Betfair crypto casino login

  1. Was Sind Die Besten Strategien Um Im Over The Moon-Spiel Zu Gewinnen: The transition will be even smoother.
  2. Melyek A Legjobb Stratégiák Az Aviator Kaszinóban? - Play exciting live dealer games knowing that you will receive a 10% cashback bonus matching the amount you losses from Monday to Saturday.
  3. Quel Casino Propose La Meilleure Offre Sur Deadwood?: If you are new to online gambling, whether that be sports betting or online casinos Nevada, our comparison can help you locate the types of sites that are going to suit your preferences.

The online cryptocurrency casino money game

Jak Vytvořit Herní Strategii V Wild Cookies
It features outstanding graphics and dynamic gameplay with 5 reels and 20 active lines.
Jeu D'aviator Avec Des Multiplicateurs
You can be ensured of a safe and secure journey if online casinos use the services of these two companies.
If you roll craps a two, three, 11 or 12, the bet is lost.

Is playing real money online slots safe and legal

Jaké Jsou Nejlepší Online Casina Pro Hraní Hry Wings Of Ra?
Ancient Fortunes Poseidon WowPot Megaways is a pokie thats pretty high on the volatility scale, yes, so expect a highly volatile action.
Wie Man Bei Bandidos Cash Spielt Und Gewinnt
This software solution is tailored toward casinos who want to utilise the InBetGames roster of games without purchasing one of their white label solutions.
Πώς Να Προετοιμαστείτε Συναισθηματικά Όταν Στοιχηματίζετε Στο Παιχνίδι Fire In The Hole;

Connect with us

छत्तीसगढ़

48 घंटे में ED के बड़े एक्शन, दिल्ली, कोलकाता, रायपुर.तक मचा हड़कंप,

avatar

Published

on

48 घंटे में ED के बड़े एक्शन, दिल्ली, कोलकाता, रायपुर.तक मचा हड़कंप

इन दिनों प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) एक्शन मोड में दिखाई दे रही है. पिछले 48 घंटों में राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से लेकर हरियाणा, कोलकाता, रायपुर, पुणे में हड़कंप मचा हुआ है. कहीं, अलमारियों में करोड़ों रुपए की गड्डियां और सोना व हथियार मिले तो कहीं अहम दस्तावेज बरामद हुए.

यहीं नहीं ईडी की टीम पर हमला भी हुआ, जिससे अधिकारियों के सिर फूट गए, लेकिन कार्रवाई में कोई कोताही नहीं बरती जा रही है. अंदेशा जताया जा रहा है कि आने वाले दिनों में कई दिग्गज नेताओं से ईडी पूछताछ कर सकती है.

ईडी के एक्शन को लेकर विपक्षी राजनीतिक पार्टियां केंद्र की बीजेपी सरकार पर हमलावर हैं, जबकि बीजेपी का कहना है कि सरकार भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाए हुए है. साथ ही साथ उसका कहना है कि देश के जिन राज्यों में कांग्रेस की सरकार रही है वहां लूट मचाई है. अब आपको सिलसिलेवार बताते हैं कि ईडी का एक्शन कहां-कहां देखने को मिला है.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को समन

दिल्ली में हुए कथित शराब घोटाला मामले में ईडी ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को 3 जनवरी को तीसरी बार समन जारी किया और पेश होने के लिए कहा, लेकिन सीएम केजरीवाल ने समन को गैरकानूनी बताते हुए पेश होने से इनकार कर दिया. इसके बाद दिल्ली की मंत्री आतिशी और सौरभ भारद्वाज ने आरोप लगाया कि अरविंद केजरीवाल को गिरफ्तार किया जा सकता है, लेकिन सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, ईडी ने इसे मात्र एक अफवाह करार दिया. सीएम केजरीवाल ने आरोप लगाया कि केंद्र सरकार लोकसभा चुनाव से पहले उन्हें गिरफ्तार करवाना चाहती है.

