The best bitcoin cryptocurrency casino sites

  1. Dragons Gold Oynamak İçin En İyi Kullanıcı Arayüzüne Sahip Çevrimiçi Kumarhaneler: Instead of relying on search engine results, read our other guides and pick one of our most trusted casinos.
  2. So Holen Sie Das Beste Aus Ihren Gewinnen Im Money Train 3 Casino Heraus - If youre the romantic type, then the Lovefood online slot is perfect for you.
  3. Multiplay Hot Casino Ako Hrať Stud Poker?: So far, only a small number of players have had a go at this remarkable game, there have only been just over 28,000 spins of the wheel so far, its a world first, but we know that you like to know all the latest clever stuff.

Sandia pueblo cryptocurrency casino

Is Er Een Strategie Voor Het Starburst-Spel?
We recommend that you maintain the same amount of funds in your account as your initial deposit, even after playing many times.
Quais São Os Erros Comuns A Evitar Ao Jogar Lucky Jack Book Of Rebirth Egyptian Darkness?
In order to make an ecoPayz payment you need to have an existing account.
We offer diverse types of bonuses, with each of them being fully valid and ready to be used by gambling-loving slot spinners.

See poker players stats for free

Dracula Awakening Malé Stávky
You can take as many cards as you want, until you are satisfied or go bust.
Joker 5 Oyununda Hangi Bahis Türü Daha Avantajlıdır
Virgin Online Casino will get it all figured out by Friday, July 26 and place the bonus money you have earned in your account.
Spear Of Fire Casino Game Uitbetaling

Connect with us

छत्तीसगढ़

Indian captive in Oman : ‘पत्नी को ओमान में बंधक बना लिया है, बचा लें’, छत्तीसगढ़ी युवक की PM मोदी से गुहार

avatar

Published

on

Chhattisgarh Lady captive in Oman: रसोइया के काम के लिए छत्तीसगढ़ की यह महिला ओमान गई थी. पीड़ित पति का है कि बीवी को वहां पर बंधक बना लिया गया है.

Chhattisgarh Man Claimed Wife Captive In Oman: छत्तीसगढ़ की एक महिला को ओमान में कथित तौर पर बंधक बना लिया गया है. पीड़ित पति ने पत्नी को छुड़ाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मदद की गुहार लगाई है. दुर्ग जिले के जोगी मुकेश ने पत्नी दीपिका का वीडियो भी शेयर किया है, जिसमें वह मदद मांगती नजर आई और कहती दिखी कि उसे कहीं और बेचा जा सकता है. मुकेश के मुताबिक, वह रसोइया के लिए ओमान गई थी, जहां एंपलॉयर (काम देने वाले) ने उसे बंधक बना लिया. वह अब उसे रिहा करने के लिए 2 से 3 लाख रुपये मांग रहा है. यही वजह है कि पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है.

यह भी पढ़ें   Positive News: राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की सेवा भारती संस्था ने सिम्स मेडिकल कॉलेज ऑक्सिमीटर

समाचार एजेंसी पीटीआई ने पीड़ित मुकेश के हवाले से लिखा कि पत्नी पिछले साल मार्च में ओमान गई थी. वह भिलाई (दुर्ग) के व्यक्ति के जरिए हैदराबाद के एजेंट अब्दुल्ला के संपर्क में आई थी. एजेंट ने केरल से ओमान तक उसकी यात्रा की व्यवस्था की थी. मुकेश की मानें तो उन्हें (दंपति को) शुरू में ही बता दिया गया था कि पत्नी रसोइया के रूप में काम करेगी पर उसे घर का काम करने के लिए भी मजबूर किया गया. ऐसा 6-7 महीने तक चलता रहा.

महिला से होती है मारपीट- पति का आरोप
मुकेश का आरोप है, “पत्नी के साथ हाल ही में उसके मालिक ने मारपीट की थी. मैने इसके बाद उस महिला (एंप्लॉयर) से फोन पर बात की. कहा कि मेरी पत्नी को वापस भेज दो मगर उसने रिहाई के लिए 2 से 3 लाख रुपये की मांग रख दी. वह बोली कि उसने पुलिस से शिकायत की है. ऐसे में मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपील करता हूं कि वह पत्नी की भारत वापसी सुनिश्चित कराएं.”

यह भी पढ़ें   स्वर्गीय श्री सुभाष चंद्र केसरी जी की स्मृति में आयोजित अखिल भारतीय ड्यूज बॉल T20 क्रिकेट प्रतियोगिता का आज खेला गया पहला क्वार्टर फाइनल मैच, जानिए स्कोरबोर्ड

मामले पर पुलिस क्या बोली?
दुर्ग के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अभिषेक झा ने सोमवार (5 फरवरी, 2024) को बताया कि जोगी मुकेश ने शिकायत दी है कि उसकी पत्नी काम के सिलसिले में ओमान गई थी. वह उससे अब संपर्क नहीं कर पा रहा है. मामले को जिलाधिकारी के संज्ञान में लाया गया है जहां से राज्य सरकार के जरिए विदेश मंत्रालय को जानकारी दी गई है.

