Frequently called bingo numbers

  1. Trawler Fishin' With Big Jackpots To Win: Just click on the button with the coins on at the bottom of the screen.
  2. When Should You Play Lightning Roulette - Sometimes these games are called a Fruity or Fruities and are loved by high rollers and beginners alike.
  3. Πώς Να Παίξετε Το Παιχνίδι Chilli Heat Με Διαφορετικά Νομίσματα;: The least amount you can deposit to obtain this offer is 20 EUR.

Advanced blackjack strategy tips

Hogyan Lehet Pénzt Nyerni Az Gates Of Olympus Játékokban
New casinos often feature the most cutting-edge technology in terms of usability and the newest games in the business.
Parthenon Quest For Immortality Cashback
If you have played in a land casino in the past, you will not want to miss live dealer games.
The Cats & Cash slot machine is filled with a variety of feline breeds, and each one is just as entertaining as the next.

Igt slot machines online

Hogyan Maximalizálhatja Nyerési Esélyeit Az Cave Of Gold Nál
We collect it by fair and lawful means, with your knowledge and consent.
Bozo Cats Oyunu Sunan Kumarhanelerde Dolandırıcılıktan Nasıl Kaçınılır
Along with the pokies, there are many casino live games also available in 888 Casino.
Quali Sono Le Diverse Scommesse Disponibili Nel Gioco Soccer Goooooal?

Connect with us

जशपुर

बिलासपुर: ACCU व सिविल लाईन पुलिस की संयुक्त कार्यवाही, शातिर चोर चढ़े पुलिस की हत्थे… 42 लाख से अधिक की रकम जब्त

avatar

Published

on

बिलासपुर। दिनॉक 21.05.23 की प्रर्थीया सरजोनी साहू पति तुलसी राम निवासी अभिषेक नगर बिलासपुर थाना आकर रिपोर्ट दर्ज कराई कि दिनांक 21.05.2023 के सुबह 11.00 बजे अपने पविार के साथ बबल्स वाटर पार्क गये हुये थे,पडोसी द्वारा सूचना मिला की आपके मकान में चोरी हो गया है। सूचना मिलने पर वापस घर आकर देखने पर कमरे का ताला तोडकर आलमारी में रखे नगदी रकम एवं सोने चांदी के जेवर को कोई अज्ञात चोर चोरी कर ले गया।

रिपोर्ट पर थाना सिविल लाईन में अपराध पंजीबद्व किया गया। प्रकरण की गंभीरता को देखते हुये पुलिस अधीक्षक बिलासपुर द्वारा तत्काल निर्देशित करते हुये आरोपियो की धरपकड हेतू निर्देशित किया गया जिस पर अति.पुलिस अधीक्षक (शहर) एवं नगर पुलिस अधीक्षक (सिविल लाईन) के मार्गदर्शन में ए.सी.सी.यु.बिलासपुर एंव थाना सिविल लाईन की सयुक्त टीम गठित कर टीम रवाना किया गया।

पुलिस टीम द्वारा गंभीरता पूर्वक प्रकरण के नकाबकोश आरोपियो की खोजबीन की जा रही थी पुलिस टीम द्वारा घटना स्थल तथा आस-पास कालोनी एवं शहर एंव आउटर के मार्गो की सीसीटीव्ही कैमरा का अवलोकन किया गया सीसीटीव्ही फुटेज में एक नीले रंग के बिना नंबर के बुलेट मोटर सायकल में तीन नकाबकोश आरोपी एक एयर बैंग रखे हुये उसलापुर, धुरीपारा मंगला होते हुये रतनपुर के तरफ भागते हुये दिखाई दिये। उक्त आरोपियो का पीछा करने के लिये पुलिस टीम अलग-अलग दिशा में रवाना किया गया।

पुलिस टीम द्वारा खोजबीन करते हुये ग्राम सेलर एनीकट रोड के पास एक नीले रंग का बुलेट मोटर सायकल दिखाई दिया जिसे पीछा करते हुये घेराबंदी कर पकडा गया। मोटर सायकल में तीन व्यक्ति 1-सुरज विश्वकर्मा पिता रामाधार विश्वकर्मा उम्र 22 साल निवासी ग्राम गिधौरी थाना रतनपुर जिला बिलासपुर (छ.ग.) 2- विशु श्रीवास पिता राजकुमार श्रीवासी उम्र 20 साल निवासी गायत्री मंदिर के पास सरकण्डा थाना सरकण्डा 3- किशोरी लाल बंजारे पिता जोहन लाल बंजोर उम्र 25 साल निवासी ग्राम गिधौरी थाना रतनपुर जिला बिलासपुर मिले जिसमें पीछे बैठे विशु श्रीवास अपने कंधे में एयर बैंग लटकाया हुआ था। बैग की तलाशी लेने पर बैग के अंदर 25 लाख रूपय नगद एंव सोने चांदी के आभुषण बरामद किया गया।