यह भी पढ़ें   Bilaspur: कार ने 3 बाइक सवार को मारी टक्कर, तीनों की मौके पर मौत

हरियाणा में कांग्रेस के विधायक और आईएनएलडी नेता के घर छापेमारी

ईडी ने अवैध खनन से जुड़े मामले में हरियाणा के सोनीपत से कांग्रेस के विधायक सुरेंद्र पंवार और आईएनएलडी नेता दिलबाग सिंह के 20 ठिकानों पर छापेमारी की है. इस दौरान सुरेंद्र पंवार के घर से उसे अहम दस्तावेज मिले, जबकि दिलबाग सिंह के ठिकाने जो कुछ मिला उसे देखकर एजेंसी के होश उड़ गए. ईडी को अवैध विदेशी हथियार, 300 कारतूस, 100 से अधिक शराब की बोतलें, 5 करोड़ नकद कैश, साढ़े चार किलो सोना और देश व विदेश में कई संपत्तियां मिली हैं.

शरद पवार के परिवार की कंपनी पर एक्शन

ईडी ने महाराष्ट्र स्टेट कोऑपरेटिव बैंक घोटाले मामले में बारामती एग्रो से जुड़े 6 ठिकानों पर छापेमारी की. एजेंसी ने पुणे, अमरावती और छत्रपति संभाजीनगर में रेड की. सबसे बड़ी बात ये है कि ये कंपनी एनसीपी के प्रमुख शरद पवार के पोते रोहित पवार से जुड़ी हुई है. आरोप लगा है कि कंपनी ने 5 हजार करोड़ रुपए का घोटाला किया है. बीजेपी की मांग है कि इस मामले में तेजी से एक्शन लिया जाए.

महादेव बेटिंग ऐप मामले में भूपेश बघेल का नाम

महादेव बेटिंग ऐप मामले में ईडी की चार्जशीट में बड़ा खुलासा हुआ है, जिसमें छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का नाम शामिल है. गिरफ्तार आरोपी असीम दास ने एजेंसी को बताया कि 5.39 पैसा भूपेश बघेल के लिए भेजा गया था. बरामद पैसा नेता भूपेश बघेल के लिए हवाला के जरिए आया था. अब ऐसे में भूपेश बघेल भी एजेंसी के निशाने पर आ सकते हैं और उनसे पूछताछ की जा सकती है. बीजेपी नेता शहजाद पूनावाला का कहना है कि कांग्रेस की जहां पर भी सरकारें रहीं वहां पर उन लोगों ने केवल लूट मचाने का काम किया. कांग्रेस के सीएम किस तरह का लूट मचा रहे थे आज ये समाने आया है. कांग्रेस के लिए मुख्यमंत्री का मतलब कभी मुख्यमंत्री नहीं था, उनके लिए इसका मतलब ‘भ्रष्ट मंत्री’ था, अब सवाल ये है कि आखिर भूपेश बघेल ने आगे पैसा किसे दिया?

यह भी पढ़ें   छत्तीसगढ़: शिक्षक के पद पर निकली बंपर भर्ती

बंगाल में टीएमसी नेता गिरफ्तार

पश्चिम बंगाल में राशन घोटाला मामले में ईडी की टीम ने शुक्रवार को संदेशखाली समेत 18 ठिकानों पर रेड की. इस दौरान टीएमसी नेता शेख शाहजहां के समर्थकों ने उसके ऊपर हमला कर दिया, जिसमें ईडी के दो अधिकारी घायल हो गए और उन्हें अपनी जान बचाकर भागना पड़ा. वहीं, ईडी ने एक्शन जारी रखते हुए उत्तर 24 परगना के बोंगांव नगर पालिका के पूर्व अध्यक्ष व टीएमसी के नेता शंकर आद्या को गिरफ्तार किया. उसके रिश्तेदार के ठिकानों से लाखों रुपए बरामद किए गए. ईडी की टीम उससे पूछताछ कर रही है. टीएमसी नेता शेख शाहजहां और शंकर आद्या दोनों ही राशन घोटाले में गिरफ्तार ज्योतिप्रिय मल्लिक के करीबी बताए जाते हैं.

झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन पर लटक रही गिरफ्तारी की तलवार

ईडी ने भूमि सौदे और मनी लॉन्ड्रिंग मामले में झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन को सात समन जारी किया था, लेकिन वह पेश नहीं हुए. कहा जा रहा है कि केंद्रीय एजेंसी जल्द ही सीएम सोरेन की गिरफ्तारी को लेकर एक्शन ले सकती है. वहीं, अवैध खनन मामले में सीएम सोरेन के प्रेस सलाहकार अभिषेक प्रसाद उर्फ पिंटू के ठिकाने पर ईडी छापेमारी कर चुकी है. उसने अभिषेक प्रसाद के आवास और साहेबगंज उपायुक्त के आवास समेत 12 ठिकानों पर तलाशी ली थी.

