Crypto Casino rama deals

  1. How The Random Number Generator Works In Rainbow Riches Pick'n'mix: Shares in the Mandarin Palace casino are held on a weekly basis.
  2. Alien Fruits Casinospel Online Toernooien - As you can see, they have been pretty busy since they began, and the legislation that was introduced has been seen to benefit both the players and the sites.
  3. Bonus Deposito Dragon Jackpot Roulettee: The Great Albini opens the car door to reveal his glamorous assistant, who leads the way into the majestic theatre.

Perth cryptocurrency casino poker

How The Random Number Generator Works In Rainbow Riches Pick'n'mix
Residents say they are prepared, whether it is a natural disaster or an economic one.
Ist Muertos Multiplier Megaways Auch In Mobilen Casino-Apps Verfügbar
The number of free spins varies and usually the higher the multiplier is the smaller the number of free spins is and vice versa.
Speaking of which, theres a whole list of eligible pokies on the site, which is really handy.

Lucky eagle crypto casino eagle pass texas

Rychlé Platby V Kasinu Flip The Chip
You will be awarded a win multiplier of between x2 and x5.
Gems Bonanza Kumarhanesi Kazanmanın En Iyi Yolları
Such is the diversity and skill required for games of HORSE that its been a variant for many of Americas richest cash games over the past 30 years.
Puoi Giocare A Piggy Riches Megaways In Un Casinò Dal Vivo?

Connect with us

क्राइम

शाकम्बरी सामाजिक कार्यक्रम मे धारदार हथियार दिखाकर अशांति फैलाने वाले एक आरोपी साहित पांच अपचारी बालकों के विरूद्व थाना कोनी द्वारा की गई कार्यवाही

avatar

Published

on

⏺️ एक आरोपी के साथ पांच विधि से संघर्ष बालकों के विरूद्व धारा -294, 506, 427, 34 भादवि, 25,27 आर्म्स एक्ट में आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर एवं अपचारी बालकों को बाल संप्रेक्षण गृह भेजा गया
⏺️ गिरप्तार आरोपी कुणाल पिल्ले उर्फ कल्लन थाना कोनी मे गुण्डा बदमाश की सूची मे है शामिल पूर्व मे हत्या, चोरी, बलवा, एवं मारपीट के 05 प्रकरण मे हुआ है गिरप्तार

⏺️ घटना में प्रयुक्त धारदार हथियार जप्त

नाम आरोपी – कुनाल पिल्ले उर्फ कल्लन उर्फ मोनू पिता राजू पिल्ले उम्र 24 वर्ष एवं 05 अपचारी बालकों सभी साकिनान बडी कोनी, थाना कोनी, जिला बिलासपुर(छ.ग.)

⏩⏩ मामले का संक्षिप्त विवरण इस प्रकार है कि दिनांक 27.01.2024 से पटेल सामाज की कुल देवी मां शाकम्भरी देवी की मूर्ति विर्सजन बडी कोनी पटेल मोहल्ला में की जा रही थी जिनकी पूजा पाठ पश्चात शाम करीबन 05.00 बजे विसर्जन का सामाजिक कार्यक्रम हो रहा था कार्यक्रम दौरान कुणाल पिल्ले उर्फ कल्लन पिता राजू पिल्ले एवं 05 आपचारी बालक निवासी सभी बडी कोनी के आकर डांस करने के नाम पर मां बहन की अश्लील गाली गलौच करने लगे समझाने पर उग्र होकर लोहे का चापड, धारदार फरसानूमा हथियार लेकर तथा हाथ मुक्का लोगों से झुमाझटकी करने लगे जिसकी रिपोर्ट पटेल समाज के द्वारा थाना मे आकर लिखित आवेदन देकर रिपोर्ट दर्ज कराया थाना कोनी पुलिस के द्वारा आरोपीगण का थाना के आसपास घूमते पाये जाने पर तत्काल पुलिस हिरासत मे लिया गया, थाना मे लाकर आरोपीयो से पूछताछ किया गया जिनमे से 05 अपचारी बालक होने पता चला जिनके विरूद्ध धारा -294, 506, 427, 34 भादवि 25, 27 आर्म्स एक्ट के तहत कार्यवाही कर आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड तथा 05 विधी से संघर्षरत बालकों को किशोर न्याय बोर्ड में पेश कर बाल संप्रेक्षण गृह पर भेजा गया है।

