Playstation cryptocurrency casino games

  1. How The Random Number Generator Works In Rainbow Riches Pick'n'mix: DomGame has a nice design with an interesting theme.
  2. Quels Sont Les Principaux Développeurs De Logiciels De Casino Proposant Diamond Strike Dans Les Casinos En Ligne? - This makes the game great for a player of any budget.
  3. Technické Údaje Respin Joker 81: Youll be taken to one of three locations, either the Lions Head Inn, Ipping Station or the Mansion where youre given the chance to pick an item which will either award you with an instant prize, a multiplier or a police hat symbol which will end the bonus round.

William hill 5 free spins

Le Maggiori Vincite Registrate Su Starburst
In fact, to win this game you will have to play the actual experience many times.
Bietet Das Chaos Crew-Spiel In Virtuellen Casinos Einen Progressiven Jackpot
Copy Cats is a fine addition to the NetEnt lineup, and one we think will satisfy a wide range of players.
This wagering requirement covers the deposit bonus and reload bonuses.

How to win penny slot machines

Wie Funktioniert Der Hellcatraz 2 Dream Drop-Fortschritt Im Spiel
That means it doesnt matter what device you choose to browse from, whether thats Android, iOS or something else, your experience will be almost exactly the same.
Offres Bonus Aviator
There are features galore and everyone should find something they like here.
¿Cómo Descargar El Casino Gonzo's Quest

Connect with us

छत्तीसगढ़

Bilaspur : साइबर क्राइम के मामलों में हो रही बढ़ोत्तरी के लेकर हुई बैठक, TI मनोज नायक बोले- डिजिटल युग में जागरूकता और सावधानी महत्वपूर्ण…

avatar

Published

on

बिलासपुर. देश में साइबर क्राइम का मामलों में लगातार इजाफा हो रहा है। साइबर ठग अलग अलग तरीकों से अपने मंसूबों को अंजाम दे रहे हैं। पुलिस की समझाइश के बाद भी आमजन साइबर अपराधियों के चंगुल में फंस ही जाते हैं वही हाल ही में साइबर ठगों ने वाइस क्लोनिंग का नया पैटर्न शुरू कर दिया है। आमजनों को साइबर ठगी की घटनाओं से दूर रखने रेंज साइबर थाना इंचार्ज मनोज नायक ने कुछ टिप्स दिए हैं।

साइबर क्राइम पर चर्चा करते हुए टीआई मनोज नायक ने कहा कि डिजिटल युग में जागरूकता और सावधानी महत्वपूर्ण है।

हाल के दिनों में, साइबर अपराध की दुनिया में AI आधारित वॉयस क्लोनिंग बढ़ा है जो चिंताजनक है
अपराधी आर्टिफिशियल आवाज़ों का उपयोग कर रहे हैं। जो वास्तविक व्यक्तियों के बोलने के पैटर्न और विशेषताओं की नकल करते हुए संपर्क वालों को कॉल या वाइस रिकॉर्ड भेजकर लोगों के साथ ठगी करने के लिए उपयोग कर रहे हैं।

टीआई नायक ने दिए टिप्स, ध्यान से पढ़े और सुरक्षित रहें.

1.कॉल के दौरान असमान्य विराम या रोबोटिक बोलने की शैली पर ध्यान दें, अगर बातचीत स्क्रिप्टेड लगती है या उसमें सहजता की कमी है तो सतर्क रहें।

  1. भाषा और उच्चारण त्रुटियाँ,
    उच्चारण या बोलने के लहजे में उन गलतियों की तलाश करें जो वास्तविक व्यक्ति आमतौर पर नहीं करता है।
  2. आवाज तुलना,
    यदि संभव हो, तो कॉल में मौजूद आवाज़ की तुलना किसी विश्वसनीय स्रोत से प्राप्त व्यक्ति की मूल आवाज़ से करें।

4.भावनात्मक अभिव्यक्ति,
ध्यान दें कि क्या आवाज़ में भावनात्मक अभिव्यक्ति का अभाव है या असामान्य भावनात्मक बदलाव प्रदर्शित होता है जो वास्तविक व्यक्ति प्रदर्शित नहीं करता।