यह भी पढ़ें   रोजगार सहायकों को कोविड अनुकूल व्यवहार के बारे में दिया जाएगा प्रशिक्षण, छत्तीसगढ़ के 9240 रोजगार सहायक होंगे प्रशिक्षित

उक्त आरोपियो को हिरासत में लेकर बारीकी से पुछताछ किया गया जिन्होने पुछताछ में पहले तो स्वंय घटना स्थल जाकर चोरी करना स्वीकार किये किन्तु उक्त तीनो आरोपियो से कडाई से पुछताछ करने पर तीनो आरोपियो ने बताया कि ग्राम नगपुरा का शिवदीप तिवारी हमारे पास आया और बोला की तुम तीनो लोगो को चोरी का आरोपी बनना है जिसके एवज में तुम लोगो को एक-एक लाख रूपय दुगंा और तुमको कोर्ट से छुडवाने का खर्चा मै करूंगा कहने पर तीनो आरोपियो द्वारा पैसे के लालच में आकर शिवदीप तिवारी द्वारा एक बैग में नगदी पैसा और सोने चांदी तथा घटना मंे प्रयुक्त मोटर सायकल को देकर आसपास क्षेत्र मे घुमने के लिये भेज दिया गया। उक्त तीनो आरोपियो द्वारा बताने पर प्रकरण के मास्टर माईंड अपराधी शिवदीप तिवारी का पतासाजी किया गया जो शिवदीप तिवारी को ग्राम नगपुरा से हिरासत में लेकर बारीकी एव कडाई से पुछताछ किया गया। जो पहले तो घटना करने से इंकार करता रहा तथा पुलिस को गुमराह करने की कोशिश किया जा रहा था।

किन्तु कडाई से पुछताछ करने पर आरोपी शिवदीप तिवारी टुट गया और बताया कि प्रार्थीया सरोजनी साहू की सगी बहन रूकमणी साहू निवासी लखराम द्वारा बताया गया कि उसकी बहन सरोजनी साहू वन विभाग में ठेकेदारी का काम करती है जो अनाप सनाप पैसा कमाकर अपनेे घर में बहुत बडी रकम एंव सोने चांदी के आभुषण रखी है। जिसे चोरी करने का प्लान बनाते है बोलने पर प्लान के मुताबिक रूकमणी साहू के घर में मै शिव साहू,गोलू कश्यप,गजेन्द्र कश्यप सभी लोग घटना करने के लिये मिंटीग किये उसके बाद दिनांक 21.05.2023 को रूकमणी साहू द्वारा अपनी बहन प्रार्थीया सरोजनी साहू के साथ बबल्स वाटर पार्क घुमने प्लान कर बबल्स वाटर पार्क चले गये। प्लान के मुताबिक शिवदीप तिवारी अपने साथी समेस कश्यप से बुलेट मोटर सायकल मांगकर तीनो आरोपी के साथ अभिषेक नगर पहुचे एवं प्रार्थीया एवं उनके परिवार वालो के बबल्स वाटर पार्क जाने के 5से 10 मिनट के अंदर ही आरोपी शिवदीप तिवारी,गोलू कश्यप व गजेन्द्र कश्यप के द्वारा एक नीले रंग के बिना नंबर के बुलेट मोटर सायकल में नकाबकोश होकर घटना स्थल पहुचे और पानी पीने के बहाने दरवाजा खुलवाकर घर अंदर दबीश दिये घर में केवल दो बुजुर्ग महिला थी, जिनका मुह बंद कर उपर के कमरे मे बंद कर दिया और नीचे के कमरे के आलमारी को ताला तोडकर आलमारी में रखे नगदी रकम एवं सोने चांदी के आभुषण को चोरी करना बताये । चोरी करने के बाद प्रकरण के मुख्य मास्टरमाईडं आरोपी शिवदीप तिवारी द्वारा चोरी किये गये रकम में से 25 लाख रूपय एवं कुछ सोने चांदी के आभुषण को फर्जी चोरी का आरोपी बनाकर सुरज,विशु,और किशोरी लाल बंजारे को देना बताया तथा चोरी किये गये रकम में से 15 लाख रूपय को स्वयं शिवदीप तिवारी द्वारा अपने साथ रखना तथा बाकी अन्य रकम को गोलु कश्यप को देना बताया।

