How to calculate gambling bets

  1. Beloningen Voor Gewone Online Jane Hunter And The Mask Of Montezuma-Spelers: The IBAN is a show of our inventiveness and how creative we are.
  2. Was Ist Ein Rtp Im Bigger Bass Bonanza-Spiel - Players can look up a tornadobet bonus codes list right here, because we are constantly updating this list with the latest offers available.
  3. Πώς Λειτουργεί Το Something Fruity Σε Ένα Διαδικτυακό Καζίνο: It has been revealed that Playtech, one of the leading developers of online casino software, will no longer be offering its hugely popular Marvel Comics range of online slot games.

Adelaide cryptocurrency casino 4 fun

Quels Sont Les Forums En Ligne Les Plus Populaires Liés Au Jeu Crazy Cherry En Slovénie?
To advance to the next level, keep playing your favorite games in our casino.
Gems Bonanza Le Jeu De Casino Qui Fait Fureur En Ligne
Cyprus gamblers should pay attention to various cryptocurrencies available in this best online casino in Cyprus.
Compared to other bonus sign up and cash offers, like Go Wild Casino, this site offer is somewhat similar.

Online cryptocurrency casino no

Como Faço Para Fazer Uma Aposta No Jogo First Person Dream Catcher?
Uncomplicated gameplay allows you to quickly understand the basic functions, and immerse yourself in the gambling process of earning bonuses and prizes.
How Does The "Jackpot" Feature In Gorilla Kingdom Work
Entire books have been written on this subject, such is the trend for online poker players to chase a healthy return on playing low stakes poker in high volume.
¿Cómo Se Compara Legacy Of Dead En Línea Con El Juego En Persona

Connect with us

छत्तीसगढ़

CG: महाकाव्य रामायण के अरण्य-कांड पर होगा आधारित नृत्य नाटिका का विषय

avatar

Published

on

रायपुर। राष्ट्रीय रामायण महोत्सव 01 जून 03 जून तक रामलीला मैदान, रायगढ़, छत्तीसगढ़ में आयोजित होगा। यह एक प्रकार का प्रतियोगिता वाला कार्यक्रम होगा, इसलिए राज्यों से रामायण ‘झांकी प्रदर्शन‘ समूह के प्रतिनिधि मंडल को आमंत्रित किया गया है। नृत्यनाटिका का विषय महाकाव्य रामायण के अरण्यकाण्ड पर आधारित होगा। छत्तीसगढ़ राज्य धार्मिक व सांस्कृतिक विरासतों से समृद्ध एक ऐसा प्रदेश है, जिसका श्रीराम, माता कौशल्या व उनके जीवन चरित्र पर आधारित महाकाव्य रामायण से बहुत गहरा संबंध है।

छत्तीसगढ़ राज्य को श्रीराम की माता कौशल्या की जन्मभूमि होने का विशेष गौरव प्राप्त है। माता कौशल्या का जन्म तत्कालीन दक्षिण कोसल में हुआ था, जो वर्तमान छत्तीसगढ़ में है। माता कौशल्या को उनके उदार भाव, उनके ज्ञान व श्रीराम के प्रति उनके वात्सल्य भाव के लिये जाना जाता है, यही कारण है कि उन्हें मातृत्व भाव के प्रतीक के रूप में कई स्थानों पर पूजा जाता है, परंतु छत्तीसगढ़ राज्य एक मात्र ऐसा प्रदेश है जहां चन्द्रखुरी नामक स्थान पर माता कौशल्या को समर्पित मंदिर स्थापित है।भगवान राम ने अपने 14 वर्ष के वनवास के लगभग 10 वर्ष अधिकांशतः दण्डकारण्य में व्यतीत किये हैं एवं उक्त सभी स्थानों पर श्रीराम की उपस्थिति से संबंधित बहुत सी कथाएं प्रचलित हैं। मध्य भारत में स्थित छत्तीसगढ़ प्रदेश के वनक्षेत्र के संदर्भ में ऐसी धारणा है कि श्रीराम ने अपने वनवास अवधि का एक महत्वपूर्ण भाग यहां व्यतीत किया था, इसलिए इस क्षेत्र में श्रीराम को समर्पित बहुत से मंदिर एवं पवित्र स्थल स्थित हैं । यह क्षेत्र कई आदिवासी समुदायों का भी निवास स्थान माना जाता है, जिन्होंने सदियों से अपने पूर्वजों की परंपराओं व संस्कृति को सहेज कर रखा है।

