद्ध सरकण्डा पुलिस की कार्यवाही

सूचना सेठ कौन है?

गोवा के एक होटल में अपने ही मासूम बेटे की हत्या करने वाली सूचना सेठ आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एथिक्स एक्सपर्ट, डेटा साइंटिस्ट और स्टार्टअप कंपनी माइंडफुल एआई लैब की फाउंडर और सीईओ है. दूसरी तरफ सूचना के पति के वकील का दावा है कि उसका स्टार्टअप अस्तित्व में ही नहीं है.

Continue Reading

क्राइम

Surat: प्रेम जाल में मकान मालिक को फंसाया. प्रेमी के साथ मिलकर चुराए 96 लाख रुपये, बंटी-बबली गिरफ्तार

avatar

Published

on

सूरत शहर के चौक बाजार पुलिस थाना क्षेत्र अंतर्गत रहने वाले दिलीप उकानी को किराएदार महिला से प्यार करना भारी पड़ गया था. किराएदार दो बच्चों की मां ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर दिलीप उकानी के घर से करीब 96 लाख रुपए लेकर रफू चक्कर हो गई थी.

इस मामले में चौक बाजार पुलिस ने केस दर्ज किया था. मामले की जांच के बाद पुलिस ने लाखों रुपए चुराने वाले बंटी और बबली को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने उनके पास से चोरी की गई रकम में से 70 लाख 50 हजार रुपये बरामद भी कर लिए हैं.

सूरत की चौक बाजार थाना पुलिस ने बताया कि 31 जनवरी 2023 को थाना क्षेत्र के तहत आने वाले सिद्धिविनायक अपार्टमेंट से 96 लाख 44 हजार रुपयों से भरे दो बैग चोरी होने की शिकायत मिली थी. मामले की जांच के बाद पुलिस ने जयश्री बेन भगत और उसके प्रेमी शुभम मिशाल को गिरफ्तार किया है.

पहले से जयश्री को थी प्लॉट बिकने की जानकारी

दोनों ने मिलकर दिलीप उकानी के घर से चोरी की थी. उसके घर के नीचे ही ग्राउंड फ्लोर ये लोग किराए से रहते थे. दिलीप फर्स्ट फ्लोर पर अकेला रहता था. मकान के ऊपर-नीचे रहने वाले दिलीप और जयश्री भगत के बीच जान पहचान थी. लिहाजा, जयश्री बेन भगत को पता था कि दिलीप उकानी का लाखों रुपए की कीमत का एक प्लॉट बिकने वाला है.

यह भी पढ़ें   सुप्रीम कोर्ट से केंद्र सरकार को बड़ा झटका, इस मामले में कोर्ट ने अवैध करार दिया

जयश्री बेन भगत ने दिलीप के साथ नजदीकियां बढ़ा लीं. उसने दिलीप से कहा था कि पति के साथ उसकी नहीं बनती है. वह दिलीप के साथ शादी कर उसके साथ रहने के लिए तैयार है. जयश्री बेन भगत की चिकनी चुपड़ी बातों में दिलीप आ गया था और फिर दोनों साथ-साथ रहने लगे थे. इस बीच कभी-कभी जयश्री भगत का प्रेमी शुभम भी उससे मिलने-जुलने आया करता था. इस बात को लेकर दिलीप ने जयश्री भगत के साथ नाराजगी भी जाहिर की थी.

घर में कैश की जानकारी प्रेमी को देकर बनाया प्लान

23 जनवरी 2023 को दिलीप के प्लॉट का सौदा हो गया था. प्लॉट बिकने के बाद दिलीप को मिले 96 लाख 44 हजार रुपए दो बैग में भरकर रख दिए थे. इन पैसों को हड़प करने के लिए 31 जनवरी को जयश्री बेन भगत ने अपने प्रेमी शुभम मिशाल के साथ प्लान बनाया.

जयश्री भगत ने दिलीप उकानी से कहा कि उसके पति के साथ उसकी नही बनती है, तो अपने दोनों बच्चो को उसके पास छोड़ कर आते हैं. जयश्री बेन भगत की बात पर दिलीप राजी हो गया. इसके बाद दोनों बच्चों को उसके पति के पास छोड़ने के लिए ऑटो में सवार होकर दिलीप और जयश्री निकल गए थे.

घर पहुंचकर दिलीप को चोरी का लगा पता

यह भी पढ़ें   बिलासपुर: लंबे समय से फरार दुष्कर्म का आरोपी गिरफ्तार

इसी बीच प्लान के मुताबिक, जयश्री भगत ने इस बीच अपने प्रेमी शुभम को दिलीप के घर से नोटों से भरे बैग चुरा ले जाने के लिए कहा था. उधर, जब दिलीप जयश्री के दोनों बच्चों को उनके पिता के पास छोड़कर वापस लौटा, तो जयश्री वहां नहीं मिली. जब उसने जयश्री को फोन लगाया, तो उसने दिलीप का फोन भी नहीं उठाया. दिलीप को लगा कि कुछ गड़बड़ है. वह दौड़ते हुए अपने घर पहुंचा, जहां नोटों से भरे बैग रखे थे. वहां जाकर उसे पता चला कि घर से नोटों के बैग गायब हैं.

सीसीटीवी में नोटों का बैग ले जाते दिखा प्रेमी शुभम

दिलीप ने आस-पास के सीसीटीवी खंगाले, तो टोपी पहने एक शख्स शुभम का नोटों से भरा बैग ले जाता हुआ नजर आया. इसके बाद 31 जनवरी को दिलीप ने चौक बाजार पुलिस थाने में यह मामला दर्ज करवाया था. पुलिस की टीम ने बंटी-बबली की तफ्तीश शुरू कर दी. डीसीपी भगीरथ गढ़वी ने बताया कि इस बीच पुलिस को जानकारी मिली कि दोनों आरोपी सूरत आ रहे हैं. इस जानकारी के आधार पर इन दोनों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. दोनों के पास से चोरी किए गए 96 लाख 44 हजार रुपयों में से 70 लाख 50 हजार रुपये बरामद भी कर लिए गए हैं.

Continue Reading
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

Trending