यह भी पढ़ें   जगदलपुर : हरेली तिहार पर संसदीय सचिव और महापौर ने परंपरा के अनुसार की पूजा, लालबाग के एसआरएलएम सेंटर में दिखा पहले पर्व का उल्लास

मौके पर ही 80 हजार रूपय विशु श्रीवास को देना एंव प्लान तैयार करने में सहयोगी गजेन्द्र कश्यप को 50 हजार रूपय देना बताया। जिस पर प्रकरण में अन्य आरोपियो की खोजबीन करते हुये गजेन्द्र कश्यप एवं रूकमणी साहू को भी गिरफ्तार किया गया है। प्रकरण की विवेचना अब तक एक महिला आरोपिया सहित कुल 08 आरोपियो की गिरफ्तारी की गई है तथा आरोपियो से सोने चांदी के आभुषण किमती लगभग 3 लाख रूपये एवं नगदी रकम 4120000 रूपय बरामद कर जप्त किया गया है। प्रकरण में और 02 आरोपी फरार है तथा अन्य नगदी एवं सोने चांदी के आभुषण भी बरामद होने की संभावना है।


प्रकरण में प्रकरण की प्रार्थीया सरोजनी साहू द्वारा उक्त चोरी की प्रथम सूचना पत्र में सोने चांदी के आभुषण एवं 20 हजार रूपये चोरी होने का रिपोर्ट किया गया है। किन्तु चोरी के आरोपियो से भारी भरकम रकम एवं सोने चांदी के आभुषण बरामद होने पर प्रकरण की प्रार्थीया को तलब कर इस संबंध में पुछताछ किया गया जो अभी तक कोई स्पष्ठ जवाब नही दे पाई है। प्रकरण में प्रार्थीया वन विभाग में ठेकेदारी का काम करती है, जो उक्त रकम किसी बडे ठेकेदार या व्यापारी के होने की संभावना है। प्रकरण में पुछताछ एवं जांच जारी है। प्रकरण में और भी खुलासा होने की सभ्ंाावना है।

जशपुर

व्यक्तिगत व्यवहार व आदतों का पर्यावरण और जलवायु परिवर्तन पर प्रभाव विषय पर वाद-विवाद एवं युवा संसद का आयोजन

avatar

Published

on

रायपुर। छत्तीसगढ़ पर्यावरण संरक्षण मण्डल द्वारा कलिंगा विश्वविद्यालय, नवा रायपुर के संयुक्त तत्वाधान में व्यक्तिगत व्यवहार व आदतों का पर्यावरण और जलवायु परिवर्तन पर प्रभाव विषय पर वाद-विवाद एवं युवा संसद का आयोजन कलिंगा विश्वविद्यालय परिसर में किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ कलिंगा विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. आर. श्रीधर ने किया। प्रतियोगिता के प्रारंभ में सभी विद्यार्थियों एवं शिक्षकों को पर्यावरण संरक्षण की शपथ दिलाई गई।इस अवसर पर कुलपति डॉ. श्रीधर ने प्रकृति को बचाने के लिए युवाओं को आगे आने का आह्वान किया।

वरिष्ठ वैज्ञानिक अधिकारी डॉ. अनिता सावंत ने कहा कि वर्तमान में हमें अपने जीवन शैली में बदलाव लाते हुए उसे पर्यावरण के अनुकुल बनाने की जरूरत है। मण्डल के जनसंपर्क अधिकारी, अमर प्रकाश सावंत ने कहा कि हमें प्लास्टिक पॉलीथीन के उपयोग से बचना चाहिए और कपड़े या जूट के थैलों का इस्तेमाल करना चाहिए।

यह भी पढ़ें   सक्ती : नाका चौक से रेल्वे स्टेशन तक बन नई गौठान...

