Tiki island slots

  1. Fortune House Hra Online Na Peniaze: Not all new members of Dafabet have the right to claim this First Deposit Bonus.
  2. Eye Of Horus Similarities With Eye Of Horus Games - As you know, the druids are strangers to material values.
  3. Les Cotes Et Les Paiements Du Jeu Golden Offer Expliqués: This is a game of pure chance, with moves forced by available cards.

Free spins no depisit

Caribbean Diver'ın Maksimum Kazancı Nedir
Visa and its various products are included in those methods for both PokerStars NJ and 888poker NJ.
Dynamite Riches Megaways E-Mail
This means that Australian players can rest assured all the games offered at the site are 100% fair and randomized.
Please note that we have updated our general terms and conditions.

Crypto Casino gambling game play

Existem Bônus Especiais Disponíveis No Jogo Joker's Jewels?
As noted above, this bonus will basically be placed for you, with the market being selected by Kwiffs algorithm rather than your own brain.
Quais São Os Recursos De Jogo Responsável Em Cassinos Online Que Oferecem Ruleta En Vivo?
Our expert David Borg has given a few helpful recommendations on the use of this payment method on gambling websites.
Ktoré Sú Najlepšie Kasína, Ktoré Ponúkajú Hru Triple Wild Seven 5 Reels Casino?

Connect with us

क्राइम

बिलासपुर : दहेज के नाम से प्रताडित पत्नि ने की फांसी लगाकर आत्महत्या

avatar

Published

on

नाम आरोपी – संजू राठौर पिता शत्रुहन प्रसाद राठौर उम्र 31 साल निवासी गतौरा थाना मस्तूरी

उप पुलिस अधीक्षक (मुख्यालय) द्वारा किया गया गिरफ्तार

विवरण:- मामले का विवरण इस प्रकार है कि थाना मस्तूरी के अप०क0 22/24 धारा 304 (बी) भादवि में मृतिका वर्षा राठौर उम्र 24 साल साकिन गतौरा थाना मस्तूरी की मर्ग जांच के आधार पर अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया है।

घटना दिनांक 11.10.2023 की रात्रि में मृतिका वर्षा राठौर के पति आरोपी संजू राठौर पिता शत्रुघन प्रसाद राठौर निवासी गतौरा के द्वारा दहेज मे कम पैसा दिये हो मायके से पैसा लाने बोलने पर मृतिका के पिता द्वारा 25,000 रू. देने के बाद भी पैसा की मांग करने लगा,

यह भी पढ़ें   16 महीने बाद एक बार फिर बजी स्कूल की घंटी, स्कूल शिक्षा मंत्री ने बच्चों का तिलक लगाकर किया स्वागत

नही लाने पर लगातार मारपीट कर शारीरिक एवं मानसिक रूप से प्रताड़ित किये जाने से ही परेशान होकर मृतिका वर्षा राठौर ने अपने ससुराल में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी।

मर्ग जांच मे आरोपी संजू राठौर के खिलाफ अपराध सबूत पाये जाने पर धारा 304 (बी) भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना मे लिया गया ।
विवेचना के दौरान आरोपी संजू राठौर के खिलाफ पर्याप्त साक्ष्य मिलने पर समक्ष गवाहान के विधिवत दिनांक 12.01.2024 के 12/30 बजे गिर० किया गया है। रिमांण्ड पर भेजा गया है।

क्राइम

हिन्दू देवी-देवताओं पर आपत्तिजनक टिप्पणी कर रील बनाने वाला अभियुक्त गिरफ्तार

avatar

Published

on

फिरोजाबाद, 23 फरवरी (हि.स.)। थाना रजावली पुलिस टीम ने शुक्रवार को सोशल मीडिया पर हिन्दू देवी-देवताओं के बारे में आपत्तिजनक पोस्ट करने वाले अभियुक्त को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने उसे जेल भेजा है।

सीओ टूंडला अनिमेश कुमार ने शुक्रवार को बताया कि वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सौरभ दीक्षित द्वारा जनपद में सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट, टिप्पणी करने वालों के विरुद्ध चलाये अभियान चलाया जा रहा है। इसी क्रम में वरिष्ठ उपनिरीक्षक थाना रजावली विकल सिंह ढाका पुलिस टीम के साथ क्षेत्र में गश्त पर थे तभी उन्होंने सूचना पर सोशल मीडिया प्लेटफार्म (इन्स्टाग्राम) पर हिन्दू देवी देवताओं के ऊपर आपत्तिजनक टिप्पणी करते हुए रील वायरल करने वाले अभियुक्त अंकित जाटव पुत्र मलखान सिंह निवासी ग्राम गोथुआ थाना रजावली को गिरफ्तार कर लिया।

यह भी पढ़ें   छत्तीसगढ़ में धूमधाम से मनाया गया सूर्य देव का महापर्व छठ पूजा

सीओ ने बताया कि गिरफ्तार अभियुक्त द्वारा अपने इंस्टाग्राम अकाउन्ट पर हिन्दू देवी-देवताओं के बारे में टिप्पणी करते हुये सोशल मीडिया पर वायरल किया गया था। जिसके सम्बन्ध में थाना रजावली पर मुकदमा पंजीकृत हुआ था आज अभियुक्त को गिरफ्तार कर आवश्यक विधिक कार्यवाही की गई है।