छत्तीसगढ़

उप मुख्यमंत्री श्री अरुण साव लोक निर्माण विभाग के अभियंताओं के प्रशिक्षण में हुए शामिल

avatar

Published

on

सीएसआईआर-सीआरआरआई द्वारा सहायक अभियंताओं, अनुविभागीय अधिकारियों और उप अभियंताओं के लिए तीन दिवसीय प्रशिक्षण का आयोजन

रोड सेफ्टी ऑडिट और सड़क सुरक्षा से संबंधित विषयों पर दिया जा रहा प्रशिक्षण

बिलासपुर. 27 फरवरी 2024. उप मुख्यमंत्री अरुण साव आज सवेरे लोक निर्माण विभाग के अभियंताओं के प्रशिक्षण में शामिल हुए। रायपुर के सिविल लाइन स्थित नवीन विश्राम भवन में सीएसआईआर-सीआरआरआई द्वारा लोक निर्माण विभाग के सहायक अभियंताओं, अनुविभागीय अधिकारियों और उप अभियंताओं के लिए तीन दिवसीय प्रशिक्षण का आयोजन किया गया है। विभागीय अभियंताओं को रोड सेफ्टी ऑडिट और सड़क सुरक्षा से संबंधित विषयों पर प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

उप मुख्यमंत्री तथा लोक निर्माण मंत्री अरुण साव ने तीन दिवसीय प्रशिक्षण के शुभारंभ सत्र को संबोधित करते हुए कहा कि सड़कें गुणवत्तापूर्ण होने के साथ ही सुरक्षित भी होने चाहिए। सड़कों के निर्माण के दौरान सुरक्षा संबंधी सभी उपायों और प्रावधानों का कड़ाई से पालन सुनिश्चित किया जाना चाहिए।

यह भी पढ़ें   भूपेश कैबिनेट के अहम फैसले, महिला स्व सहायता समूहों का कर्ज माफ, नई फिल्म पॉलिसी बनाने को मिली मंजूरी

उन्होंने उम्मीद जताई कि विभाग के अभियंताओं के लिए यह प्रशिक्षण काफी उपयोगी होगा और वे रोड सेफ्टी ऑडिट तथा सड़क सुरक्षा की बारीकियों एवं व्यावहारिक व्यवस्थाओं को और ज्यादा बेहतर तरीके से जान-समझ पाएंगे। प्रमुख अभियंता के.के. पिपरी और वरिष्ठ विभागीय अधिकारी भी प्रशिक्षण के शुभारंभ सत्र में मौजूद थे।

उल्लेखनीय है कि देश में बढ़ती दुर्घटनाओं और उनमें मरने वालों की अत्यधिक संख्या को देखते हुए सर्वोच्च न्यायालय ने रोड कमेटी ऑन रोड सेफ्टी का गठन किया है। सड़क दुर्घटनाओं के अन्य कारणों के साथ सड़क निर्माण में होने वाली त्रुटियां भी महत्वपूर्ण कारण हैं। सर्वोच्च न्यायालय ने दुघर्टनाओं में कमी लाने के लिए सड़कों के निर्माण व संधारण के लिए जिम्मेदार एजेंसियों को उचित प्रशिक्षण के निर्देश दिए हैं।

यह भी पढ़ें   CG: 50% क्षमता के साथ स्कूल खोलने का आदेश जारी

इसके परिपालन में लोक निर्माण विभाग के सहायक अभियंताओं, अनुविभागीय अधिकारियों एवं उप अभियंताओं के लिए सी.आर.आर.आई., नई दिल्ली के माध्यम से यह प्रशिक्षण आयोजित किया गया है। विभाग के 55 सहायक अभियंताओं/अनुविभागीय अधिकारियों और 95 उप अभियंताओं को इसमें प्रशिक्षित किया जाएगा। प्रशिक्षु अभियंताओं को फील्ड विजिट भी कराया जाएगा।

Continue Reading

छत्तीसगढ़

ईवीएम मशीनों के प्रदर्शन को मिल रहा अच्छा response रिस्‍पॉन्‍स्‌

avatar

Published

on

प्रतिदिन सैकड़ों लोग समझ रहे कार्य प्रणाली

बिलासपुर, 27 फरवरी/भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार आगामी लोकसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए जिला निर्वाचन कार्यालय सहित सभी तहसील कार्यालयों में ईवीएम मशीन का प्रदर्शन किया जा रहा है। प्रतिदिन बड़ी संख्या में लोग इसका अवलोकन का इसकी कार्य प्रणाली से अवगत हो रहे हैं। जिला निर्वाचन कार्यालय में इसके लिए दो कर्मचारियों की तैनाती की गई है।