छत्तीसगढ़

उप मुख्यमंत्री श्री अरुण साव लोक निर्माण विभाग के अभियंताओं के प्रशिक्षण में हुए शामिल

avatar

Published

on

सीएसआईआर-सीआरआरआई द्वारा सहायक अभियंताओं, अनुविभागीय अधिकारियों और उप अभियंताओं के लिए तीन दिवसीय प्रशिक्षण का आयोजन

रोड सेफ्टी ऑडिट और सड़क सुरक्षा से संबंधित विषयों पर दिया जा रहा प्रशिक्षण

बिलासपुर. 27 फरवरी 2024. उप मुख्यमंत्री अरुण साव आज सवेरे लोक निर्माण विभाग के अभियंताओं के प्रशिक्षण में शामिल हुए। रायपुर के सिविल लाइन स्थित नवीन विश्राम भवन में सीएसआईआर-सीआरआरआई द्वारा लोक निर्माण विभाग के सहायक अभियंताओं, अनुविभागीय अधिकारियों और उप अभियंताओं के लिए तीन दिवसीय प्रशिक्षण का आयोजन किया गया है। विभागीय अभियंताओं को रोड सेफ्टी ऑडिट और सड़क सुरक्षा से संबंधित विषयों पर प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

उप मुख्यमंत्री तथा लोक निर्माण मंत्री अरुण साव ने तीन दिवसीय प्रशिक्षण के शुभारंभ सत्र को संबोधित करते हुए कहा कि सड़कें गुणवत्तापूर्ण होने के साथ ही सुरक्षित भी होने चाहिए। सड़कों के निर्माण के दौरान सुरक्षा संबंधी सभी उपायों और प्रावधानों का कड़ाई से पालन सुनिश्चित किया जाना चाहिए।

यह भी पढ़ें   Bilaspur Crime News : हिन्दुजा ट्रेडर्स के संचालक के घर में चोरी के मामले में 2 आरोपी गिरफ्तार, चोरी के प्रकरण में मिली बडी सफलता

उन्होंने उम्मीद जताई कि विभाग के अभियंताओं के लिए यह प्रशिक्षण काफी उपयोगी होगा और वे रोड सेफ्टी ऑडिट तथा सड़क सुरक्षा की बारीकियों एवं व्यावहारिक व्यवस्थाओं को और ज्यादा बेहतर तरीके से जान-समझ पाएंगे। प्रमुख अभियंता के.के. पिपरी और वरिष्ठ विभागीय अधिकारी भी प्रशिक्षण के शुभारंभ सत्र में मौजूद थे।

उल्लेखनीय है कि देश में बढ़ती दुर्घटनाओं और उनमें मरने वालों की अत्यधिक संख्या को देखते हुए सर्वोच्च न्यायालय ने रोड कमेटी ऑन रोड सेफ्टी का गठन किया है। सड़क दुर्घटनाओं के अन्य कारणों के साथ सड़क निर्माण में होने वाली त्रुटियां भी महत्वपूर्ण कारण हैं। सर्वोच्च न्यायालय ने दुघर्टनाओं में कमी लाने के लिए सड़कों के निर्माण व संधारण के लिए जिम्मेदार एजेंसियों को उचित प्रशिक्षण के निर्देश दिए हैं।

यह भी पढ़ें   छत्तीसगढ़: शिक्षक के पद पर निकली बंपर भर्ती

इसके परिपालन में लोक निर्माण विभाग के सहायक अभियंताओं, अनुविभागीय अधिकारियों एवं उप अभियंताओं के लिए सी.आर.आर.आई., नई दिल्ली के माध्यम से यह प्रशिक्षण आयोजित किया गया है। विभाग के 55 सहायक अभियंताओं/अनुविभागीय अधिकारियों और 95 उप अभियंताओं को इसमें प्रशिक्षित किया जाएगा। प्रशिक्षु अभियंताओं को फील्ड विजिट भी कराया जाएगा।

Continue Reading

छत्तीसगढ़

ईवीएम मशीनों के प्रदर्शन को मिल रहा अच्छा response रिस्‍पॉन्‍स्‌

avatar

Published

on

प्रतिदिन सैकड़ों लोग समझ रहे कार्य प्रणाली

बिलासपुर, 27 फरवरी/भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार आगामी लोकसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए जिला निर्वाचन कार्यालय सहित सभी तहसील कार्यालयों में ईवीएम मशीन का प्रदर्शन किया जा रहा है। प्रतिदिन बड़ी संख्या में लोग इसका अवलोकन का इसकी कार्य प्रणाली से अवगत हो रहे हैं। जिला निर्वाचन कार्यालय में इसके लिए दो कर्मचारियों की तैनाती की गई है।

