Win slot machines

  1. Wo Finde Ich Rezensionen Und Bewertungen Von 20 Boost Hot-Spielen: With its unique four-reel layout, the wins are fast and furious, while the thrilling Dragon Match mechanic is able to generate huge wins and trigger the bonus feature.
  2. Como O Jogo De Cassino Xxxtreme Lightning Roulette Se Compara A Outros Jogos De Cassino? - The governing body for rugby sevens is World Rugby, and there are teams in just about every corner of the world.
  3. Il Casinò Madame Destiny Megaways Vince Soldi Veri: Many online gambling companies are located overseas, so the card company will frequently see this as a standard fraud issue on the companys behalf.

What is the best hand in Perth holdem poker

How Does The Payout System Work In The Wolf Gold Game
Mega Moolah is a record-breaking progressive jackpot slot from Microgaming.
Lucky Jimmy - Oynamaya Başlamadan Önce Bilmeniz Gereken Her Şey
NuWorks was released in 2023 and started up with Realtime Gaming as a sister software which allows them to have a lot of the same perks as RTG has.
According to the number of players searching for it, Monster Pop is not a very popular slot.

Black widow slot machine free

Quali Sono I Tassi Di Pagamento Per Il Gioco Healthy Fruit?
As soon as you load it, it's clear that this website places a lot of emphasis on its social experience, where you're more than just another unidentified player at an online casino.
Quel Est Le Paiement Moyen Dans Le Jeu De Casino Dinopolis
Once you've placed your wager, you start playing.
Jak Mohu Hrát Crystal Miners S Vysokým Procentem Výplat

Connect with us

क्राइम

थाना सिटी कोतवाली की बडी कार्यवाही अलग अलग मामलो में किया गया 05 नग स्कुटी कीमती 1.90,000 रूप्ये किया गया बरामद

avatar

Published

on

थाना सिटी कोतवाली जिला बिलासपुर छ.ग.अपराध क्रमांक – 09/2024 धारा – 379 भादवि अपराध क्रमांक – 12/2024 धारा – 379 भादवि
अपराध क्रमांक – 14/2024 धारा – 379 भादवि इस्तागाश क्रमांक – 01/2024

अलग अलग मामलो में किया गया 05 नग स्कुटी कीमती 1.90,000 रूप्ये किया गया बरामद

विवरणः- मामले का संक्षिप्त विवरण इस प्रकार है कि प्रार्थी बिंदा प्रसाद कश्यप पिता स्व0 राम स्वरूप कश्यप साकिन शिखा वाटिका के पीछे मधुबन रोड दयालबंद, प्रार्थी संतोष लाल हंसपुर्मा पिता स्व0 सोहन लाल उम्र 49 साल साकिन पोस्ट आफिस गली टिकरापारा थाना सिटी कोतवाली बिलासपुर एवं प्रार्थी आतम चंद गिदवानी पिता स्व0 हटकन दास गिदवानी उम्र 72 साल साकिन समृध्दि हास्पीटल जगमल चौक तोरवा बिलासपुर क्रमशः दिनंाक 04.01.2024, 06.01.2024 एवं 08.01.2024 को थाना सिटी कोतवाली उपस्थित आकर अपनी स्कुटी चोरी होने की रिपोर्ट दर्ज कराने पर थाना सिटी कोतवाली में अपराध क्रमांक 09/2024 धारा 379 भादवि, अपराध क्रमांक 12/2024 धारा 379 भादवि, अपराध क्रमांक 14/2024 धारा 379 भादवि पंजीबद्ध कर वरिष्ट अधिकारियो को अवगत कराया गया।

प्रकरण की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक महोदय संतोष कुमार सिंह द्वारा आरोपी को तत्काल गिरफ्तार करने निर्देश दिया गया। जिसके परिपालन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर राजेंद्र कुमार जायसवाल एवं नगर पुलिस अधीक्षक कोतवाली पूजा कुमार के मार्ग दर्शन में थाना प्रभारी सिटी कोतवाली निरीक्षक कमला पुसाम ठाकुर द्वारा थाना स्तर पर टीम गठित कर आरोपी की पता साजी की जा रही थी

यह भी पढ़ें   छत्तीसगढ़ दौरे पर आएगी संसदीय लोक लेखा समिति

विवेचना दौरान मुखबिर सूचना मिली की एक विधि संघर्षरत बालक चोरी की मोटर सायकल बेचने ग्राहक तलाश कर रहा है मुखबिर के निशानदेही पर विधि से संघर्षरत बालक को मधुबन रोड दयालबंद में एक्टिवा वाहन के साथ पकडा गया। विधि से संघर्षरत बालक से एक्टिवा वाहन क्रमांक सीजी 10 ए.एक्स 7049 के संबंध में पूछताछ किया गया, विधि से संघर्षरत बालक द्वारा पहले पुलिस को गुमराह किया गया,