कार्यक्रम में कलिंगा विश्वविद्यालय, अमेटी विश्वविद्यालय, आई.आई.आई. टी., नवा रायपुर, पं. रविशंकर विश्वविद्यालय, महेन्द्र कर्मा विश्वविद्यालय एवं भिलाई इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी के कुल 30 विद्यार्थियों ने भाग लिया। इनमें से 10 विद्यार्थियों का चयन कर इन्हें ईस्ट जोन की प्रतियोगिता के लिए नई दिल्ली भेजा जाएगा। जहां यह प्रतियोगिता 01 व 02 जून को आयोजित की जाएगी।

Continue Reading

छत्तीसगढ़

जिला मुंगेली और जिला गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही की समीक्षा बैठक, पुलिस महानिरीक्षक ने दिए ये निर्देश

avatar

Published

on

कल दिनांक 03.08.2022 को रतन लाल डांगी, पुलिस महानिरीक्षक बिलासपुर द्वारा रेंज अंतर्गत जिला मुंगेली और जिला गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही के अजा/अजजा के राहत प्रकरण व लंबित अपराध, महिला व बच्चों संबंधी गंभीर अपराध, लंबित मर्ग एवं शिकायतें साथ ही अपराधों में पीड़ितों को ‘पीड़ित क्षतिपूर्ति योजना’ अंतर्गत क्षतिपूर्ति राशि प्रदाय किये जाने के संबंध में पुलिस अधीक्षक एवं राजपत्रित पुलिस अधिकारियों की वर्चुअल अपराध समीक्षा बैठक ली गई। 
    पुलिस महानिरीक्षक रतन लाल डांगी द्वारा जिलों के लंबित प्रकरणों की समीक्षा करते हुए विभिन्न बिन्दुओं पर कार्यवाही संबंधी निर्देश दिये गये। पुलिस महानिरीक्षक द्वारा इस बात पर विशेष बल दिया गया कि गंभीर किस्म के प्रकरणों में सतत विवेचना करते हुए यथाशीघ्र विधिसम्मत निराकरण किया जावे, प्रकरण लंबी अवधि तक विवेचना में लंबित न रहे। महिला संबंधी मामलों में तत्काल संज्ञान लेकर विधिसम्मत कार्यवाही किये जाने निर्देश दिये गये साथ ही इस बात पर विशेष बल दिया गया कि जिलों मे महिलाओं, बच्चों से संबंधित प्रकरणों में त्वरित कार्यवाही करते हुए समय-सीमा के भीतर त्वरित निराकरण किया जावे। अनु.जाति/अनु.ज.जाति के प्रकरणों तथा पीड़ित क्षतिपूर्ति योजना अंतर्गत प्रकरणों में पीड़ितों को राहत के प्रकरणों का विशेष रूचि लेकर निराकरण कराया जावे। जनता विरूद्ध एवं पुलिस विरूद्ध प्राप्त शिकायतों का भी प्राथमिकता के आधार पर जांच कराकर नियमानुसार कार्यवाही कराते हुए शिकायतों का त्वरित निराकरण किये जाने निर्देशित किया गया। 

    पुलिस महानिरीक्षक द्वारा जिले के थाना/चौकी में लंबित महिला एवं बच्चों से संबंधित अपराधों में सतत विवेचना कराते हुए 60 दिवस के भीतर निराकरण कराने एवं अपराधों का 60 दिवस की समयावधि के भीतर निराकरण नहीं होने पर संबंधित विवेचक की जिम्मेदारी निर्धारित करते हुए नियमानुसार अनुशासनात्मक कार्यवाही भी किये जाने निर्देशित किया गया। इसी प्रकार मर्ग प्रकरणों की समीक्षा करते हुए संबंधित राजपत्रित अधिकारियों को जिम्मेदारी देते हुए उन्हें स्वयं सभी लंबित मर्ग प्रकरणों की समीक्षा हेतु निर्देशित किया गया। मर्ग प्रकरणों में विलंब से अपराध पंजीबद्ध किये जाने पर संबंधित थाना प्रभारी, जांचकर्ता अधिकारी और न.पु.अधी. व पु.अनु.अधि. का स्पष्टीकरण लिया जाकर संबंधितों के विरूद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही हेतु पुलिस अधीक्षकों को निर्देश दिये गये। 