यह भी पढ़ें   Bilaspur: थाना कोटा पुलिस द्वारा निजात अभियान के अंतर्गत आबकारी एक्ट के तहत‌ की गई कार्रवाही

⏩⏩ उपरोक्त कार्यवाही में नगर पुलिस अधीक्षक सिटी कोतवाली पूजा कुमार (भापुसे) के निर्देशन पर थाना प्रभारी कोनी निरीक्षक गोपाल सतपथी, सउनि सुरेन्द्र तिवारी, प्र आर संतोष सिह, प्र आर सिद्धार्थ पाण्डेय, प्र आर रामशंकर पैकरा, आरक्षक चन्द्रशेखर सिह, आरक्षक विकास श्रीवास, आरक्षक चन्द्रशेखर मरकाम, आरक्षक रामायण राजपूत, आरक्षक रामकिशन सिदार, आरक्षक जितेन्द्र मिश्रा, आरक्षक सूरज कुर्रे, आरक्षक संतोष ठाकुर, आरक्षक अंकित जायसवाल, आरक्षक रोहित कौशिक, आरक्षक दुर्गेश यादव, आरक्षक आशीष शर्मा का सराहनीय योगदान रहा।

क्राइम

हिन्दू देवी-देवताओं पर आपत्तिजनक टिप्पणी कर रील बनाने वाला अभियुक्त गिरफ्तार

avatar

Published

on

फिरोजाबाद, 23 फरवरी (हि.स.)। थाना रजावली पुलिस टीम ने शुक्रवार को सोशल मीडिया पर हिन्दू देवी-देवताओं के बारे में आपत्तिजनक पोस्ट करने वाले अभियुक्त को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने उसे जेल भेजा है।

सीओ टूंडला अनिमेश कुमार ने शुक्रवार को बताया कि वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सौरभ दीक्षित द्वारा जनपद में सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट, टिप्पणी करने वालों के विरुद्ध चलाये अभियान चलाया जा रहा है। इसी क्रम में वरिष्ठ उपनिरीक्षक थाना रजावली विकल सिंह ढाका पुलिस टीम के साथ क्षेत्र में गश्त पर थे तभी उन्होंने सूचना पर सोशल मीडिया प्लेटफार्म (इन्स्टाग्राम) पर हिन्दू देवी देवताओं के ऊपर आपत्तिजनक टिप्पणी करते हुए रील वायरल करने वाले अभियुक्त अंकित जाटव पुत्र मलखान सिंह निवासी ग्राम गोथुआ थाना रजावली को गिरफ्तार कर लिया।

यह भी पढ़ें   बिलासपुर ब्रेकिंग: तोरवा थाना प्रभारी फैजुल शाह का हुआ तबादला, आदेश जारी

सीओ ने बताया कि गिरफ्तार अभियुक्त द्वारा अपने इंस्टाग्राम अकाउन्ट पर हिन्दू देवी-देवताओं के बारे में टिप्पणी करते हुये सोशल मीडिया पर वायरल किया गया था। जिसके सम्बन्ध में थाना रजावली पर मुकदमा पंजीकृत हुआ था आज अभियुक्त को गिरफ्तार कर आवश्यक विधिक कार्यवाही की गई है।

Continue Reading

क्राइम

गोवा मर्डर केस: जेल में बंद सूचना सेठ के बारे में आया नया अपडेट, वकील ने पुलिस की रिपोर्ट पर किया ये दावा

avatar

Published

on

गोवा (Goa) में सूचना सेठ नाम की एक महिला ने होटल के अंदर अपने ही चार साल के मासूम बेटे का बेरहमी से कत्ल कर दिया था. मामले में गिरफ्तारी होने के बाद से ही आरोपी और उसके घरवाले अदालत में ये साबित करने की कोशिश कर रहे हैं कि उसकी दिमागी हालत ठीक नहीं थी.

बता दें कि 15 फरवरी को गोवा पुलिस ने अदालत के समक्ष आरोपी की मेंटल असेसमेंट रिपोर्ट सौंपी थी, जिसमें कहा गया कि उसे कोई भी दिमागी बीमारी नहीं है. लेकिन अब सूचना सेठ के वकील, अरुण ब्रास डे सा (Arun Bras De Sa) ने कोर्ट के समक्ष दावा किया है कि सूचना सेठ मानसिक रूप से बीमार हैं और गोवा पुलिस द्वारा प्रस्तुत की गई उनकी मानसिक फिटनेस रिपोर्ट गलत है.