परिजनो के समझ कडाई से पूछताछ करने पर चोरी करना स्वीकार किया गया। विधि से संघर्षरत बालक के निशान देही पर उसके घर से 02 अन्य वाहन एक्टिवा क्र. सीजी 10 बी.जी. 6254 एवं एक्टिवा क्र. सीजी 10 एक्स 4306 को बरामद किया गया जो थाना सिटी कोतवाली अपराध क्रमांक 12/2024 धारा 379 भादवि एवं अपराध क्रमांक 14/2024 धारा 379 भादवि का होना पाया गया। विधी से संघर्षरत बालको के विरूद्ध परिजनो की उपस्थित में विधिवत कार्यवाही की गई।

यह भी पढ़ें   पुलिस महानिरीक्षक रतन लाल डांगी ने बिलासपुर रेंज के पुलिस अधीक्षकों की ली बैठक

इसी क्रम आज दिनांक 12.01.2024 को मुखबिर सूचना पर थाना सिटी कोतवाली पुलिस द्वारा मधुबन रोड दयालबंद में चोरी के एविटर वाहन बेचने हेतु ग्राहक तलाश करते एक अन्य विधि से संघर्षरत बालक को पकडा गया। विधि से संघर्षरत बालक से उक्त बिना नंबर एपिटर वाहन, इंजन नंबर BK4GN1405326 के संबंध में पूछताछ करने पर पहले पुलिस को गुमराह किया गया, परिजनो के समझ कडाई से पूछताछ करने पर उक्त एपिटर वाहन को तोरवा क्षेत्र से चोरी करना स्वीकार किया गया।

विधि से संघर्षरत बालक के निशान देही में उसके घर से एक अन्य जुपिटर वाहन, इंजन नंबर JF21E9150941 को जप्त किया गया। विधि से संघर्षरत बालक के विरूद्ध इस्तगाशा क्रमांक 01/2024 धारा 41(1-4) जा.फौ./379 भादवि तैयार कर परिजनो की उपस्थित में विधिवत कार्यवाही की गई। जप्त स्कुटी वाहनो के वाहन स्वामी की पता तलाश की जा रही है।

विशेषयोगदानः-निरीक्षक कमला पुसाम ठाकुर, उनि बसंत कुमार साहू प्र.आर. निर्मल सिंह, फुलसिंह बड्डे, आर. गोकुल जांगडे, नुरूल कादिर, प्रेम सूर्यवंशी

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

क्राइम

हिन्दू देवी-देवताओं पर आपत्तिजनक टिप्पणी कर रील बनाने वाला अभियुक्त गिरफ्तार

avatar

Published

on

फिरोजाबाद, 23 फरवरी (हि.स.)। थाना रजावली पुलिस टीम ने शुक्रवार को सोशल मीडिया पर हिन्दू देवी-देवताओं के बारे में आपत्तिजनक पोस्ट करने वाले अभियुक्त को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने उसे जेल भेजा है।

सीओ टूंडला अनिमेश कुमार ने शुक्रवार को बताया कि वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सौरभ दीक्षित द्वारा जनपद में सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट, टिप्पणी करने वालों के विरुद्ध चलाये अभियान चलाया जा रहा है। इसी क्रम में वरिष्ठ उपनिरीक्षक थाना रजावली विकल सिंह ढाका पुलिस टीम के साथ क्षेत्र में गश्त पर थे तभी उन्होंने सूचना पर सोशल मीडिया प्लेटफार्म (इन्स्टाग्राम) पर हिन्दू देवी देवताओं के ऊपर आपत्तिजनक टिप्पणी करते हुए रील वायरल करने वाले अभियुक्त अंकित जाटव पुत्र मलखान सिंह निवासी ग्राम गोथुआ थाना रजावली को गिरफ्तार कर लिया।

यह भी पढ़ें   CG: नहीं बच पाई प्री मैच्योर बच्ची की जान

सीओ ने बताया कि गिरफ्तार अभियुक्त द्वारा अपने इंस्टाग्राम अकाउन्ट पर हिन्दू देवी-देवताओं के बारे में टिप्पणी करते हुये सोशल मीडिया पर वायरल किया गया था। जिसके सम्बन्ध में थाना रजावली पर मुकदमा पंजीकृत हुआ था आज अभियुक्त को गिरफ्तार कर आवश्यक विधिक कार्यवाही की गई है।

Continue Reading

क्राइम

गोवा मर्डर केस: जेल में बंद सूचना सेठ के बारे में आया नया अपडेट, वकील ने पुलिस की रिपोर्ट पर किया ये दावा

avatar

Published

on

गोवा (Goa) में सूचना सेठ नाम की एक महिला ने होटल के अंदर अपने ही चार साल के मासूम बेटे का बेरहमी से कत्ल कर दिया था. मामले में गिरफ्तारी होने के बाद से ही आरोपी और उसके घरवाले अदालत में ये साबित करने की कोशिश कर रहे हैं कि उसकी दिमागी हालत ठीक नहीं थी.