प्रतिदिन सैकड़ों लोग मशीन को देखकर दिलचस्पी के साथ इसकी जानकारी ले रहे हैं। संपूर्ण मशीन का सेट इस प्रकार जमाया गया है कि जिस प्रकार मतदान के दौरान ईवीएम मशीन का उपयोग किया जाता है। मशीन के सेट में कंट्रोल यूनिट, बैलट यूनिट और वीपी पेट मशीन लगा हुआ है।

यह भी पढ़ें   स्वर्गीय श्री सुभाष चंद्र केसरी जी की स्मृति में आयोजित अखिल भारतीय ड्यूज बॉल T20 क्रिकेट प्रतियोगिता का आज खेला गया पहला क्वार्टर फाइनल मैच, जानिए स्कोरबोर्ड

लोगों को पूरी प्रक्रिया की जानकारी इन कर्मचारियों द्वारा दी जाती है । लोकसभा चुनाव के मद्देनजर इन मशीनों का प्रदर्शन किया जा रहा है ताकि लोग मशीनों की जानकारी हासिल कर बेझिझक अपने मताधिकार का उपयोग कर सकें। कोई भी व्यक्ति कार्यालयीन समय में आकर मशीनों का अवलोकन कर प्रक्रिया समझ सकते हैं।

Continue Reading

छत्तीसगढ़

सुने मकान का ताला तोड़कर चोरी करने वाले आरोपी चोर को रतनपुर पुलिस द्वारा चंद घंटो में किया गया गिरफतार

avatar

Published

on

सोने- चाँदी के जेवर, टी.व्ही., रिसीवर, आधार कार्ड, भूमि संबंधी दस्तावेज, आयुष्मान कार्ड, बैंक पासबुक, नगदी रकम 21900 रूपये कुल कीमती 67900 रूपये।
गिरफ्तार आरोपी- विश्राम प्रसाद धीवर पिता गेंदराम धीवर उम्र 38 वर्ष निवासी मोहतराई थाना रतनपुर

मामले का संक्षिप्त विवरण इस प्रकार है कि दिनाँक 25/02/2024 को प्रार्थी रामचन्द्र धीवर निवासी मोहतराई का थाना उपस्थित आकर रिपोर्ट दर्ज कराया कि दिनाँक 15/02/2024 को प्रार्थी अपने घर में ताला लगाकर रिश्तेदार के घर में शादी कार्यक्रम में ग्राम पोंड़ी थाना सीपत चला गया था। दिनाँक 25/02/2024 को प्रार्थी का लड़का जो अलग रहता है, वह प्रार्थी को फोन कर बताया कि घर का ताला टुटा पड़ा है।

यह भी पढ़ें   नाबालिक को बहला फुसलाकर ले जाकर शादी का झांसा देकर दुष्कर्म करने वाला आरोपी चढ़ा बेलगहना पुलिस की हत्थे

तब प्रार्थी अपने घर वापस आकर देखा तो घर के अंदर रखे टीना के पेटी में रखे सोने- चाँदी के जेवर, टी.व्ही., रिसीवर, आधार कार्ड, भूमि संबंधी दस्तावेज, आयुष्मान कार्ड, बैंक पासबुक, व नगदी रकम 26500 रूपये को कोई अज्ञात व्यक्ति चोरी कर ले गया है। कि रिपोर्ट पर थाना रतनपुर में अपराध पंजीबद्ध कर त्वरित कार्यवाही करते हुये थाना प्रभारी रतनपुर के दिशा निर्देशन पर टीम गठित कर दिनाँक 26/02/2024 को संदेही विश्राम प्रसाद धीवर को अभिरक्षा में लेकर हिकमत अमली एवं कड़ाई से पुछताछ करने पर उक्त मशरूका को चोरी करना स्वीकार किया तथा चोरी गये नगदी रकम मे से कुछ रकम खर्च करना बताने से आरोपी को गिरफ्तार किया गया है।

यह भी पढ़ें   छत्तीसगढ़: कंप्यूटर ऑपरेटर सहित इन पदों पर निकली भर्ती

उक्त कार्यवाही में थाना प्रभारी रतनपुर देवेश सिंह राठौर, सउनि चन्द्रकांत डहरिया, प्र.आर. सत्यप्रकाश यादव आर. अजय भारद्वाज, कीर्ति पैकरा, आशीष राठौर, रूपचंद धलेन्द्र की विशेष भूमिका रही।

Continue Reading
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

Trending