प्रतिदिन सैकड़ों लोग मशीन को देखकर दिलचस्पी के साथ इसकी जानकारी ले रहे हैं। संपूर्ण मशीन का सेट इस प्रकार जमाया गया है कि जिस प्रकार मतदान के दौरान ईवीएम मशीन का उपयोग किया जाता है। मशीन के सेट में कंट्रोल यूनिट, बैलट यूनिट और वीपी पेट मशीन लगा हुआ है।

यह भी पढ़ें   छत्तीसगढ़ में भी गहराया बिजली संकट!

लोगों को पूरी प्रक्रिया की जानकारी इन कर्मचारियों द्वारा दी जाती है । लोकसभा चुनाव के मद्देनजर इन मशीनों का प्रदर्शन किया जा रहा है ताकि लोग मशीनों की जानकारी हासिल कर बेझिझक अपने मताधिकार का उपयोग कर सकें। कोई भी व्यक्ति कार्यालयीन समय में आकर मशीनों का अवलोकन कर प्रक्रिया समझ सकते हैं।

Continue Reading

छत्तीसगढ़

सुने मकान का ताला तोड़कर चोरी करने वाले आरोपी चोर को रतनपुर पुलिस द्वारा चंद घंटो में किया गया गिरफतार

avatar

Published

on

सोने- चाँदी के जेवर, टी.व्ही., रिसीवर, आधार कार्ड, भूमि संबंधी दस्तावेज, आयुष्मान कार्ड, बैंक पासबुक, नगदी रकम 21900 रूपये कुल कीमती 67900 रूपये।
गिरफ्तार आरोपी- विश्राम प्रसाद धीवर पिता गेंदराम धीवर उम्र 38 वर्ष निवासी मोहतराई थाना रतनपुर

मामले का संक्षिप्त विवरण इस प्रकार है कि दिनाँक 25/02/2024 को प्रार्थी रामचन्द्र धीवर निवासी मोहतराई का थाना उपस्थित आकर रिपोर्ट दर्ज कराया कि दिनाँक 15/02/2024 को प्रार्थी अपने घर में ताला लगाकर रिश्तेदार के घर में शादी कार्यक्रम में ग्राम पोंड़ी थाना सीपत चला गया था। दिनाँक 25/02/2024 को प्रार्थी का लड़का जो अलग रहता है, वह प्रार्थी को फोन कर बताया कि घर का ताला टुटा पड़ा है।

यह भी पढ़ें   छत्तीसगढ़ : पुलिस विभाग में बंपर तबादले, आदेश जारी

तब प्रार्थी अपने घर वापस आकर देखा तो घर के अंदर रखे टीना के पेटी में रखे सोने- चाँदी के जेवर, टी.व्ही., रिसीवर, आधार कार्ड, भूमि संबंधी दस्तावेज, आयुष्मान कार्ड, बैंक पासबुक, व नगदी रकम 26500 रूपये को कोई अज्ञात व्यक्ति चोरी कर ले गया है। कि रिपोर्ट पर थाना रतनपुर में अपराध पंजीबद्ध कर त्वरित कार्यवाही करते हुये थाना प्रभारी रतनपुर के दिशा निर्देशन पर टीम गठित कर दिनाँक 26/02/2024 को संदेही विश्राम प्रसाद धीवर को अभिरक्षा में लेकर हिकमत अमली एवं कड़ाई से पुछताछ करने पर उक्त मशरूका को चोरी करना स्वीकार किया तथा चोरी गये नगदी रकम मे से कुछ रकम खर्च करना बताने से आरोपी को गिरफ्तार किया गया है।

यह भी पढ़ें   छत्तीसगढ़ में भी गहराया बिजली संकट!

उक्त कार्यवाही में थाना प्रभारी रतनपुर देवेश सिंह राठौर, सउनि चन्द्रकांत डहरिया, प्र.आर. सत्यप्रकाश यादव आर. अजय भारद्वाज, कीर्ति पैकरा, आशीष राठौर, रूपचंद धलेन्द्र की विशेष भूमिका रही।

Continue Reading
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

Trending