कोर्ट के सामने रखी ये मांग
सूचना सेठ के वकील ने कोर्ट से मांग की है कि उसके मानसिक स्वास्थ्य स्थिति की जांच करने के लिए मनोचिकित्सकों का एक मेडिकल बोर्ड गठित किया जाना चाहिए. इस बीच सरकारी वकील ने उनके बयान पर आपत्ति जताते हुए कहा कि मानसिक तौर पर सेठ पूरी तरह से स्वस्थ हैं.

यह भी पढ़ें   भिलाई : युवती की आपत्तिजनक तस्वीरें वायरल करने की धमकी, 40 हजार रुपये का डिमांड...

सूचना सेठ ने कैसे की थी बेटे की हत्या

सूचना सेठ अपने चार साल के बेटे के साथ तीन दिन के लिए गोवा घूमने गई थी. उसने बेंगलुरु से फ्लाइट पकड़ी थी. तीन दिन अलग-अलग जगह घूमने के बाद उसने एक होटल के कमरे में अपने बेटे की हत्या कर दी. गिरफ्तार होने के बाद सूचना ने पुलिस को यह भी बताया कि वह अपना हाथ काटकर आत्महत्या करना चाहती थी, लेकिन फिर मन बदल गया. हत्या करने के बाद उसने रात एक बजे 30 हजार रुपये में कैब करके होटल से बेंगलुरू के लिए निकल गई. अगली सुबह कमरे में खून मिलने पर मैनेजर ने कलिंगुट थाने की पुलिस को सूचना दी.
पुलिस ने सूचना को लेकर गए कैब के ड्राइवर को फोन करके कार को नजदीकी थाने में ले जाने को कहा. इसके बाद ड्राइवर ने कर्नाटक के चित्रदुर्ग इलाके के आईमंगला पुलिस स्टेशन में गाड़ी रोककर वहां के पुलिसकर्मियों की गोवा पुलिस से बात कराई. गोवा पुलिस ने महिला के सामान की तलाशी लेने को कहा और इनोवा कार में रखे बैग की तलाशी के दौरान उसमें बच्चे की लाश मिली. इसके बाद पुलिस ने सूचना सेठ को गिरफ्तार कर लिया.

यह भी पढ़ें   Bilaspur: कलेक्टर ने किया सिम्स अस्पताल का निरीक्षण, सामने बेतरतीब खड़े निजी एम्बुलैंस को हटाने दिए निर्देश

सूचना सेठ कौन है?

गोवा के एक होटल में अपने ही मासूम बेटे की हत्या करने वाली सूचना सेठ आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एथिक्स एक्सपर्ट, डेटा साइंटिस्ट और स्टार्टअप कंपनी माइंडफुल एआई लैब की फाउंडर और सीईओ है. दूसरी तरफ सूचना के पति के वकील का दावा है कि उसका स्टार्टअप अस्तित्व में ही नहीं है.

Continue Reading

क्राइम

Surat: प्रेम जाल में मकान मालिक को फंसाया. प्रेमी के साथ मिलकर चुराए 96 लाख रुपये, बंटी-बबली गिरफ्तार

avatar

Published

on

सूरत शहर के चौक बाजार पुलिस थाना क्षेत्र अंतर्गत रहने वाले दिलीप उकानी को किराएदार महिला से प्यार करना भारी पड़ गया था. किराएदार दो बच्चों की मां ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर दिलीप उकानी के घर से करीब 96 लाख रुपए लेकर रफू चक्कर हो गई थी.

इस मामले में चौक बाजार पुलिस ने केस दर्ज किया था. मामले की जांच के बाद पुलिस ने लाखों रुपए चुराने वाले बंटी और बबली को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने उनके पास से चोरी की गई रकम में से 70 लाख 50 हजार रुपये बरामद भी कर लिए हैं.

सूरत की चौक बाजार थाना पुलिस ने बताया कि 31 जनवरी 2023 को थाना क्षेत्र के तहत आने वाले सिद्धिविनायक अपार्टमेंट से 96 लाख 44 हजार रुपयों से भरे दो बैग चोरी होने की शिकायत मिली थी. मामले की जांच के बाद पुलिस ने जयश्री बेन भगत और उसके प्रेमी शुभम मिशाल को गिरफ्तार किया है.

