Online vegas cryptocurrency casino gambling

  1. Qu'est-Ce Que Le Casino En Direct Siberian Storm?: The majority of these bookies features an impressive selection of International casino games.
  2. Slingo Rainbow Riches Casino With Free Games - You can even use Bitcoin for both deposits and withdrawals.
  3. Yatzy Casino Spil Indskudsbonusser: Some are only available to new users, like a free bet sign-up bonus, and others are limited time offers for all customers.

2023 New year at the crypto casino

Comment Calculer Vos Gains Dans Monster Superlanche
Another interesting bonus mode is the games Snowstorm feature.
Hogyan Lehet Pénzt Nyerni Az Gates Of Olympus Játékokban
Mobile casino pleasure is ideal for players with dynamic lifestyle or those casino friends who do not have access to a computer at any time.
So, what did we consider when selecting the best mobile casinos listed on this page.

Crypto Casino the star

Como Faço Para Escolher Um Cassino Online Respeitável Para Jogar Os Jogos Do Mental?
These additional Wilds cannot trigger any features on the conveyor belt.
Hvad Er De Bedste Strategier Til Fruit Party-Gambling-Spillet
To summarize our WinTrillions Review Australia in short, we would definitely recommend this casino.
Moneda Para Wild Link Zeus En Casino

Connect with us

दन्तेवाड़ा (दक्षिण बस्तर)

Congress राज के घोटालेबाज IAS IPS पर कड़ी नजर, दंतेवाड़ा कलेक्टर विनीत नंदनवार मंत्रालय अटैच, कई और अफसर नपेंगे

avatar

Published

on

Congress raj's scamster IAS IPS under close watch

रायपुर: छत्तीसगढ़ की नई विष्णुदेव सरकार ने प्रदेश में बड़ी प्रशासनिक सर्जरी की है। सरकार के सामान्य प्रशासन विभाग ने 89 आईएएस के तबादले की लिस्ट जारी की है। इनमें कई जिलों के कलेक्टर और संभागायुक्त शामिल हैं। रायपुर के कलेक्टर्स सर्वेश्वर भूरे को छग निर्वाचन आयोग में सचिव के पद पर पदस्थ किया है तो वही 2013 बैच के आईएएस गौरव कुमार सिंह को राजधानी रायपुर का नया कलेक्टर बनाया गए हैं। बात करें कांग्रेसी राज में घोटालेबाज दंतेवाड़ा कलेक्टर विनीत नंदनवार की तो उन्हें दंतेवाड़ा से हटाते हुए मंत्रालय अटैच कर दिया गया है। कलेक्टरी छीने जाने के बाद उन्हें मंत्रालय में अटैच करते हुए संयुक्त सचिव बनाया गया हैं।

Maa Danteshwari Coridor Scam

बताया जा रहा हैं कि पिछले दिनों दंतेवाड़ा के
यह भी पढ़ें   महासमुंद में दर्दनाक हादसा, एक ही परिवार के दो लोगों की मौत

माँ दंतेश्वरी कॉरिडोर (Maa Danteshwari Coridor Scam) में करोड़ो रुपये की गड़बड़ी उजागर हुई थी जिसके बाद कलेक्टर पर यह कार्रवाई की गाज गिरी हैं। मामले के सामने आने के बाद उनपर कार्रवाई की तलवार लटक रही थी। वनमंत्री केदार कश्यप ने पूरे मामले की जाँच के बाद दोषी अफसरों के खिलाफ कार्रवाई की बात भी कही थी।

क्या हुआ था खेल

दरअसल दंतेवाड़ा में बीते कुछ दिनों दंतेश्वरी कॉरीडोर का निर्माण किया जा रहा है। इसी प्रोजेक्ट के तहत मंदिर के समक्ष डंकिनी नदी के तट पर रिटेनिंग वाल का निर्माण किया जा रहा है। डेढ सौ मीटर लंबी, चार मीटर उंची वाल का निर्माण किया जा रहा है। इसकी लागत 19 करोड 54 लाख रूपये हैं, लेकिन इस वाल का निर्माण चहेते ठेकेदार से करवाने आरईएस ने कार्य के 46 टुकडे कर दिये।

यह भी पढ़ें   CG Breaking: छत्तीसगढ़ में 1 नक्सली सहित 3 सहयोगी गिरफ्तार
आरईएस ने गोपनीय तरीके से टेंडर कराया और कृष्णा इंटरप्राईजेस का इसका वर्क आर्डर दे दिया। इस काम के 46 टुकडे इसलिये किये गये क्योंकि आरईएस के ईई के पास 50 लाख के अंदर ही कार्यों का तकनीकी स्वीकृति का अधिकार होता है। 19 करोड़ के इस कार्य का टेंडर एक साथ निकाला जा सकता था लेकिन इसके लिये फाईल उच्चाधिकारियों के पास भेजनी होती। उच्चाधिरियों को इसकी भनक न लगे, आरईएस के ईई आर के ठाकुर ने 50 लाख के अंदर के ही फाईल तैयार करवाये और कार्यादेश जारी कर दिया।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

Trending