  1. वापस कॉल करें,
    कॉल की सत्यता को जांचने हमेशा उस व्यक्ति के पूर्व से आपके पास सेव नंबर का उपयोग करके वापस कॉल करने का प्रयास करें।
यह भी पढ़ें   दंतेवाड़ा : सप्ताह में तीन दिन 3 बजे तक खुलेंगी ये दुकानें, होटल-रेस्टॉरेंट को रात 9 बजे तक अनुमति... आदेश जारी

6.आवाज के नमूने साझा करने से बचें,
कभी भी अपने आवाज के नमूने या रिकॉर्डिंग को अज्ञात व्यक्तियों या अनजान सोर्स के साथ साझा न करें।

  1. वॉयस रिकॉर्डिंग की सुरक्षा करें,
    संवेदनशील वाइस रिकॉर्डिंग या ऑडियो फ़ाइलों तक पहुंच सीमित करें जिनका उपयोग संभावित रूप से दुर्भावनापूर्ण उद्देश्यों के लिए किया जा सकता है।

तत्काल इस नंबर पर संपर्क करें.

टीआई नायक ने आगे जानकारी देते हुए बताया कि
यदि आपको संदेह है कि आप एआई-आधारित वाइस क्लोनिंग, साइबर अपराध या किसी वित्तीय धोखाधड़ी का शिकार हुए हैं तो शिकायतों के लिए 1930, पर संपर्क करें।

साइबर एक्सपर्ट नायक की सलाह.

सतर्क रहें और साइबर अपराध के वर्तमान रूप का शिकार होने से खुद को और अपने प्रियजनों को बचाने के लिए इन सावधानियों का पालन करें।

पुलिस मुख्यालय नवा रायपुर में 2 दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का सोमवार को हुआ शुभारंभ.

पुलिस महानिदेशक अशोक जुनेजा के मुख्य आतिथ्य में सोमवार को गूगल और पेटीएम साईबर प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारंभ हुआ। पुलिस मुख्यालय और वित्तीय कारोबार संचालित करने वाली गूगल एवं पेटीएम के प्रशिक्षित अधिकारियों की टीम द्वारा सभी जिलों से आये साईबर नोडल पुलिस अधिकारी (अतिरिक्त/ उप पुलिस अधीक्षक स्तर) एवं जिला साईबर सेल के प्रभारी पुलिस अधिकारियों एवं रेंज स्तर से साईबर थाने में पदस्थ पुलिस अधिकारी/कर्मचारी को साईबर ठगी की रोकथाम और त्वरित कार्यवाही किये जाने हेतु पुलिस अधिकारियों को प्रशिक्षित किया जा रहा है।

पुलिस महानिदेशक जुनेजा ने प्रशिक्षण कार्यक्रम में राज्य के सभी जिलों से आये साईबर नोडल पुलिस अधिकारी एवं जिला साईबर सेल के प्रभारी पुलिस अधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि साईबर अपराध ठगी और ब्लेकमेलिंग जैसी अपराधों की बढ़ती संख्या को ध्यान में रखते हुए पुलिस अधिकारियों को और अधिक सर्तक रहने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि आईटी एक्ट के अलावा डॉटा प्रोटेक्शन एक्ट 2023 भी लागू हो गया है। इसमें साईबर ठगी के बढ़ते मामलों से निपटने और अपराधियों को पकड़ने तथा न्यायालय से दण्डित कराने के प्रावधान किये गये हैं, इन प्रावधानों से साईबर अपराधियों को दण्ड दिलाने में मदद मिलेगी।

यह भी पढ़ें   अभियान निजात चलाकर अवैध शराब बिक्री पर की गई कार्यवाही

डीजीपी जुनेजा ने सभी पुलिस अधिकारियों को निर्देशित किया कि साईबर ठगी के मामलों में अपडेट जानकारी हार्ड एवं साफ्ट कॉपी दोनों उपलब्ध होनी चाहिए जिससे प्रार्थी या शिकायतकर्ता के शिकायत का समाधान यथाशीघ्र किया जा सके। उन्होंने साइबर अपराधियों द्वारा अन्य राज्यों में बैठकर किये जाने वालों अपराधों पर अंकुश एवं अपराधियों को पकड़ने के लिए अन्य राज्यों के पुलिस अधिकारियों से समन्वय बनाकर शीघ्रतापूर्वक कार्य करना चाहिए।