बता दें कि 15 फरवरी को गोवा पुलिस ने अदालत के समक्ष आरोपी की मेंटल असेसमेंट रिपोर्ट सौंपी थी, जिसमें कहा गया कि उसे कोई भी दिमागी बीमारी नहीं है. लेकिन अब सूचना सेठ के वकील, अरुण ब्रास डे सा (Arun Bras De Sa) ने कोर्ट के समक्ष दावा किया है कि सूचना सेठ मानसिक रूप से बीमार हैं और गोवा पुलिस द्वारा प्रस्तुत की गई उनकी मानसिक फिटनेस रिपोर्ट गलत है.

कोर्ट के सामने रखी ये मांग
सूचना सेठ के वकील ने कोर्ट से मांग की है कि उसके मानसिक स्वास्थ्य स्थिति की जांच करने के लिए मनोचिकित्सकों का एक मेडिकल बोर्ड गठित किया जाना चाहिए. इस बीच सरकारी वकील ने उनके बयान पर आपत्ति जताते हुए कहा कि मानसिक तौर पर सेठ पूरी तरह से स्वस्थ हैं.

यह भी पढ़ें   हेलीकॉप्टर क्रैश मामला, दोनों पायलट को दी गई श्रद्धांजलि

सूचना सेठ ने कैसे की थी बेटे की हत्या

सूचना सेठ अपने चार साल के बेटे के साथ तीन दिन के लिए गोवा घूमने गई थी. उसने बेंगलुरु से फ्लाइट पकड़ी थी. तीन दिन अलग-अलग जगह घूमने के बाद उसने एक होटल के कमरे में अपने बेटे की हत्या कर दी. गिरफ्तार होने के बाद सूचना ने पुलिस को यह भी बताया कि वह अपना हाथ काटकर आत्महत्या करना चाहती थी, लेकिन फिर मन बदल गया. हत्या करने के बाद उसने रात एक बजे 30 हजार रुपये में कैब करके होटल से बेंगलुरू के लिए निकल गई. अगली सुबह कमरे में खून मिलने पर मैनेजर ने कलिंगुट थाने की पुलिस को सूचना दी.
पुलिस ने सूचना को लेकर गए कैब के ड्राइवर को फोन करके कार को नजदीकी थाने में ले जाने को कहा. इसके बाद ड्राइवर ने कर्नाटक के चित्रदुर्ग इलाके के आईमंगला पुलिस स्टेशन में गाड़ी रोककर वहां के पुलिसकर्मियों की गोवा पुलिस से बात कराई. गोवा पुलिस ने महिला के सामान की तलाशी लेने को कहा और इनोवा कार में रखे बैग की तलाशी के दौरान उसमें बच्चे की लाश मिली. इसके बाद पुलिस ने सूचना सेठ को गिरफ्तार कर लिया.

यह भी पढ़ें   CG : ग्रामीणों ने 2 ट्रक ड्राइवरों की जमकर की पिटाई, पशुओं की कर रहे थे तस्करी

सूचना सेठ कौन है?

गोवा के एक होटल में अपने ही मासूम बेटे की हत्या करने वाली सूचना सेठ आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एथिक्स एक्सपर्ट, डेटा साइंटिस्ट और स्टार्टअप कंपनी माइंडफुल एआई लैब की फाउंडर और सीईओ है. दूसरी तरफ सूचना के पति के वकील का दावा है कि उसका स्टार्टअप अस्तित्व में ही नहीं है.

Continue Reading

क्राइम

Surat: प्रेम जाल में मकान मालिक को फंसाया. प्रेमी के साथ मिलकर चुराए 96 लाख रुपये, बंटी-बबली गिरफ्तार

avatar

Published

on

सूरत शहर के चौक बाजार पुलिस थाना क्षेत्र अंतर्गत रहने वाले दिलीप उकानी को किराएदार महिला से प्यार करना भारी पड़ गया था. किराएदार दो बच्चों की मां ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर दिलीप उकानी के घर से करीब 96 लाख रुपए लेकर रफू चक्कर हो गई थी.

इस मामले में चौक बाजार पुलिस ने केस दर्ज किया था. मामले की जांच के बाद पुलिस ने लाखों रुपए चुराने वाले बंटी और बबली को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने उनके पास से चोरी की गई रकम में से 70 लाख 50 हजार रुपये बरामद भी कर लिए हैं.