Continue Reading

क्राइम

गोवा मर्डर केस: जेल में बंद सूचना सेठ के बारे में आया नया अपडेट, वकील ने पुलिस की रिपोर्ट पर किया ये दावा

avatar

Published

on

गोवा (Goa) में सूचना सेठ नाम की एक महिला ने होटल के अंदर अपने ही चार साल के मासूम बेटे का बेरहमी से कत्ल कर दिया था. मामले में गिरफ्तारी होने के बाद से ही आरोपी और उसके घरवाले अदालत में ये साबित करने की कोशिश कर रहे हैं कि उसकी दिमागी हालत ठीक नहीं थी.

बता दें कि 15 फरवरी को गोवा पुलिस ने अदालत के समक्ष आरोपी की मेंटल असेसमेंट रिपोर्ट सौंपी थी, जिसमें कहा गया कि उसे कोई भी दिमागी बीमारी नहीं है. लेकिन अब सूचना सेठ के वकील, अरुण ब्रास डे सा (Arun Bras De Sa) ने कोर्ट के समक्ष दावा किया है कि सूचना सेठ मानसिक रूप से बीमार हैं और गोवा पुलिस द्वारा प्रस्तुत की गई उनकी मानसिक फिटनेस रिपोर्ट गलत है.

कोर्ट के सामने रखी ये मांग
सूचना सेठ के वकील ने कोर्ट से मांग की है कि उसके मानसिक स्वास्थ्य स्थिति की जांच करने के लिए मनोचिकित्सकों का एक मेडिकल बोर्ड गठित किया जाना चाहिए. इस बीच सरकारी वकील ने उनके बयान पर आपत्ति जताते हुए कहा कि मानसिक तौर पर सेठ पूरी तरह से स्वस्थ हैं.

यह भी पढ़ें   थाना कोनी को मिली बड़ी सफलता, तलवार लहराते आरोपी गिरप्तार

सूचना सेठ ने कैसे की थी बेटे की हत्या

सूचना सेठ अपने चार साल के बेटे के साथ तीन दिन के लिए गोवा घूमने गई थी. उसने बेंगलुरु से फ्लाइट पकड़ी थी. तीन दिन अलग-अलग जगह घूमने के बाद उसने एक होटल के कमरे में अपने बेटे की हत्या कर दी. गिरफ्तार होने के बाद सूचना ने पुलिस को यह भी बताया कि वह अपना हाथ काटकर आत्महत्या करना चाहती थी, लेकिन फिर मन बदल गया. हत्या करने के बाद उसने रात एक बजे 30 हजार रुपये में कैब करके होटल से बेंगलुरू के लिए निकल गई. अगली सुबह कमरे में खून मिलने पर मैनेजर ने कलिंगुट थाने की पुलिस को सूचना दी.
पुलिस ने सूचना को लेकर गए कैब के ड्राइवर को फोन करके कार को नजदीकी थाने में ले जाने को कहा. इसके बाद ड्राइवर ने कर्नाटक के चित्रदुर्ग इलाके के आईमंगला पुलिस स्टेशन में गाड़ी रोककर वहां के पुलिसकर्मियों की गोवा पुलिस से बात कराई. गोवा पुलिस ने महिला के सामान की तलाशी लेने को कहा और इनोवा कार में रखे बैग की तलाशी के दौरान उसमें बच्चे की लाश मिली. इसके बाद पुलिस ने सूचना सेठ को गिरफ्तार कर लिया.

यह भी पढ़ें   बिलासपुर: अंधविश्वास के चलते गैर युवक की जान! गर्म त्रिशूल से शरीर के इस अंग को 20 बार दागता रहा बैगा....

सूचना सेठ कौन है?

गोवा के एक होटल में अपने ही मासूम बेटे की हत्या करने वाली सूचना सेठ आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एथिक्स एक्सपर्ट, डेटा साइंटिस्ट और स्टार्टअप कंपनी माइंडफुल एआई लैब की फाउंडर और सीईओ है. दूसरी तरफ सूचना के पति के वकील का दावा है कि उसका स्टार्टअप अस्तित्व में ही नहीं है.

Continue Reading

क्राइम

Surat: प्रेम जाल में मकान मालिक को फंसाया. प्रेमी के साथ मिलकर चुराए 96 लाख रुपये, बंटी-बबली गिरफ्तार

avatar

Published

on

सूरत शहर के चौक बाजार पुलिस थाना क्षेत्र अंतर्गत रहने वाले दिलीप उकानी को किराएदार महिला से प्यार करना भारी पड़ गया था. किराएदार दो बच्चों की मां ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर दिलीप उकानी के घर से करीब 96 लाख रुपए लेकर रफू चक्कर हो गई थी.