समीक्षा पर पाया गया कि जिला मुंगेली में दिनांक 1.5.2022 से दिनांक 15.7.2022 तक की अवधि में जिले में लंबित मर्ग 217 में से कुल 161 मर्ग प्रकरणों का निराकरण किया गया। इसी जिला गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही में लंबित 195 मर्ग में से कुल 142 मर्ग प्रकरणों का निराकरण किया गया। पुलिस महानिरीक्षक द्वारा जिला मुंगेली एवं जिला गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही द्वारा की गई इस कार्यवाही की सराहना करते हुए शेष मर्ग प्रकरणों का भी वैधानिक निराकरण किये जाने निर्देशित किया गया।
समीक्षा बैठक में जिला मुंगेली से पुलिस अधीक्षक चंद्रमोहन सिंह, उ.पु.अधी. लोरमी माधुरी धीरही, उ.पु.अधी.(मुख्या.) साधना सिंह, पु.अनु.अधि.मुंगेली एस.आर. धृतलहरे और उ.पु.अधी.(अजाक) एम.एम. मिंज तथा जिला गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही से अति.पु.अधी. अर्चना झा और पु.अनु.अधि. गौरेला अशोक वाडेगांवकर सहित रेंज कार्यालय बिलासपुर में पदस्थ अति.पु.अधी. दीपमाला कश्यप और उ.पु.अधी. माया असवाल उपस्थित रहीं।

यह भी पढ़ें   सक्ती : नाका चौक से रेल्वे स्टेशन तक बन नई गौठान...
Continue Reading

जशपुर

मुख्यमंत्री बघेल ने किसान भाइयों से अपनी खरीफ एवं उद्यानिकी फसलों का बीमा कराने की अपील की

avatar

Published

on

रायपुर| मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रदेश के सभी किसान भाइयों से अपनी खरीफ और उद्यानिकी फसलों का बीमा का बीमा कराने की अपील की है। मुख्यमंत्री ने किसान भाइयों के नाम जारी अपनी अपील में कहा है, कि मौसम की अनिश्चितता और स्थानीय प्राकृतिक आपदा की स्थिति में भी किसानों की आय बनी रहे, इसलिए फसलों को बीमित कराना जरूरी है। शासन द्वारा किसान भाइयों को फसल बीमा की सुविधा प्रीमियम राशि पर उपलब्ध कराई जा रही है । खरीफ फसलों के बीमा के लिए किसान भाइयों को प्रीमियम राशि का 2 प्रतिशत  और उद्यानिकी फसलों के बीमा के लिए प्रीमियम राशि का 5 प्रतिशत अंशदान के रूप में देना होता है । किसान भाई थोड़ी सी रूचि और थोड़ी सी राशि जमा कर अपनी फसलों का बीमा कराकर  बड़े जोखिम से बच सकते हैं। प्राकृतिक आपदा एवं मौसम की अनिश्चितता के चलते होने वाली फसल हानि,उत्पादन में कमी की भरपाई  मिलने बीमा दावा राशि से हो जाती है। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत किसान धान सिंचित एवं असिंचित ,अरहर, मूंग, उड़द, मक्का एवं उद्यानिकी फसलों का बीमा 15 जुलाई तक करा सकेंगे।

यह भी पढ़ें   सूरजपुर : स्वामी आत्मानन्द अंग्रेजी माध्यम विद्यालय ओड़गी में लाॅटरी माध्यम से प्रवेश 31 मई को


 मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि राज्य में खेती-किसानी को समृद्ध और किसानों को खुशहाल बनाना छत्तीसगढ़ सरकार की सर्वाेच्च प्राथमिकता है। छत्तीसगढ़ सरकार की किसान हितैषी नीतियों एवं योजनाओं को देश भर में सराहा जा रहा है। छत्तीसगढ़ की पहचान कृषि मॉडल राज्य के रूप में होने लगी है। किसानों को मदद पहुंचाने, उन्हें उनका हक दिलाने के मामले में छत्तीसगढ़ देश का अग्रणी राज्य है। छत्तीसगढ़ देश का पहला राज्य है, जिसने अपने किसानों को सबसे पहले रबी सीजन 2021-22 की फसल बीमा दावा राशि का भुगतान किया है। खरीफ सीजन शुरू होने से पहले ही हमने डेढ़ लाख से ज्यादा किसानों को उनके द्वारा दी गई प्रीमियम राशि के एवज में 304 करोड़ 38 लाख रुपए के क्लेम राशि का भुगतान किया है।

यह भी पढ़ें   ‘गुनाह साबित हुआ तो फांसी पर लटक जाऊंगा’: WFI चीफ

खरीफ सीजन 2021 में राज्य के 4 लाख से अधिक किसानों द्वारा दी गयी किसान प्रीमियम राशि के एवज में 758 करोड़ 43 लाख रुपए का भुगतान किया गया है । किसान भाइयों को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना और मौसम आधारित उद्यानिकी फसल बीमा योजना अंतर्गत दी जा रही सुविधाओं का लाभ उठाना चाहिए और जोखिम से बचने के लिए फसलों का अनिवार्य रूप से बीमा कराना चाहिए।

Continue Reading
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

Trending