सूरत की चौक बाजार थाना पुलिस ने बताया कि 31 जनवरी 2023 को थाना क्षेत्र के तहत आने वाले सिद्धिविनायक अपार्टमेंट से 96 लाख 44 हजार रुपयों से भरे दो बैग चोरी होने की शिकायत मिली थी. मामले की जांच के बाद पुलिस ने जयश्री बेन भगत और उसके प्रेमी शुभम मिशाल को गिरफ्तार किया है.

पहले से जयश्री को थी प्लॉट बिकने की जानकारी

दोनों ने मिलकर दिलीप उकानी के घर से चोरी की थी. उसके घर के नीचे ही ग्राउंड फ्लोर ये लोग किराए से रहते थे. दिलीप फर्स्ट फ्लोर पर अकेला रहता था. मकान के ऊपर-नीचे रहने वाले दिलीप और जयश्री भगत के बीच जान पहचान थी. लिहाजा, जयश्री बेन भगत को पता था कि दिलीप उकानी का लाखों रुपए की कीमत का एक प्लॉट बिकने वाला है.

यह भी पढ़ें   छत्तीसगढ़ दौरे पर आएगी संसदीय लोक लेखा समिति

जयश्री बेन भगत ने दिलीप के साथ नजदीकियां बढ़ा लीं. उसने दिलीप से कहा था कि पति के साथ उसकी नहीं बनती है. वह दिलीप के साथ शादी कर उसके साथ रहने के लिए तैयार है. जयश्री बेन भगत की चिकनी चुपड़ी बातों में दिलीप आ गया था और फिर दोनों साथ-साथ रहने लगे थे. इस बीच कभी-कभी जयश्री भगत का प्रेमी शुभम भी उससे मिलने-जुलने आया करता था. इस बात को लेकर दिलीप ने जयश्री भगत के साथ नाराजगी भी जाहिर की थी.

घर में कैश की जानकारी प्रेमी को देकर बनाया प्लान

23 जनवरी 2023 को दिलीप के प्लॉट का सौदा हो गया था. प्लॉट बिकने के बाद दिलीप को मिले 96 लाख 44 हजार रुपए दो बैग में भरकर रख दिए थे. इन पैसों को हड़प करने के लिए 31 जनवरी को जयश्री बेन भगत ने अपने प्रेमी शुभम मिशाल के साथ प्लान बनाया.

जयश्री भगत ने दिलीप उकानी से कहा कि उसके पति के साथ उसकी नही बनती है, तो अपने दोनों बच्चो को उसके पास छोड़ कर आते हैं. जयश्री बेन भगत की बात पर दिलीप राजी हो गया. इसके बाद दोनों बच्चों को उसके पति के पास छोड़ने के लिए ऑटो में सवार होकर दिलीप और जयश्री निकल गए थे.

घर पहुंचकर दिलीप को चोरी का लगा पता

यह भी पढ़ें   देर रात बिगड़ी विधायक की तबियत! रायपुर के रामकृष्ण केयर अस्पताल में भर्ती

इसी बीच प्लान के मुताबिक, जयश्री भगत ने इस बीच अपने प्रेमी शुभम को दिलीप के घर से नोटों से भरे बैग चुरा ले जाने के लिए कहा था. उधर, जब दिलीप जयश्री के दोनों बच्चों को उनके पिता के पास छोड़कर वापस लौटा, तो जयश्री वहां नहीं मिली. जब उसने जयश्री को फोन लगाया, तो उसने दिलीप का फोन भी नहीं उठाया. दिलीप को लगा कि कुछ गड़बड़ है. वह दौड़ते हुए अपने घर पहुंचा, जहां नोटों से भरे बैग रखे थे. वहां जाकर उसे पता चला कि घर से नोटों के बैग गायब हैं.

सीसीटीवी में नोटों का बैग ले जाते दिखा प्रेमी शुभम

दिलीप ने आस-पास के सीसीटीवी खंगाले, तो टोपी पहने एक शख्स शुभम का नोटों से भरा बैग ले जाता हुआ नजर आया. इसके बाद 31 जनवरी को दिलीप ने चौक बाजार पुलिस थाने में यह मामला दर्ज करवाया था. पुलिस की टीम ने बंटी-बबली की तफ्तीश शुरू कर दी. डीसीपी भगीरथ गढ़वी ने बताया कि इस बीच पुलिस को जानकारी मिली कि दोनों आरोपी सूरत आ रहे हैं. इस जानकारी के आधार पर इन दोनों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. दोनों के पास से चोरी किए गए 96 लाख 44 हजार रुपयों में से 70 लाख 50 हजार रुपये बरामद भी कर लिए गए हैं.

Continue Reading
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

Trending