इस अवसर पर अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक प्रदीप गुप्ता ने अपने संबोधन में कहा कि अपराधी को पकड़ना साक्ष्य एकत्रित करना एवं अपराधी को न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत कर उसे दण्ड दिलाना पुलिस के लिए बहुत बढ़ी चुनौती है, इसलिए पुलिस को आधुनिकतम रूप से प्रशिक्षित होना बहुत आवश्यक है। उन्होंने आशा व्यक्त किया कि गूगल और पेटीएम जैसे वित्तीय कार्य संपादित करने वाली संस्थाओं के अधिकारियों द्वारा दिया जाने वाला प्रशिक्षण पुलिस अधिकारियों के लिए उपयोगी सिद्ध होगा। प्रशिक्षण कार्यक्रम में गूगल और पेटीएम के प्रशिक्षित अधिकारियों की टीम द्वारा LERS (ला इन्फोर्समेंट रिक्वेस्ट सिस्टम) पोर्टल, फ्राड, इमरजेंसी रिक्वेस्ट, फ्राड ट्रेंड, बिजनेस, ट्रान्जेक्शन, मानिटरिंग संबंधी विषयों पर विस्तारपूर्वक जानकारी दी। अपरान्ह् में पेटीएम की टीम द्वारा ऑनलाईन बैंकिंग की कार्यप्रणाली एवं पेटीएम द्वारा साईबर क्राईम को रोकने की दिशा में उठाये गये कदम के बारे में विस्तार से बताया गया।

छत्तीसगढ़

जिला पंचायत की बैठक अब 7 मार्च को

avatar

Published

on

बिलासपुर 2 मार्च 2024/जिला पंचायत की सामान्य सभा एवं सामान्य प्रशासन समिति की बैठक अब 7 मार्च को जिला पंचायत सभाकक्ष में रखी गई है। जिसकी अध्यक्षता जिला पंचायत अध्यक्ष श्री अरूण सिंह चौहान करेंगे। सामान्य सभा की बैठक दोपहर 12 बजे एवं सामान्य प्रशासन समिति की बैठक शाम 4.30 बजे होगी।

बैठक में विद्युत, वन, क्रेडा, कृषि, पशु पालन, उद्यानिकी, महिला एवं बाल विकास, स्वास्थ्य, एमएमजीएसवाय, पीएमजीएसवाय, जल संसाधन विभाग एवं शिक्षा विभाग, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन आदि के अंतर्गत चल रहे कार्यों की जानकारी, समीक्षा एवं अन्य विषयों पर चर्चा करेंगे। सामान्य प्रशासन समिति की बैठक में रीपा, एनआरएलएम, रूर्बन मिशन, स्वच्छ भारत मिशन, मनरेगा, अमृत सरोवर, गोधन न्याय योजना आदि की जानकारी एवं समीक्षा की जाएगी।

यह भी पढ़ें   दशहरा में रायपुर आएंगे राम-सीता, WRS मैदान में तैयारियां जोरों पर
Continue Reading

छत्तीसगढ़

रतनपुर माघी पूर्णिमा मेले के समापन में पहुंचे उप मुख्यमंत्री अरुण साव

avatar

Published

on

बिलासपुर, 2 मार्च /छत्तीसगढ़ की प्राचीन राजधानी रतनपुर जहां राजा महाराजाओं के समय से जो स्वर्णिम परंपराएं विकसित हुई थी उसका जीवंत रूप आज भी यहां देखने को मिलता है। उनमें से एक है रतनपुर का ऐतिहासिक माघी पूर्णिमा आदिवासी विकास मेला। सप्ताह भर तक चलने वाले इस मेले की शुरुआत 24 फरवरी से हुई थी और सात दिनों तक इंद्रधनुषी छटा बिखेरती इस मेले के समापन समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में छ. ग शासन के उप मुख्यमंत्री अरुण साव व विशिष्ट अतिथि बेलतरा विधायक सुशांत शुक्ला की उपस्थिति में सम्पन्न हुआ।