यह भी पढ़ें   सेवानिवृत्त होने पर पुलिस अधिकारियों-कर्मचारियों को दी गई भावभीनी विदाई

श्रीराम ने छत्तीसगढ़ की दो सर्वाधिक महत्वपूर्ण नदियां शिवनाथ व महानदी के तट के निकट अपने वनवास का अधिकांश समय बिताया था।छत्तीसगढ़ में पहली बार आयोजित हो रहे राष्ट्रीय रामायण महोत्सव में सभी राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों के रामायण ‘झांकी प्रदर्शन समूह‘ को आमंत्रित किया गया है। राष्ट्रीय रामायण महोत्सव के अंतर्गत प्रतियोगी कार्यक्रम होंगे, जिसमें प्रस्तुत की जाने वाली नृत्य नाटिका का विषय महाकाव्य रामायण के अरण्य-कांड पर आधारित होगा। छत्तीसगढ़ की कला और संस्कृति की नगरी रायगढ़ के ऐतिहासिक रामलीला मैदान में राष्ट्रीय रामायण महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

छत्तीसगढ़

जिला पंचायत की बैठक अब 7 मार्च को

avatar

Published

on

बिलासपुर 2 मार्च 2024/जिला पंचायत की सामान्य सभा एवं सामान्य प्रशासन समिति की बैठक अब 7 मार्च को जिला पंचायत सभाकक्ष में रखी गई है। जिसकी अध्यक्षता जिला पंचायत अध्यक्ष श्री अरूण सिंह चौहान करेंगे। सामान्य सभा की बैठक दोपहर 12 बजे एवं सामान्य प्रशासन समिति की बैठक शाम 4.30 बजे होगी।

बैठक में विद्युत, वन, क्रेडा, कृषि, पशु पालन, उद्यानिकी, महिला एवं बाल विकास, स्वास्थ्य, एमएमजीएसवाय, पीएमजीएसवाय, जल संसाधन विभाग एवं शिक्षा विभाग, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन आदि के अंतर्गत चल रहे कार्यों की जानकारी, समीक्षा एवं अन्य विषयों पर चर्चा करेंगे। सामान्य प्रशासन समिति की बैठक में रीपा, एनआरएलएम, रूर्बन मिशन, स्वच्छ भारत मिशन, मनरेगा, अमृत सरोवर, गोधन न्याय योजना आदि की जानकारी एवं समीक्षा की जाएगी।

यह भी पढ़ें   छत्तीसगढ़: फिल्मकार अशोक चंद्राकर का निधन
Continue Reading

छत्तीसगढ़

रतनपुर माघी पूर्णिमा मेले के समापन में पहुंचे उप मुख्यमंत्री अरुण साव

avatar

Published

on

बिलासपुर, 2 मार्च /छत्तीसगढ़ की प्राचीन राजधानी रतनपुर जहां राजा महाराजाओं के समय से जो स्वर्णिम परंपराएं विकसित हुई थी उसका जीवंत रूप आज भी यहां देखने को मिलता है। उनमें से एक है रतनपुर का ऐतिहासिक माघी पूर्णिमा आदिवासी विकास मेला। सप्ताह भर तक चलने वाले इस मेले की शुरुआत 24 फरवरी से हुई थी और सात दिनों तक इंद्रधनुषी छटा बिखेरती इस मेले के समापन समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में छ. ग शासन के उप मुख्यमंत्री अरुण साव व विशिष्ट अतिथि बेलतरा विधायक सुशांत शुक्ला की उपस्थिति में सम्पन्न हुआ।