पहले से जयश्री को थी प्लॉट बिकने की जानकारी

दोनों ने मिलकर दिलीप उकानी के घर से चोरी की थी. उसके घर के नीचे ही ग्राउंड फ्लोर ये लोग किराए से रहते थे. दिलीप फर्स्ट फ्लोर पर अकेला रहता था. मकान के ऊपर-नीचे रहने वाले दिलीप और जयश्री भगत के बीच जान पहचान थी. लिहाजा, जयश्री बेन भगत को पता था कि दिलीप उकानी का लाखों रुपए की कीमत का एक प्लॉट बिकने वाला है.

यह भी पढ़ें   बिलासपुर ब्रेकिंग: तोरवा थाना प्रभारी फैजुल शाह का हुआ तबादला, आदेश जारी

जयश्री बेन भगत ने दिलीप के साथ नजदीकियां बढ़ा लीं. उसने दिलीप से कहा था कि पति के साथ उसकी नहीं बनती है. वह दिलीप के साथ शादी कर उसके साथ रहने के लिए तैयार है. जयश्री बेन भगत की चिकनी चुपड़ी बातों में दिलीप आ गया था और फिर दोनों साथ-साथ रहने लगे थे. इस बीच कभी-कभी जयश्री भगत का प्रेमी शुभम भी उससे मिलने-जुलने आया करता था. इस बात को लेकर दिलीप ने जयश्री भगत के साथ नाराजगी भी जाहिर की थी.

घर में कैश की जानकारी प्रेमी को देकर बनाया प्लान

23 जनवरी 2023 को दिलीप के प्लॉट का सौदा हो गया था. प्लॉट बिकने के बाद दिलीप को मिले 96 लाख 44 हजार रुपए दो बैग में भरकर रख दिए थे. इन पैसों को हड़प करने के लिए 31 जनवरी को जयश्री बेन भगत ने अपने प्रेमी शुभम मिशाल के साथ प्लान बनाया.

जयश्री भगत ने दिलीप उकानी से कहा कि उसके पति के साथ उसकी नही बनती है, तो अपने दोनों बच्चो को उसके पास छोड़ कर आते हैं. जयश्री बेन भगत की बात पर दिलीप राजी हो गया. इसके बाद दोनों बच्चों को उसके पति के पास छोड़ने के लिए ऑटो में सवार होकर दिलीप और जयश्री निकल गए थे.

घर पहुंचकर दिलीप को चोरी का लगा पता

यह भी पढ़ें   Dhamtari News : धमतरी जिले के विधायक को गांव वालों ने खदेड़ा, डरकर उल्टे पांव भागे MLA साहब

इसी बीच प्लान के मुताबिक, जयश्री भगत ने इस बीच अपने प्रेमी शुभम को दिलीप के घर से नोटों से भरे बैग चुरा ले जाने के लिए कहा था. उधर, जब दिलीप जयश्री के दोनों बच्चों को उनके पिता के पास छोड़कर वापस लौटा, तो जयश्री वहां नहीं मिली. जब उसने जयश्री को फोन लगाया, तो उसने दिलीप का फोन भी नहीं उठाया. दिलीप को लगा कि कुछ गड़बड़ है. वह दौड़ते हुए अपने घर पहुंचा, जहां नोटों से भरे बैग रखे थे. वहां जाकर उसे पता चला कि घर से नोटों के बैग गायब हैं.

सीसीटीवी में नोटों का बैग ले जाते दिखा प्रेमी शुभम

दिलीप ने आस-पास के सीसीटीवी खंगाले, तो टोपी पहने एक शख्स शुभम का नोटों से भरा बैग ले जाता हुआ नजर आया. इसके बाद 31 जनवरी को दिलीप ने चौक बाजार पुलिस थाने में यह मामला दर्ज करवाया था. पुलिस की टीम ने बंटी-बबली की तफ्तीश शुरू कर दी. डीसीपी भगीरथ गढ़वी ने बताया कि इस बीच पुलिस को जानकारी मिली कि दोनों आरोपी सूरत आ रहे हैं. इस जानकारी के आधार पर इन दोनों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. दोनों के पास से चोरी किए गए 96 लाख 44 हजार रुपयों में से 70 लाख 50 हजार रुपये बरामद भी कर लिए गए हैं.

Continue Reading
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

Trending