रतनपुर मांघी पूर्णिमा प्रशासनिक मेले में पहुंचे अतिथियों का मेला परिसर में भव्य आतिशी स्वागत किया गया।उसके बाद उपमुख्यमंत्री श्री साव द्वारा माँ महामाया व छत्तीसगढ़ महतारी के छायाचित्र के समक्ष दीप प्रज्ज्वलित किया गया,तत्पश्यात न.पा अधिकारी, एच डी रात्रे, न.पा अध्यक्ष व उपाध्यक्ष के द्वारा उप मुख्यमंत्री अरुण साव को शाल,श्रीफल,कांसे का लोटा तथा पारंपरिक मेले का उखरा प्रसाद और मेले का प्रतीक चिन्ह के रूप में लकड़ी का तलवार भेंट कर सम्मानित किया गया। ऐतिहासिक माघी पूर्णिमा आदिवासी विकास मेले से समापन के अवसर पर उप मुख्यमंत्री अरुण साव ने अपने उद्बोधन में कहा कि हम सब का सौभाग्य है कि आज एक आदिवासी समाज की बेटी एक राष्ट्रपति के रुप में देश का नेतृत्व कर रही है, जो कि आदिवासी समाज के उत्थान का संकेत है।

यह भी पढ़ें   छत्तीसगढ़ में अब तक 946.3 मि.मी. औसत वर्षा दर्ज

इसके अलावा उन्होंने केंद्र एवं राज्य सरकार की महत्वाकांक्षी जनकल्याणकारी योजनाओं के व जनता को मिल रहे लाभ के बारे में बतलाया। और अंत मे मेला परिसर में विभिन्न विभागों के द्वारा स्टाल लगाने वालों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।

Continue Reading

छत्तीसगढ़

आयुष्मान योजना अंतर्गत पंजीकृत शासकीय एवं निजी अस्पतालो में मिल रही है निःशुल्क उपचार की सुविधा

avatar

Published

on

टोल फ्री नंबर पर दर्ज करा सकते है शिकायत
बिलासपुर, 1 मार्च 2024/शासन की महत्वकांक्षी योजना “आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना सहायता योजना (PMJAY) अंतर्गत जिले में 54 शासकीय अस्पतालों एवं 73 निजी अस्पतालो में निःशुल्क उपचार कि सुविधा उपलब्ध है। इसके अंतर्गत शिशुरोग, आर्थापेडिक, गायनिक, जनरल
मेडिसिन, जनरल सर्जरी, न्युरोलॉजी, न्युरोसर्जरी, कार्डिक सर्जरी, कैंसर, कीमोथैरेपी, डायलिसिस, युरोलॉजी एवं अन्य विभिन्न प्रकार के बीमारीयों का निःशुल्क उपचार किया जाता है। सभी अस्पतालों में तत्काल आयुष्मान कार्ड बनाने कि सुविधा उपलब्ध है, किसी भी प्रकार की इलाज संबंधी परेशानी या अस्पताल द्वारा अतिरिक्त राशि कि मांग किये जाने पर राज्य शासन द्वारा जारी टोल फ्री नं. 104 या 14555 नं. पर शिकायत दर्ज करा सकते है। आयुष्मान कार्ड बनाने के लिए राशनकार्ड, आधार कार्ड होना आवश्यक है, प्रत्येक सदस्य का अलग-अलग पंजीयन किया जाता है। यह सुविधा लोगों को जिले के सिम्स अस्पताल, जिला अस्पताल, रेलवे अस्पताल, प्राथमिक स्वास्थ केंद्रों सहित विभिन्न निजी अस्पतालों में मिल रही है।

यह भी पढ़ें   रक्षा टीम एवं यातायात पुलिस द्वारा किया गया "निजात अभियान" का प्रचार प्रसार
Continue Reading
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

Trending