इस मामले में चौक बाजार पुलिस ने केस दर्ज किया था. मामले की जांच के बाद पुलिस ने लाखों रुपए चुराने वाले बंटी और बबली को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने उनके पास से चोरी की गई रकम में से 70 लाख 50 हजार रुपये बरामद भी कर लिए हैं.

सूरत की चौक बाजार थाना पुलिस ने बताया कि 31 जनवरी 2023 को थाना क्षेत्र के तहत आने वाले सिद्धिविनायक अपार्टमेंट से 96 लाख 44 हजार रुपयों से भरे दो बैग चोरी होने की शिकायत मिली थी. मामले की जांच के बाद पुलिस ने जयश्री बेन भगत और उसके प्रेमी शुभम मिशाल को गिरफ्तार किया है.

पहले से जयश्री को थी प्लॉट बिकने की जानकारी

दोनों ने मिलकर दिलीप उकानी के घर से चोरी की थी. उसके घर के नीचे ही ग्राउंड फ्लोर ये लोग किराए से रहते थे. दिलीप फर्स्ट फ्लोर पर अकेला रहता था. मकान के ऊपर-नीचे रहने वाले दिलीप और जयश्री भगत के बीच जान पहचान थी. लिहाजा, जयश्री बेन भगत को पता था कि दिलीप उकानी का लाखों रुपए की कीमत का एक प्लॉट बिकने वाला है.

यह भी पढ़ें   बिलासपुर: अंधविश्वास के चलते गैर युवक की जान! गर्म त्रिशूल से शरीर के इस अंग को 20 बार दागता रहा बैगा....

जयश्री बेन भगत ने दिलीप के साथ नजदीकियां बढ़ा लीं. उसने दिलीप से कहा था कि पति के साथ उसकी नहीं बनती है. वह दिलीप के साथ शादी कर उसके साथ रहने के लिए तैयार है. जयश्री बेन भगत की चिकनी चुपड़ी बातों में दिलीप आ गया था और फिर दोनों साथ-साथ रहने लगे थे. इस बीच कभी-कभी जयश्री भगत का प्रेमी शुभम भी उससे मिलने-जुलने आया करता था. इस बात को लेकर दिलीप ने जयश्री भगत के साथ नाराजगी भी जाहिर की थी.

घर में कैश की जानकारी प्रेमी को देकर बनाया प्लान

23 जनवरी 2023 को दिलीप के प्लॉट का सौदा हो गया था. प्लॉट बिकने के बाद दिलीप को मिले 96 लाख 44 हजार रुपए दो बैग में भरकर रख दिए थे. इन पैसों को हड़प करने के लिए 31 जनवरी को जयश्री बेन भगत ने अपने प्रेमी शुभम मिशाल के साथ प्लान बनाया.

जयश्री भगत ने दिलीप उकानी से कहा कि उसके पति के साथ उसकी नही बनती है, तो अपने दोनों बच्चो को उसके पास छोड़ कर आते हैं. जयश्री बेन भगत की बात पर दिलीप राजी हो गया. इसके बाद दोनों बच्चों को उसके पति के पास छोड़ने के लिए ऑटो में सवार होकर दिलीप और जयश्री निकल गए थे.

घर पहुंचकर दिलीप को चोरी का लगा पता

यह भी पढ़ें   छत्तीसगढ़: नगरीय प्रशासन विभाग में बड़ा फेरबदल

इसी बीच प्लान के मुताबिक, जयश्री भगत ने इस बीच अपने प्रेमी शुभम को दिलीप के घर से नोटों से भरे बैग चुरा ले जाने के लिए कहा था. उधर, जब दिलीप जयश्री के दोनों बच्चों को उनके पिता के पास छोड़कर वापस लौटा, तो जयश्री वहां नहीं मिली. जब उसने जयश्री को फोन लगाया, तो उसने दिलीप का फोन भी नहीं उठाया. दिलीप को लगा कि कुछ गड़बड़ है. वह दौड़ते हुए अपने घर पहुंचा, जहां नोटों से भरे बैग रखे थे. वहां जाकर उसे पता चला कि घर से नोटों के बैग गायब हैं.

सीसीटीवी में नोटों का बैग ले जाते दिखा प्रेमी शुभम

दिलीप ने आस-पास के सीसीटीवी खंगाले, तो टोपी पहने एक शख्स शुभम का नोटों से भरा बैग ले जाता हुआ नजर आया. इसके बाद 31 जनवरी को दिलीप ने चौक बाजार पुलिस थाने में यह मामला दर्ज करवाया था. पुलिस की टीम ने बंटी-बबली की तफ्तीश शुरू कर दी. डीसीपी भगीरथ गढ़वी ने बताया कि इस बीच पुलिस को जानकारी मिली कि दोनों आरोपी सूरत आ रहे हैं. इस जानकारी के आधार पर इन दोनों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. दोनों के पास से चोरी किए गए 96 लाख 44 हजार रुपयों में से 70 लाख 50 हजार रुपये बरामद भी कर लिए गए हैं.

Continue Reading
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

Trending