रतनपुर मांघी पूर्णिमा प्रशासनिक मेले में पहुंचे अतिथियों का मेला परिसर में भव्य आतिशी स्वागत किया गया।उसके बाद उपमुख्यमंत्री श्री साव द्वारा माँ महामाया व छत्तीसगढ़ महतारी के छायाचित्र के समक्ष दीप प्रज्ज्वलित किया गया,तत्पश्यात न.पा अधिकारी, एच डी रात्रे, न.पा अध्यक्ष व उपाध्यक्ष के द्वारा उप मुख्यमंत्री अरुण साव को शाल,श्रीफल,कांसे का लोटा तथा पारंपरिक मेले का उखरा प्रसाद और मेले का प्रतीक चिन्ह के रूप में लकड़ी का तलवार भेंट कर सम्मानित किया गया। ऐतिहासिक माघी पूर्णिमा आदिवासी विकास मेले से समापन के अवसर पर उप मुख्यमंत्री अरुण साव ने अपने उद्बोधन में कहा कि हम सब का सौभाग्य है कि आज एक आदिवासी समाज की बेटी एक राष्ट्रपति के रुप में देश का नेतृत्व कर रही है, जो कि आदिवासी समाज के उत्थान का संकेत है।

यह भी पढ़ें   बाल-विवाह अपराध: रिश्तेदार, बाराती और पुरोहित पर भी हो सकती है कानूनी कार्यवाही

इसके अलावा उन्होंने केंद्र एवं राज्य सरकार की महत्वाकांक्षी जनकल्याणकारी योजनाओं के व जनता को मिल रहे लाभ के बारे में बतलाया। और अंत मे मेला परिसर में विभिन्न विभागों के द्वारा स्टाल लगाने वालों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।

Continue Reading

छत्तीसगढ़

आयुष्मान योजना अंतर्गत पंजीकृत शासकीय एवं निजी अस्पतालो में मिल रही है निःशुल्क उपचार की सुविधा

avatar

Published

on

टोल फ्री नंबर पर दर्ज करा सकते है शिकायत
बिलासपुर, 1 मार्च 2024/शासन की महत्वकांक्षी योजना “आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना सहायता योजना (PMJAY) अंतर्गत जिले में 54 शासकीय अस्पतालों एवं 73 निजी अस्पतालो में निःशुल्क उपचार कि सुविधा उपलब्ध है। इसके अंतर्गत शिशुरोग, आर्थापेडिक, गायनिक, जनरल
मेडिसिन, जनरल सर्जरी, न्युरोलॉजी, न्युरोसर्जरी, कार्डिक सर्जरी, कैंसर, कीमोथैरेपी, डायलिसिस, युरोलॉजी एवं अन्य विभिन्न प्रकार के बीमारीयों का निःशुल्क उपचार किया जाता है। सभी अस्पतालों में तत्काल आयुष्मान कार्ड बनाने कि सुविधा उपलब्ध है, किसी भी प्रकार की इलाज संबंधी परेशानी या अस्पताल द्वारा अतिरिक्त राशि कि मांग किये जाने पर राज्य शासन द्वारा जारी टोल फ्री नं. 104 या 14555 नं. पर शिकायत दर्ज करा सकते है। आयुष्मान कार्ड बनाने के लिए राशनकार्ड, आधार कार्ड होना आवश्यक है, प्रत्येक सदस्य का अलग-अलग पंजीयन किया जाता है। यह सुविधा लोगों को जिले के सिम्स अस्पताल, जिला अस्पताल, रेलवे अस्पताल, प्राथमिक स्वास्थ केंद्रों सहित विभिन्न निजी अस्पतालों में मिल रही है।

यह भी पढ़ें   सेवानिवृत्त होने पर पुलिस अधिकारियों-कर्मचारियों को दी गई भावभीनी विदाई
Continue Reading
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

Trending